इन फिटनेस तरीकों से प्रेगनेंसी के लिए खुद को करें तैयार

Subscribe to Boldsky
Exercise during pregnancy is must for mother and baby, says Kareena Kapoor Khan |BoldSky

स्त्री ईश्वर की बनाई हुई सबसे सुंदर रचनाओं में से एक है। वास्तव में यह किसी चमत्कार से कम नहीं है कि एक स्त्री के अंदर इतनी क्षमता होती है कि वह एक नए जीवन को जन्म दे सकती है। माँ बनने का सफर हर औरत के लिए बेहद खास और भावनाओं से भरा होता है।

इस दौरान महिलाओं में न सिर्फ शारीरिक बदलाव होते हैं बल्कि कई तरह के हार्मोनल और मानसिक बदलावों से भी उन्हें गुज़रना पड़ता है। कुछ मामलों में औरतों को पूरे नौ महीने तक कई सारी परेशानियों का सामना करना पड़ता है जिन्हें झेलना वाकई बहुत मुश्किल होता है। ऐसे में इस तरह की चुनौतियों से निपटने के लिए बेहतर यही होता है कि गर्भधारण करने से पहले ही स्त्री अपने स्वास्थ का पूरा ध्यान रखे ताकि भविष्य में उसे सेहत को लेकर किसी भी तरह के मुश्किल हालातों से गुज़रना न पड़े।

fitness-dos-don-ts-getting-pregnant

हालांकि गर्भधारण करने से पहले किस प्रकार अपने फिटनेस पर औरतें ध्यान दे सकती हैं इस विषय पर बहुत कम जानकारी उपलब्ध होती है। इसी वजह से महिलाओं के दिमाग में कई सारी शंकाएं रहती है कि आखिर कैसे खुद को और आने वाले बच्चे को स्वस्थ रखा जाए। आखिरकार बच्चे की तंदरूस्ती भी सीधे माँ से ही जुड़ी होती है।

आपके फिटनेस के महत्त्व को समझते हुए आज हम अपने इस लेख में उन महिलाओं के लिए कुछ महत्वपूर्ण जानकारी लेकर आए हैं जो आने वाले समय में माँ बनने की योजना बना रही हैं। तो चलिए जानते हैं किस प्रकार आप माँ बनने से पहले खुद को फिट रख सकती हैं।

1. व्यायाम

2. डॉक्टर की सलाह का ना करें इंतज़ार

3. ज़्यादा व्यायाम करने से बचें

4. अपने वज़न पर दें ध्यान

5. सोने का समय तय कर लें

6. खाने पीने पर ज़्यादा ध्यान दें

7. टहलना

8. पेट और पीठ की मांसपेशियों को मज़बूत करें

1. व्यायाम

आपको इस बात का पता होना चहिए कि आपके शरीर को प्रसव पीड़ा झेलने के लिए हर तरीके से मज़बूत होना पड़ेगा। गर्भधारण करने के बाद आप अपना और आने वाले बच्चे का ध्यान रखने में इतनी व्यस्त हो जाएंगी कि आपके पास खुद को इतना मज़बूत करने का समय ही नहीं मिल पायेगा। गर्भावस्था में आप हर तरह का व्यायाम नहीं कर सकतीं हालांकि अगर आप उन महिलाओं में से हैं जो प्रतिदिन व्यायाम करती हैं तो फिर आपके लिए सब कुछ ज़्यादा आसान रहेगा। लेकिन यदि आप हर रोज़ व्यायाम नहीं करती और एक हेल्दी प्रेगनेंसी चाहती हैं तो आप व्यायाम को अपनी रूटीन का हिस्सा बना लें।

2. डॉक्टर की सलाह का ना करें इंतज़ार

कई महिलाएं ऐसी भी होती हैं जो व्यायाम शुरू करने से पहले डॉक्टर की सलाह का इंतज़ार करती हैं जो बिल्कुल गलत है। यदि आप प्रेगनेंट नहीं है तो आप बिना डरे सामान्य व्यायाम कर सकती हैं इसलिए बेहतर यही होगा कि आप इधर उधर की बातों पर ध्यान देकर अपना समय न गवाएं और फौरन व्यायाम करना शुरू कर दें।

3. ज़्यादा व्यायाम करने से बचें

किसी भी चीज़ की अति अच्छी नहीं होती ऐसा आपने सुना ही होगा। माँ बनना कितने बड़े सौभाग्य की बात होती है और इससे जुड़ी आपकी भावनाओं को हम बहुत अच्छे से समझते हैं। अपने बच्चे की भलाई के लिए आप किसी भी चीज़ में कोई कसर नहीं छोड़ना चाहेंगी। हो सकता है खुद को फिट रखने के लिए आप हद से ज़्यादा व्यायाम करने लगें। यदि आप ऐसा करती हैं या फिर ऐसा करने की सोच रही हैं तो यह किसी भी तरह से आपके लिए सही नहीं है।

