प्रेगनेंसी में बिछिया पहनने के फायदे

Subscribe to Boldsky

प्राचीन समय से ही भारतीय महिलाएं अपने पैर की उंगलियों में बिछिया पहनती हैं। आयुर्वेद के अनुसार पैरों में बिछिया पहनने के कई बड़े फायदे होते हैं। इसके पीछ कई वैज्ञानिक और आध्यात्मिक कारण भी हैं।

पीढ़ी दर पीढ़ी महिलाओं में बिछिया पहनने का प्रचलन आज भी है। विज्ञान और तकनीक के प्रगति करने के बाद भी आज तक बिछिया पहनने का चलन है। आज इस आर्टिकल में हम बताएंगे कि बिछिया पहनना गर्भवती महिलाओं के लिए फायदेमंद क्यों होता है।

Advantages Of Wearing Toe Ring In Pregnancy

ज्यादातर लोग जानते ही हैं कि शादीशुदा महिलाओं में बिछिया पहनने की परंपरा है। आइये जानते हैं कि आखिर बिछिया का महत्व क्यों है और गर्भवती महिलाओं को बिछिया क्यों पहनना चाहिए।

1. शांति प्रदान करने में

पैर की उंगलियों में चांदी की बिछिया पहनने से यह तनाव और चिंता से छुटकारा दिलाता है और मन को शांत रखता है। नियमित बिछिया पहनने से यह रक्त चाप की जांच करने में भी सहायक होता है। ब्लड प्रेशर बेहतर होने से महिला का गर्भ बिल्कुल स्वस्थ रहता है और उसे चिंता नहीं होती है। इसलिए गर्भवती महिलाओं को अपने पैर की उंगलियों में बिछिया जरूर पहनना चाहिए।

2. रक्त प्रवाह में

शरीर में खून की शिराएं सीधे पैरों की उंगलियों और गर्भाशय से जुड़ी होती हैं। इसलिए पैर की उंगली में बिछिया पहनने से गर्भ में पल रहे शिशु का शरीर मजबूत होता है। इसलिए गर्भवती महिलाओं को बिछिया पहनने की सलाह आमतौर पर दी जाती है। इससे उन्हें अपनी सेहत में फर्क दिखेगा।

3. एक्यूप्रेशर के रूप में

पैरों की उंगलियों और गर्भाशय का सीधा संबंध होता है। पैरों की उंगलियों पर पर्याप्त दबाव डालने से यह गर्भाशय के लिए अच्छा माना जाता है। महिला के शरीर में बच्चा उसके गर्भाशय में ही पलता है इसलिए बिछिया पहनने से यह एक्सूप्रेशर का काम करता है और बच्चे को स्वस्थ रखता है। अगर आप गर्भवती महिला हैं तो आपको जरूर बिछिया पहनना चाहिए।

4. एनर्जी प्रदान करने में

गर्भवती महिलाएं गर्भावस्था के दौरान आमतौर पर सिल्वर या मेटल की बिछिया पहनती हैं। हम सभी जानते हैं कि हर तरह का मेटल ऊर्जा का अच्छा सुचालक होता है। इसे पहनने के बाद जब गर्भवती महिलाएं जमीन पर टहलती हैं तो यह सकारात्मक ऊर्जा को अवशोषित कर लेता है है इस ऊर्जा को शरीर में ट्रांसफर करता है। शरीर का अंदरूनी हिस्सा गर्भाशय से जुड़ा होता है। इसलिए बिछिया पहनने से ऊर्जा मिलती है। शरीर को ऊर्जावान बनाने के लिए बिछिया जरूर पहनें।

5. मानसिक रूप से स्वस्थ रखने में

गर्भावस्था में महिलाओं को मानसिक रूप से स्वस्थ रहना बेहद जरूरी होता है। इस दौरान पैर की उंगलियों में बिछिया पहनने से यह मां के साथ बच्चे को भी मानसिक रूप से मजबूत बनाता है। इसके साथ ही मन को भी प्रसन्न रखता है। इसलिए यदि गर्भावस्था में आपको चिंता व तनाव का अनुभव होता है तो आपका पैरों में बिछिया पहनना चाहिए।

6. गर्भाशय को संतुलित रखने में

प्रेगनेंट महिलाओं के पैरों में बिछिया पहनने का एक कारण यह होता है कि यह ऊर्जा के प्रवाह को गर्भाशय में संतुलित करता है। यह गर्भाशय में बच्चे सहजता प्रदान करने में मदद करता है और गर्भाशय की समस्याओं को दूर करता है। गर्भाशय को स्वस्थ रखने के लिए बिछिया पहनना महत्वपूर्ण है।

7. मासिक धर्म नियमित बनाने में

मासिक धर्म में अनियमितता महिलाओं में एक बड़ी समस्या है। पैर की दूसरी उंगली की तंत्रिका का संबंध मासिक धर्म को नियमित करने में होता है। यह नर्व पर दबाव डालता है और पीरियड को रेगुलर करता है जिससे की प्रेगनेंट होने में आसानी होती है। इसलिए यदि आपका मासिक धर्म अनियमित है या प्रेगनेंसी में दिक्कत आ रही हो तो आपको बिछिया पहननी चाहिए।

English summary

प्रेगनेंसी में बिछिया पहनने के फायदे | Advantages Of Wearing Toe Ring In Pregnancy

According to the traditions and customs that we follow, the toe ring has its significance and it needs to be worn by every married woman. But little did we know what happens when you wear it specially when you are pregnant.
Story first published: Friday, February 23, 2018, 13:00 [IST]
We use cookies to ensure that we give you the best experience on our website. This includes cookies from third party social media websites and ad networks. Such third party cookies may track your use on Oneindia sites for better rendering. Our partners use cookies to ensure we show you advertising that is relevant to you. If you continue without changing your settings, we'll assume that you are happy to receive all cookies on Oneindia website. However, you can change your cookie settings at any time. Learn more