For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS  
For Daily Alerts

इस चायनीज थेरेपी से दूर करे शरीर से जुड़ा हर दर्द, PMS और थाइराइड का भी करता है इलाज

|

आए दिन शरीर के किसी न किसी हिस्‍से में दर्द उठ जाता है। हम हर तरह के दर्द के लिए तो डॉक्‍टर के पास नहीं जाते और यहीं हम गलत हो जाते हैं। हमें पता भी चलता कि ये दर्द कब हमारी पूरी जिंदगी के लिए मुसीबत बन जाता है लेकिन आज हम आपको इस संदर्भ में एक अच्छी खबर देने जा रहे हैं। अब आपको अपने दर्द को दूर करने के लिए वाकई में डॉक्टर से मिलने की आवश्यकता नहीं है। इस प्रकार की सभी प्रकार की समस्याओं से निपटने के लिए आज हम आपको किफायती, आसान और प्रभावी चीनी थेरेपी लेकर आए हैं।

चीनी चिकित्‍सा के अनुसार आपकी खोपड़ी के ठीक नीचे गर्दन (गर्दन और सिर के मिलने वाली जगह पर एक छेद जैसा बिंदु) को 'फेंग फू' या 'विंड शेल्टर' कहा जाता है। फेंग फू से कई स्वास्थ्य समस्‍याओं का उपचार किया जा सकता है इसलिए सभी प्रकार की चिकित्साओं में ये बिंदु बहुत लोकप्रिय है।

 कैसे करें ये थेरेपी

कैसे करें ये थेरेपी

इस थेरेपी के लिए आपको बस एक आइस क्यूब और एक स्कार्फ/जिप लॉक की जरूरत है। पहले पेट के बल लेट जाएं और 20 मिनट के लिए फेंग फू बिंदु पर एक आइस क्यूब रखें। बर्फ को पकड़ने के लिए एक स्कार्फ का उपयोग कर सकते हैं। इस दौरान आप बैठ और घूम सकते हैं। आप बर्फ को जिप लॉक में भी रख सकते हैं और इसे अपनी गर्दन के चारों ओर रख सकते हैं ताकि पानी न फैले।

कैसे काम करती है ये थेरेपी

कैसे काम करती है ये थेरेपी

आइस पैक डालते ही आपको बर्फीली ठंड का अहसास हो सकता है लेकिन 30-40 सेकेंड के अंदर तापमान ऊपर जाता हुआ महसूस होगा। यदि आप नियमित रूप से इस जगह पर आइस क्यूब रखते हैं, तो आपका शरीर फिर से स्‍वस्‍थ रह सकता है, यह बीमारियों को रोकता है और आपको स्वस्थ एवं ऊर्जावान बनाता है। बेहतर परिणामों के लिए, ये थेरेपी दिन में दो बार सुबह खाली पेट और रात को सोने से पहले करें।

सिरदर्द से छुटकारा

सिरदर्द से छुटकारा

लगभग सभी लोग कभी-कभार सिरदर्द से परेशान होते ही हैं। बर्फ की यह चीनी चिकित्सा सिरदर्द से भी राहत दिलाती है और सिरदर्द होने से रोकने में मदद करती है।

 पीएमएस को करे कंट्रोल

पीएमएस को करे कंट्रोल

वैसे तो पीएमएस के लक्षणों को कम करने के के लिए बहुत सारी दवाएं मौजूद हैं लेकिन यह आइस क्यूब थेरेपी दवाओं की तुलना में सस्ती और काफी आसान है। कहा जाता है कि फेंग फू का महिलाओं के मासिक धर्म के साथ सीधा संबंध है और यही कारण है कि यह पीएमएस में भी मदद कर सकता है।

थायराइड का इलाज

थायराइड का इलाज

थायरॉयड को चिकित्सा की आवश्यकता होती है लेकिन दवा के साथ-साथ फेंग फू थेरेपी करने से भी आप इस बीमारी से जल्‍दी छुटकारा पा सकते हैं। थायराइड होने पर कई अन्‍य स्‍वास्‍थ्‍य समस्‍याओं से भी जूझना पड़ता है। इसलिए बेहतर होगा कि आप इस बीमारी को नियंत्रित करने के लिए प्राकृतिक चिकित्सा की मदद लें।

नींद में सुधार

नींद में सुधार

चीनी चिकित्सा के अनुसार, फेंग फू थेरेपी नींद की गुणवत्ता और मात्रा में सुधार लाने में सहायक है। यदि आप गहरी नींद नहीं ले पाते हैं, तो इस विधि को आजमाएं। इससे आपको गहरी नींद आएगी और बुरे सपने भी नहीं आएंगें।

पाचन करे दुरुस्‍त

पाचन करे दुरुस्‍त

इन दिनों ब्लोटिंग (पेट फूलने) और अपच काफी बड़ी स्‍वास्‍थ्‍य समस्‍या बन गई है। बर्फ की यह चीनी विधि हमारे लिवर और पाचन तंत्र की कोशिकाओं को सक्रिय कर पाचन से जुड़ी समस्‍याओं को दूर करने और इनसे लड़ने में मदद करती है।

 बार-बार जुकाम

बार-बार जुकाम

मौसम में बदलाव के दौरान, एक या दो बार सर्दी लगना बहुत आम है। फेंग फू थेरेपी करने से आपको ठंड से लड़ने में मदद मिलेगी जबकि इससे बेहतर होगा कि आप सर्दी-जुकाम से पहले ही बचने की कोशिश करें।

आर्थराइटिस से दूर

आर्थराइटिस से दूर

आर्थराइटिस या गठिया के कारण जोड़ों में होने वाले दर्द से भी फेंग फू थेरेपी छुटकारा दिलाती है।

सेल्‍युलाइट करे कम

सेल्‍युलाइट करे कम

जांघों, पेट और कूल्‍हों में जमा फैट को सेल्‍युलाइट कहा जाता है। अध्ययनों से पता चला है कि जिन लोगों ने इस चीनी चिकित्सा का पालन किया उन्‍हें शरीर में सेल्युलाईट की मात्रा में कमी महसूस हुई।

तनाव कम और मूड में बदलाव

तनाव कम और मूड में बदलाव

किसी व्यक्ति के रोजमर्रा के जीवन पर तनाव का नकारात्मक प्रभाव पड़ता है लेकिन इस फेंग फू थेरेपी से से आप तनाव से भी छुटकारा पा सकते हैं। ये आपके शरीर में एंडोर्फिन जारी करके तनाव से राहत देती है। यह मस्तिष्क और रीढ़ में तंत्रिका कोशिकाओं को सक्रिय करने में भी मदद करती है, जो मस्तिष्क में रक्त प्रवाह को बढ़ावा देती है।

English summary

this Chinese therapy with ice can relieve all your pains

Here we bring you a no-cost, simple and effective Chinese therapy to deal with all such kinds of problems.
Story first published: Friday, May 31, 2019, 9:45 [IST]
We use cookies to ensure that we give you the best experience on our website. This includes cookies from third party social media websites and ad networks. Such third party cookies may track your use on Boldsky sites for better rendering. Our partners use cookies to ensure we show you advertising that is relevant to you. If you continue without changing your settings, we'll assume that you are happy to receive all cookies on Boldsky website. However, you can change your cookie settings at any time. Learn more