अगर पहले आप व्यायाम नहीं करती थी तो आप हल्के फुल्के व्यायाम से इसकी शुरूआत कर सकती हैं। यदि आपने साइकलिंग करने का निर्णय लिया है तो फिर वही करें ना कि फिर स्विमिंग के लिए भी जाएं। अधिक व्यायाम न सिर्फ आपको शारीरिक रूप से थका देगी बल्कि गर्भधारण में भी समस्या उत्पन्न करेगी।

4. अपने वज़न पर ध्यान दें

स्त्री रोग विशेषज्ञों के अनुसार स्त्री का कम या ज़्यादा वज़न गर्भधारण करने में समस्या खड़ी करता है इसलिए अगर आप स्वस्थ प्रेगनेंसी चाहती हैं तो इसका सबसे आसान उपाय है बीएमआई। इससे गर्भधारण करने से पहले और बाद में पूरे नौ महीने आपको सही वज़न बनाए रखने में आसानी होगी। इसलिए इस बात का हमेशा ध्यान रखें कि गर्भधारण करने से पहले आपका वज़न भी सही होना बेहद ज़रूरी है।

5. सोने का समय तय कर लें

फिट रहने के लिए जितना ज़रूरी व्यायाम है उतनी ही ज़रूरी भरपूर नींद भी है। हम समझते हैं कि प्रेगनेंसी के दौरान कुछ शारीरिक और हार्मोनल बदलाव के कारण कई सारी दिक्कतें आती है। इस परेशानी का हल सिर्फ यह है कि आप गर्भधारण के पूर्व अपने सोने का समय तय कर लें। सामान्य तौर पर प्रतिदिन एक इंसान को 8 घंटे की नींद ज़रूरी होती है। सुनिश्चित करें कि आप हर रोज़ इतनी नींद ज़रूर लें। यदि आप लगातार 8 घंटे नहीं सो पा रही हैं तो थोड़ी थोड़ी देर मिलाकर अपने 8 घंटे की नींद को पूरा करें।

6. खाने पीने पर ज़्यादा ध्यान दें

गर्भावस्था के दौरान या गर्भधारण के पहले भी आपको अपने खाने पीने का ख़ास ध्यान रखना चाहिए। समय पर भोजन करें और अपने खाने में हरी सब्जियां और फलों की मात्रा अधिक रखें। यदि आप अपने खाने पीने का ध्यान रखेंगी तो इससे गर्भावस्था के शुरुआती दौर में मॉर्निंग सिकनेस का प्रभाव कम हो जाएगा।

7. टहलना

टहलना व्यायाम का सबसे अच्छा तथा बेहतरीन तरीका है और यह हर किसी के लिए फायदेमंद होता है। हालांकि गर्भावस्था के दौरान यदि आपको जी मिचलाना, उल्टी या फिर पैरों में सूजन जैसी शिकायत हो रही है तो ऐसे में यह थोड़ा मुश्किल होता है। बेहतर होगा कि आप बच्चे की प्लानिंग करने से पहले ही इसे अपनी दिनचर्या का हिस्सा बना लें।

अगर आप पहले से ही इसे अपनी आदत बना लेंगी तो प्रेगनेंसी में यह आपके लिए बेहद आसान होगा। गर्भधारण करने से पहले आप कम से कम 500 मीटर तक टहलें फिर धीरे धीरे इसे बढ़ाकर 3 किलोमीटर से 4 किलोमीटर तक आप कर सकती हैं।

8. पेट और पीठ की मांसपेशियों को मज़बूत करें

प्रेगनेंसी में धीरे धीरे आपके पेट का आकार बढ़ता जाता है साथ ही आपके स्तनों का भी। ऐसे में इसका दबाव आपकी पीठ और पेट की मांसपेशियों पर पड़ता है इसलिए आपको ऐसे व्यायाम करने चाहिए जिससे आपकी मांसपेशियां मज़बूत हो जाएं ताकि प्रेगनेंसी के दौरान होने वाले दर्द से आपको कुछ हद तक राहत मिले।

For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS
For Daily Alerts

    English summary

    Fitness Dos and Don'ts For Getting Pregnant

    This article talks about the dos and don’ts that women who are planning to conceive a child should inculcate in their lives. Read on.
    Story first published: Thursday, July 12, 2018, 13:30 [IST]
    We use cookies to ensure that we give you the best experience on our website. This includes cookies from third party social media websites and ad networks. Such third party cookies may track your use on Boldsky sites for better rendering. Our partners use cookies to ensure we show you advertising that is relevant to you. If you continue without changing your settings, we'll assume that you are happy to receive all cookies on Boldsky website. However, you can change your cookie settings at any time. Learn more