क्‍या हम जीवनसीमा के उच्‍च स्‍तर पर हैं

By Lekhaka
Subscribe to Boldsky

चुनौतियां सिद्धांतों का कहना है कि मानव जीवन काल एक सीमा तक पहुंच रहा है, शोधकर्ताओं ने पाया है कि अभी कोई भी प्रमाण नहीं मिला है कि मानव जीवन की सीमा बढ़ना बंद हो गई है। इस बारे में कुछ भी निश्चित नहीं कहा जा सकता है।

पिछले अध्ययनों में शोधकर्ताओं ने निष्कर्ष निकाला है कि मानव उम्र की उच्‍चतम सीमा करीब 115 वर्ष है।

lifespan

हालांकि, नेचर जर्नल में प्रकाशित हुए नए अध्‍ययन में, एक निष्‍कर्ष निकला था कि ऐसी कोई लिमिट निर्धारित नहीं किया गया है।

कनाडा में मैकगिल यूनिवर्सिटी के साइगफ्रेड हेकीमी जीवविज्ञानियों ने कहा, "यदि इस तरह की अधिकतम सीमा मौजूद है, तो यह अभी तक हम उस तक पहुंचे या नहीं, इसके बारे में सही से पता नहीं चला है।"

इस बारे में हकीमी का कहना है कि हमें नहीं ज्ञात है कि उम्र सीमा अधिकतम कितनी हो सकती है। हम वर्तमान में अधिकतम आयु और जीवन सीमा का पता लगा सकते हैं ये अधिकतम स्‍तर पर है, इसके बारे में ज्ञात करना मुश्किल है।

यद्यपि कुछ वैज्ञानिक तर्क देते हैं कि जीवन जीने की परिथितियों को प्रौद्योगिकी, चिकित्सा के द्वारा बढ़ाया जा सकता है।

लेकिन ये अधिकतम है या नहीं, इस बारे में जानना बहुत मुश्किल है। ऐसा माना जाता है कि आज से तीन सौ साल पहले लोगों की आयु बहुत कम होती थी, लेकिन अब सुविधाओं और चिकित्‍सा का अभाव था। लेकिन अब औसत आयु 100 हो गई है जो कि आधुनिक सुविधाओं का परिणाम भी हो सकता है।

For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS
For Daily Alerts

    English summary

    क्‍या हम जीवनसीमा के उच्‍च स्‍तर पर हैं | No Evidence On Limit On Human Lifespan

    Challenging theories that say human lifespan is approaching a limit, researchers have found that there is no evidence that maximum human lifespan has stopped increasing and could instead far exceed previous predictions.
    Story first published: Monday, July 10, 2017, 11:45 [IST]
    We use cookies to ensure that we give you the best experience on our website. This includes cookies from third party social media websites and ad networks. Such third party cookies may track your use on Boldsky sites for better rendering. Our partners use cookies to ensure we show you advertising that is relevant to you. If you continue without changing your settings, we'll assume that you are happy to receive all cookies on Boldsky website. However, you can change your cookie settings at any time. Learn more