For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS  
For Daily Alerts

आपको टी बैग वाली चाय पीने की आदत हैं, तो जरा इस र‍िसर्च को पढ़ लें!

|
टी बैग वाली चाय के नुकसान सुनकर चौंक जायेंगे आप | Tea Bag side effects | Boldsky

प्‍लास्टिक न सिर्फ वातावरण को प्रदूषित कर रहा है बल्कि चाय के कप के जरिए आपके शरीर में पहुंचकर आपको भी बीमार कर रहा हैं। हाल ही में हुए शोध में खुलासा हुआ है कि टी बैग चाय के साथ अरबों छोटे-छोटे प्लास्टिक के कण छोड़ते हैं, जो हमारे स्वास्थ्य के लिए खतरनाक है। शोधकर्ताओं ने पाया कि टी बैग में मौजूद प्लास्टिक की वजह से पानी में मौजूद जीवाणु असामान्य तरीके से पनपते हैं और अजीब व्यवहार करते हैं।

यह खुलासा मैकगिल यूनिवर्सिटी में कनाडा के शोधकर्ताओं के एक समूह ने किया। हालांकि, आमतौर पर टी बैग पेपर के बने होते हैं, लेकिन इन टी बैगों को सील करने के लिए पॉलीप्रोपेलीन का इस्तेमाल किया जाता है, जो प्लास्टिक का एक प्रकार है। टी बैग में मौजूद यह पार्टिकल माइक्रो और नैनो आकार के होते हैं और इंसानी बालों से भी 750 गुना छोटे होते हैं।

Plastic teabags release billions of tiny particles

ऐसे किया रिसर्च

कई चाय ब्रांड प्लास्टिक से बने टी बैग का उपयोग करते हैं, जो सेहत के ल‍िए खतरा बन सकते हैं। शोधकर्ता यह पता लगाना चाहते थे कि गर्म होने पर टी बैग चाय में कितना माइक्रोप्लास्टिक छोड़ते हैं। ऐसा करने के लिए उन्होंने प्लास्टिक के चार अलग-अलग टी बैग में पैक खरीदे। शोधकर्ताओं ने टी बैग को 203° फॉरेनहाइट तापमान (95° सेल्सियस) पर पानी के विशेष कंटेनरों में गर्म किया। इसके बाद उन्होंने इलेक्ट्रॉनिक माइक्रोस्कोप से देखा कि एक टी बैग से करीब 11.6 बिलियन (1160 करोड़) माइक्रोप्लास्टिक के टुकड़े और 3.1 बिलियन (करीब 300 करोड़) नैनो प्लास्टिक के कण निकले।

English summary

Plastic teabags release billions of tiny particles

A teabag put in near-boiling water produces about 11.6 billion microplastic granules and 3.1 billion even smaller nanoplastics, which are invisible to the human eye.
Story first published: Friday, September 27, 2019, 17:35 [IST]
We use cookies to ensure that we give you the best experience on our website. This includes cookies from third party social media websites and ad networks. Such third party cookies may track your use on Boldsky sites for better rendering. Our partners use cookies to ensure we show you advertising that is relevant to you. If you continue without changing your settings, we'll assume that you are happy to receive all cookies on Boldsky website. However, you can change your cookie settings at any time. Learn more