प्रेगनेंसी के दौरान वजन बढ़ाने के बारे में ये बातें आपको मालूम होनी चाहिए

By Deeksha Mishra
Subscribe to Boldsky

गर्भावस्था के दौरान वजन बढ़ना सामान्य है क्योंकि आपके बच्चे का विकास हो रहा होता है। हालांकि, यह केवल आपके बच्चे के विकास का कारण नहीं है बल्कि आपका शरीर एक अतिरिक्त ऊतक विकसित कर रहा होता है, जिसमें बड़े स्तन और गर्भाशय शामिल हैं, जिसमें प्लेसेंटा, अतिरिक्त तरल पदार्थ और रक्त भी शामिल है।

हालांकि यह महत्वपूर्ण है कि आप गर्भावस्था के दौरान अच्छी तरह से खाएं, ताकि आपके बच्चे को स्वस्थ शुरुआत मिल सके। अक्सर लोगों की अवधारणा होती है कि 'दो के लिये खाना'। इस तरह के माइंड-सेट से आपको केवल गर्भावस्था के दौरान अतिरिक्त वजन प्राप्त करने का मौका मिलेगा, जिसे बाद में कम करना मुश्किल हो सकता है।

weight gain during pregnancy month by month

यहां हम आपको प्रेग्नेंसी के दौरान वजन बढ़ने के लाभ और उसे मैनेज करने के बारे में बताने जा रहे हैं।

गर्भावस्था के दौरान वजन बढ़ाने वाले कारक:

जबकि गर्भावस्था के दौरान अधिकांश महिलाओं का वजन 12 किलोग्राम से 16 किग्रा बढ़ता है, गर्भावस्था के दौरान आपका वजन बढ़ना निम्नलिखित कारकों से प्रभावित हो सकता है:

गर्भावस्था के दौरान आपका वजन बढ़ना आपके पूर्व-गर्भावस्था के वजन पर भी निर्भर हो सकता है। उदाहरण के लिए, यदि आप प्रेग्नेंसी से पहले कम वजन वाले थे, तो आपको थोड़ा और वजन बढ़ाने की आवश्यकता हो सकती है। दूसरी तरफ, यदि आप अधिक वजन रखते हैं, तो आपको सावधानीपूर्वक अपना वज़न बढ़ाना चाहिए।

यदि आपके जुड़वा हैं तो प्रेग्नेंसी के दौरान आदर्श वजन बढ़ाना आपके लिए मुश्किलभरा काम होगा।

गर्भावस्था के दौरान जब आप सुबह मितली और बीमारी से जूझ रहे हो तो आप शुरूआत में वजन कम कर सकते हैं, और एक बार जब आप चार महीने बाद इस बीमारी से उबर आएं तो अपना वजन बढ़ाने की शुरूआत कर सकते हैं।

यह प्री-प्रेग्नेंसी बॉडी मास इंडेक्स (बीएमआई) और आपके दैनिक ऊर्जा सेवन पर भी निर्भर करता है।

गर्भावस्था के दौरान आदर्श वजन क्या होना चाहिए?

गर्भावस्था के दौरान, आप तिमाही में वजन बढ़ा सकती हैं। लेकिन आपको प्रत्येक तिमाही के दौरान आदर्श वजन बढ़ाने के बारे में अवगत होना चाहिए। ऐसा इसलिए है क्योंकि, गर्भावस्था के दौरान वजन बढ़ने से, मां और बच्चे के स्वास्थ्य पर गहरा असर पड़ सकता है।

गर्भावस्था की शुरुआत में, अपने बॉडी मास इंडेक्स (बीएमआई) की जांच करना आवश्यक है, और इसके आधार पर, आप स्वस्थ वजन बढ़ाने के कार्यक्रम की योजना बना सकते हैं। बीएमआई आपकी ऊंचाई और वजन के आधार पर शरीर की वसा जांचने का एक तरीका है, और यह निर्धारित करने में मदद करता है कि आप कम वजन वाले, सामान्य या अधिक वजन वाले हैं या नहीं।

अपने बीएमआई को खोजने के लिेए, अपने वजन को किलोग्राम में, ऊचांई को मीटर में बांट लें, और आपको अपना BMI मिल जाएगा।अन्यथा, वैल्यू जानने के लिए ऑनलाइन बीएमआई कैलक्यूलेटर का उपयोग करें।

यदि आपका प्रेग्नेंसी से पहले सामान्य वजन है तो आपका वजन बढ़ाना आदर्श रूप से 11.5 किलोग्राम और 16 किलोग्राम के बीच होना चाहिए। इसे डिलीवरी तक हर महीने 1.5 किलोग्राम से 2 किलो वजन में विभाजित किया जा सकता है। यदि प्रेग्नेंसी से पहले आपका वजन अधिक है तो आपको कम वजन बढ़ाना होगा। अन्यथा, यदि आप कम वजन रखते हैं, तो आप और अधिक प्राप्त कर सकते हैं।

गर्भावस्था के दौरान अपना वजन कैसे बढ़ाएं?

