For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS  
For Daily Alerts

इस समय घर की सफाई करने से मां लक्ष्मी हमेशा रहती हैं प्रसन्न

|

हमारे पूर्वज ज्योतिष द्वारा बताई गई बातों पर विश्वास करते थे। जैसे ही मानव जाति ने प्रगति करना शुरु किया हमने अपने जीवन में वैज्ञानिक दृष्टिकोण को जगह देना शुरू कर दिया। धीरे-धीरे हमने ज्योतिष विज्ञान को अनदेखा करना शुरु कर दिया।

इस प्रक्रिया में हम यह तथ्य भूल गए कि ज्योतिष स्वयं वैज्ञानिक सिद्धांतों पर आधारित है और ज्योतिष द्वारा निर्धारित करने वाली अधिकांश चीज़ें समय-परीक्षण की गई थी और वह सच साबित हुई थी। इसलिए, अगर हम इन सभी चीज़ों को अनदेखा और अस्वीकार करते हैं तो यह हमारी भूल के अलावा कुछ नहीं होगा।

अब, आज की पीढ़ी के अधिकांश लोग साफ-सफाई में ज्योतिष की भूमिका से अवगत नहीं है। उन्हें लगता है कि घर की सफाई करने का मतलब है कि यह अपने घर के अंदर की गंदगी को हटाने और इसे बाहर फेंकने की सरल प्रक्रिया है। हालांकि, सफाई की प्रक्रिया बहुत कुछ है और यही वह ज़रिया है जिससे देवी लक्ष्मी की तस्वीर मन में आती है।

घर की सफाई के संबंध में मौजूद सभी ज्योतिषीय नियमों में इस अवधारणा को मूल में रखा गया है। इस लेख में, हम अच्छी हाउसकीपिंग की ज्योतिषीय अवधारणाओं के बारे में चर्चा करेंगे और यह सुनिश्चित करेंगे कि आपको इसका किस तरह से पालन करना चाहिए।

आर्थिक स्थिति और देवी लक्ष्मी

तथ्य यह है कि भारतीय संस्कृति यह निर्देश देती है कि देवी लक्ष्मी धन की देवी हैं, जिससे कोई भी अंजान नहीं है। धन किसी भी घर में समृद्धि का पहला और सबसे बड़ा संकेत है। ज़्यादातर लोग देवी लक्ष्मी के आने और जाने के रूप में घर से पैसे के प्रवाह और बहिर्वाह को जोड़ते हैं। इस प्रकार, घर की अच्छी साफ़ सफाई सभी ज्योतिषीय उपायों को करने का मुख्य उद्देश्य है धन की देवी मां लक्ष्मी को अपने घर बुलाया जाना और एक बार अगर वह आ गई तो यह सुनिश्चित करना होगा कि वह कभी घर से वापस न जाएं। इसलिए, हमें घर को हमेशा साफ-सुथरा रखना चाहिए ताकि वह हमारे घर में ही रहें।

सफाई का समय

दरअसल, घर को साफ करना सफाई प्रक्रिया का सबसे महत्वपूर्ण हिस्सा है। झाड़ू लगाना उन सभी अवांछित धूल को ब्रश करने का सबसे तेज़ तरीका है, जो कई बीमारियों के लिये ज़िम्मेदार है। हालांकि, इसका मतलब यह नहीं है कि आप कभी भी झाड़ू पकड़ कर सफाई करने लग जाएं।

ज्योतिष के अनुसार, सूर्योदय के बाद ही झाड़ू करनी चाहिए। इसी तरह, एक बार सूर्यास्त होने के बाद, आप झाड़ू नहीं लगा सकते हैं। वहीं वैज्ञानिक दृष्टिकोण से देखा जाय तो यह तथ्य सामने आएगा कि जब कोई व्यक्ति ज़मीन को साफ करता है, तो उसे अच्छे से साफ करना चाहिए ताकि कोई गंदगी पीछे न छूट जाए।

इसी प्रकार, किसी भी महत्वपूर्ण सामग्री को गलती से नहीं हटाया जाना चाहिए क्योंकि कोई भी चीज़ बिना उचित प्रकाश के सही नहीं दिखाई देती है। कृत्रिम प्रकाश में भी इन चीज़ों को नहीं हटाना चाहिए। यही कारण है कि किसी को सूर्यास्त के बाद घर से बाहर नहीं फेंकना चाहिए।

अतिआवश्यक मामलों में

कई बार ऐसा होता है कि सूर्यास्त के बाद कुछ फर्श पर गिर जाता है या अचानक हाथ से फिसलकर ज़मीन पर बिखर जाता है और आपको तत्काल उसे साफ करने की ज़रूरत होती है। यह अकसर उन घरों में होता है जहां पर बच्चे होते हैं। ऐसी स्थिति में यदि आपको वास्तव में सफाई की ज़रूरत है तो आप कपड़े के ज़रिए साफ कर सकते हैं, लेकिन झाड़ू का इस्तेमाल न करें।

इसके अलावा, अकसर लोग हर घंटे घर की सफाई करते रहते हैं ऐसे में देवी लक्ष्मी क्रोधित हो जाती हैं और वह आपके घर की सारी सुख-समृद्धि ले जाती हैं। इसलिये आपको घर की गंदगी को घर के किसी कोने में स्टोर करते रहना होगा और अगली सुबह उठाकर उसे फेंकना होगा।

हालांकि यह समझें कि कपड़े के ज़रिए सूर्यास्त के बाद हर दिन सफाई सही नहीं है। इसे ज़रूरत पड़ने पर ही अपनाएं। अगर आप रोज़ाना कपड़े से घर साफ करते हैं तो गदंगी पूर्णतया साफ नहीं होगी और घर की सफाई में सुधार भी नहीं होगा।

इसलिये, अब जब आप घर की सफाई का सही समय और सही उपाय जान चुके हैं तो हमें यकीन है कि आप अपने परिवार के सदस्यों की बेहतर देखभाल करने की स्थिति में हैं। दरअसल, हम दैनिक जीवन में ज्योतिष उपायों को अपनाकर अपने घरों में शांति और समृद्धि लाने के तरीकों का स्वागत नहीं कर रहे हैं बल्कि यह नैतिक रूप से हमारे वंश का हिस्सा हैं।

English summary

Follow astro tips for house cleaning

There are certain astro tips that you can follow to keep your house clean. Read to know more.
Story first published: Wednesday, August 29, 2018, 13:40 [IST]