भगवान गणेश को खुश करें काजू मोदक खिला कर

Posted By:
Subscribe to Boldsky

गणेश चतुर्थी अब बस कुछ ही दिनों में आने वाली है। इस खास दिन के लिये भक्‍तों में बड़ा ही उत्‍साह रहता है। वे किसी ना किसी तरीके से गणेश जी को मन मोहक मिष्‍ठान खिला कर उन्‍हें प्रसन्‍न करना चाहते हैं। इस दिन के लिये अगर आप कुछ खास बनाने की चाह रखती हों, तो आप गणेश जी को उनका मन पसंद काजू के मोदक बना कर खिलाएं। काजू के मोदक बडे़ ही स्‍वादिष्‍ट होते हैं। यहां पर काजू मोदक बनाने की सबसे सरल विधि।

गणपति बप्‍पा के लिये मूंग दाल मोदक

कितने- 25 मोदक

तैयारी में समय- 30 मिनट

पकाने में समय- 30 मिनट

Kaju Modak Recipe For Ganesh Chaturthi

सामग्री-

  • 1.5 कप काजू पावडर
  • 1 कप शक्‍कर पावडर
  • 1/2 कप मावा या मिल्‍क पावडर
  • 1/2 चम्‍मच इलायची पावडर
  • 1 चम्‍मच घी
  • 1 चम्‍मच कार्न स्‍टार्च
  • 3 चम्‍मच गरम दूध

विधि-

  1. 500 ग्राम काजू ले कर उन्‍हें मिक्‍सी में पीस कर पावडर बना लें।
  2. एक बडे़ बर्तन या भगौने में पानी भर कर गैस पर चढ़ा दें। फिर उस पर एक कढाई रख कर उसमें मावा या फिर मिल्‍क पावडर रखें।
  3. ऐसा करने से आपका मावा जलेगा नहीं।
  4. फिर इसमें काजू पावडर और शक्‍कर का बूरा डालें।
  5. जब यह सामग्री गरम होने लगे तब इसमें इलायची पावडर और कार्न स्‍टार्च डाल कर चलाएं।
  6. फिर 1 चम्‍मच घी डाल कर मिश्रण को 10 मिनट तक मिक्‍स करती रहें।
  7. अब मिश्रण को उठा कर एक कटोरे में पलट लें।
  8. फिर इसमें एक एक चम्‍मच कर के दूध मिक्‍स करती जाएं। ऐसा इसलिये क्‍योंकि खुद ही अपना तेल छोड़ने लगता है, जिससे आटे में नमी ज्‍यादा होने का डर बना रहता है।
  9. मोदक का मिश्रण थोड़ा कठोर होना चाहिये।
  10. अब आटे को मिक्‍स करने के बाद उसमें से एक छोटा सा टुकड़ा ले कर हथेली पर मोदक का आकार दें।
  11. अब इसी तरह से कई मोदक बना लें। फिर इसे 15 मिनट के लिये ठंडा होने के लिये रखें।
  12. लीजिये बन गए आपके स्‍वादिष्‍ट काजू वाले मोदक। इन्‍हें तीन दिनों के अंदर खतम कर दीजियेगा या फिर इन्‍हें फ्रिज में रख कर खाइयेगा।
English summary

Kaju Modak Recipe For Ganesh Chaturthi

With Ganesh Chaturthi approaching fast, here is the recipe of delicious kaju modak. Different types of modaks are made during the festival as it is believed that they are most the favorite sweets of Lord Ganesha.
Story first published: Friday, August 22, 2014, 17:24 [IST]
Please Wait while comments are loading...