For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS  
For Daily Alerts

कोरोना वायरस: मोबाइल फोन भी कर सकता है आपको संक्रमित, जाने कैसे करें साफ

|

कोरोना वायरस का आतंक पूरी दुनि‍या में छाया हुआ है। इस वायरस को लेकर कई सवाल खड़े हो रहे हैं। हर कोई जानना चाहता है कि ये कैसे फैलता है? इससे बचने के लिए लोग बताई हर जानकारी को फॉलो कर रहे हैं। लोग ये भी जानना चाहते हैं कि ये वायरस शरीर के बाहर कितने समय तक जिंदा रह सकता है। और ये क‍िस-क‍िस तरह से लोगों को अपने चपेट में लेता हैं। अमेरिका के सेंटर फॉर डिजीज कंट्रोल एंड प्रिवेंशन (CDC) के मुताबिक, कोरोना वायरस शरीर से बाहर 9 दिन तक जिंदा रह सकता है। इसके अलावा सीडीसी का कहना है कि ये वायरस न सिर्फ स्किन के जरिए बल्कि मेटल और मोबाइल के जर‍िए भी लोगों को संक्रमित कर सकता है। मेटल पर ये करीब 12 घंटे तक जिंदा रह सकता है।

मोबाइल भी कर सकता है संक्रमित?

मोबाइल भी कर सकता है संक्रमित?

डब्‍ल्‍यूएचओ के मुताबिक, स्किन पर ये महज 10 मिनट ही जिंदा रह पाता है। ऐसे में किसी मेटल या संक्रमित चीज को छूने के बाद अच्‍छे से हाथ धोकर इसकी चपेट में आने से बचाव किया जा सकता है। विशेषज्ञों का कहना है कि अगर आपका मोबाइल किसी संक्रमित व्‍यक्ति ने छुआ है तो वो इंफेक्‍टेड हो सकता है। कोरोना वायरस मोबाइल फोन की स्‍क्रीन पर 48 घंटे और बैकपैनल के प्‍लास्टिक का होने पर 9 दिन तक जिंदा रह सकता है। वहीं, अगर बैक पैनल मैटल का है तो उस पर कोरोना वायरस 12 घंटे तक बना रहेगा। इसलिए मोबाइल फोन को साफ जगह पर रखना बेहतर होगा। वहीं, किसी कपड़े पर ये वायरस 9 घंटे तक रहता है। हालांकि, कपड़े को 2 घंटे सूरज की रोशनी में सुखाने पर वायरस खत्‍म हो सकता है।

Most Read : Coronavirus: इस वायरस से मरीज दूसरी बार भी हो सकता है संक्रमित, जानें एक्‍सपर्ट क्‍या कहते हैं

 स्‍क्रीन क्लीनर का इस्तेमाल करें

स्‍क्रीन क्लीनर का इस्तेमाल करें

अक्सर लोग अपने मोबाइल फोन और लैपटॉप को साफ रखने के लिए मोबाइल और लैपटॉप स्‍क्रीन क्लीनर का इस्तेमाल करते हैं। इससे फोन और लैपटॉप पर किसी भी प्रकार के कीटाणु नहीं रहते हैं। वहीं कोरोना वायरस के बीच सैनिटाइजर के बदले सेल फोन स्क्रीन क्लीनर का भी इस्तेमाल किया जा सकता हैं। क्योंकि सेल फोन स्क्रीन क्लीनर में कई तरह के इंग्रिडिएंट्स होते हैं, जो कीटाणुनाशक की तरह भी काम करते हैं। सेल फोन स्क्रीन क्लीनर ना केवल आपके गैजेट्स के बल्कि आपके हाथों को भी बैक्टीरिया से फ्री रखेगा।

ऐसे साफ करें मोबाइल की स्‍क्रीन

ऐसे साफ करें मोबाइल की स्‍क्रीन

एक्‍सपर्ट बताते हैं क‍ि मोबाइल स्‍क्रीन को द‍िन में दो बार अल्‍कोहल वाइप्‍स से साफ करें। इसके अलावा डब्‍लूएचओं ने मोबाइल स्‍क्रीन को साफ करने के ल‍िए कुछ निर्देश भी जारी क‍िए हैं। जिनके जर‍िए मोबाइल फोन की स्‍क्रीन साफ करके वो कोरोना वायरस से दूर रह सकते हैं।

- मोबाइल को साफ करते वक्‍त फोन को स्विच ऑफ कर दें।

- इसे रबिंग अल्‍होकल से साफ करें।

- मोबाइल को साफ करने के ल‍िए सॉफ्ट टिश्‍यू का इस्‍तेमाल करें।

- मोबाइल को किसी साफ जगह पर रखा जाना चाहिए।

- डिसइन्फेक्टेंट से उसे साफ करते रहने चाहिए ताकि उससे संक्रमण न फैले।

- अगर आपने मोबाइल फोन पर कवर लगा रखा है तो ये बहुत जरुरी है क‍ि इसे भी आप साफ करें।

ईयरफोन का करें इस्‍तेमाल

ईयरफोन का करें इस्‍तेमाल

अगर आपको बहुत सारे कॉल आते है तो बेहतर होगा क‍ि आप फोन पर सीधे बात करने की बजाय ईयरबड्स या ईयरफोन का इस्‍तेमाल करें।

जो आपके फोन को आपके हाथों को बंद रखने और आपके चेहरे से दूर रखने में मदद कर सकते हैं। इसके अलावा आप इन ईयरफोन को isopropyl अल्कोहल से साफ करके सुरक्ष‍ित रख सकते हैं।

Most Read : यौन संबंध बनाने और चूमने से भी फैलता है कोरोना वायरस, जानें इससे जुड़े फैक्‍ट

 टॉयलेट में यूज न करें मोबाइल

टॉयलेट में यूज न करें मोबाइल

शौचालय के अंदर अपने फोन का उपयोग न करें। एक सर्वेक्षण में 88 प्रतिशत लोगों ने स्‍वीकार क‍िया है क‍ि वो ऐसा करते हैं। लेकिन चीनी सेंटर फॉर डिजीज कंट्रोल की एक रिपोर्ट बताती है कि कोरोनोवायरस मल और मुख के जर‍िए बहुत तेजी से फैलता है।

English summary

Coronavirus Can live on your phone, Know How To Clean Your Phone?

Coronavirus can live on your phone for a week. Here are the ways to clean your mobile phone properly. Read on.