आपके वजन के बावजूद, यह बहुत महत्वपूर्ण है कि आप एक स्वस्थ, पौष्टिक आहार खाते हैं जिसमें फलियां, अनाज, मछली, मांस और कम वसा वाले डेयरी उत्पादों के अलावा ताजा सब्जियां, साबुत अनाज और ताजे फल सम्मिलित होते हैं। ऐसा इसलिए है क्योंकि ये खाद्य पदार्थों प्रेग्नेंसी के दौरान आपका वजन बढ़ाने में आपकी मदद करेंगे। स्वस्थ पोषक तत्वों के लिए हमेशा अपना आहार जांचें, क्योंकि आपके और आपके बच्चे को स्वस्थ रहने के लिए यह आवश्यक है। इससे आपके बच्चे को पर्याप्त आयरन, फोलिक एसिड, कैल्शियम, आयोडीन और प्रोटीन के साथ स्वस्थ शुरुआत करने में भी मदद मिलेगी।

इस बीच आपको नियमित रूप से कुछ प्रेग्नेंसी एक्सरसाइज भी शामिल करनी चाहिए। जैसे- चलना। यदि आप योग-उत्साही हैं, तो अपने डॉक्टर और अपने योग प्रशिक्षक से उचित अभ्यास के बारे में बात करें जो अतिरिक्त वजन बढ़ने के बिना आपके शरीर को लचीला रखने में आपकी मदद कर सकती है। सख्ती से तले हुए भोजन, फ्रोजन फूड्स, फैटी और पेय पदार्थों से बचें। गर्भावस्था के शुरूआती दिनों में आपको डिहाइड्रेशन हो सकता है क्योंकि आप मितली करते हैं इसलिये जरूरी है कि आप दिन में लगभग दो लीटर पानी पीएं। यदि आप पर्याप्त तरल पदार्थ बनाए रखने में असमर्थ हैं तो अपने डॉक्टर से बात करें।

गर्भावस्था के दौरान आदर्श वजन प्राप्त करना एक महत्वपूर्ण पहलू है। सामान्य से अधिक वजन प्राप्त करने से मां और बच्चे के लिए कुछ स्वास्थ्य समस्याएं भी हो सकती हैं, जैसे गर्भावस्था के दौरान मधुमेह, उच्च रक्तचाप संबंधी विकार और प्री-टर्म डिलीवरी का जोखिम, और यदि आप वजन कम बढ़ाते हैं तो आपक बच्चा अंडरवेट पैदा हो सकता है।

इसलिए, यह महत्वपूर्ण है कि आप अपने डॉक्टर से गर्भावस्था के इस महत्वपूर्ण पहलू पर जरूर चर्चा करें, और आदर्श शरीर के वजन का आकलन करने के लिए डिलीवरी से पहले नियमित जांचें करवाते रहें। हालांकि, अपने वजन के बारे में ज्यादा तनाव न लें। पौष्टिक आहार, अच्छी तरह से आराम करें, सक्रिय रहें और अपनी गर्भावस्था के वजन बढ़ाने के बारे में अपने डॉक्टर की सलाह का पालन जरूर करें।

For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS
For Daily Alerts

    English summary

    प्रेगनेंसी के दौरान वजन बढ़ाने के बारे में ये बातें आपको मालूम होनी चाहिए | What You Should Know About Weight Gain During Pregnancy

    While it is important that you eat well during pregnancy, so as to give your baby a healthy start, the 'eating for two' concept is a myth. Such a mind-set will only lead you to gain excess weight during pregnancy, which you may find difficult to shed later on.
    Story first published: Monday, July 2, 2018, 9:00 [IST]
    We use cookies to ensure that we give you the best experience on our website. This includes cookies from third party social media websites and ad networks. Such third party cookies may track your use on Boldsky sites for better rendering. Our partners use cookies to ensure we show you advertising that is relevant to you. If you continue without changing your settings, we'll assume that you are happy to receive all cookies on Boldsky website. However, you can change your cookie settings at any time. Learn more