Wow... इस वजाइनल रिंग को पहनने से टीनेज लड़कियों को कभी नहीं होगा HIV

By: Parul Rohatgi
Subscribe to Boldsky

चिकित्सकों ने वजाइना रिंग को पहले 18.45 उम्र की महिलाओं के लिए सुरक्षित बताया था लेकिन हाल ही में हुई एक रिसर्च के परिणाम में ये साबित हुआ है कि ये रिंग सुवा लड़कियों के लिए भी सुरक्षित होती हैं।

महिलाओं को एचआईवी इंफेक्शन से बचाने के लिए इस वजाईना रिंग का प्रयोग किया जाता है। वजाईना रिंग में प्रायोगिक एंटीरेट्रोवायरल ड्रग (ARV) होता है।

इससे बनी होती है डैपिविराइन रिंग

डैपिविराइन को टीएमसी-120 भी कहा जाता है। ये एआरवी से ही संबंधित होता है जिसे नॉन-न्यूक्लिओसाइड ट्रांसक्रिप्टेस कहा जाता है।

ये ट्रांसक्रिप्टेस एचआईवी को पैदा करने वाले एंजाइम को होने से रोकते हैं। ये एंजाइम एचाआईवी की प्रतिकृति का एक महत्वपूर्ण प्रोटीन होता है। डैपिविराइन फ्लैक्सिबल मटीरियल से बनी होती है।

 Vaginal Ring May Save Teenage Girls From HIV

शोधकर्ताओं का कहना है कि अगर यह वजाईना रिंग 18 उम्र से अधिक उम्र की महिलाओं के लिए सुरक्षित है तो हमारे पास इस बात की भी जानकारी है कि ये युवा महिलाओं के लिए भी सुरक्षित है। एचआईवी को आप 16 और 18 वर्ष की उम्र की लड़कियों के बीच अलग नहीं कर सकते हैं।

एचआईवी तो इन सभी में एक जैसा ही होता है। एचआईवी से बचाव के लिए सुरक्षा बहुत जरूरी है। वहीं सभी उम्र की महिलाओं को एचआईवी से सुरक्षा‍ मिलनी ही चाहिए।

सुरक्षा को लेकर नहीं मिला कोई नया परिणाम

इस अध्ययन में शोधकर्ताओं ने 15-17 साल की उम्र की लड़कियों को शामिल किया था। ये लड़कियां 6 महीने से महीने में एक बार डैपिविराइन रिंग (73) और प्लेसेबो रिंग (23) का प्रयोग कर रही थीं। डैपिविराइन रिंग और प्लेसेबो रिंग के बीच में सुरक्षा को लेकर कोई भी अंतर नहीं पाया गया।

प्रतिभागियों ने खुद इस रिंग का प्रयोग किया था और उन्होंने खुद ही शोधकर्ताओं को अपने अनुभव के बारे में बताया। 42 प्रतिशत प्रतिभागियों ने कहा कि उन्हें पूरे महीने में कभी भी इस रिंग को हटाने की जरूरत महसूस नहीं हुई। वो सिर्फ महीने में एक बार इसे बदलने के लिए हटाती थीं।

English summary

Vaginal Ring May Save Teenage Girls From HIV

A research has claimed that a vaginal ring, which was previously found to provide safe in earlier clinical trials, providing protection to women aged 18-45 against HIV infection.
Please Wait while comments are loading...