For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS  
For Daily Alerts

2 अक्‍टूबर स्‍पेशल, इस म्‍यूजिम में धड़केगा गांधी जी का दिल

|

राष्ट्रपिता की 150वीं जयंती के मौके पर दिल्‍ली में स्थित नेशनल गांधी म्यूजियम में विजिटर्स को कुछ खास देखने को मिलेगा।दिल्ली के राष्ट्रीय गांधी संग्रहालय में लोग अब महात्मा गांधी के 'कृत्रिम दिल की धड़कन' सुन सकेंगे। जी हां, अब आप सोच रहे होंगे ये कैसे मुमकिन है। दरअसल इन धड़कनों को गांधी जी की विभिन्न ईसीजी डिटेल से तैयार किया गया है।

मंगलवार यानि 2 अक्टूबर को गांधी जयंती के मौके पर नेशनल गांधी म्यूजियम में खास कार्यक्रमों का भी आयोजन किया जाएगा। गांधी जी की विचारधारा में विश्‍वास रखने वालों के ल‍िए ये कार्यक्रम सच में बेहद खास रहेगा।

Mahatma Gandhis heart still beats at Delhis National Gandhi Museum

ईसीजी डिटेल से बनाई कृत्रिम धड़कन

गांधी जी की कृत्रिम दिल की धड़कन को उनकी अलग-अलग अवस्थाओं में ईसीजी डिटेल के आधार पर बनाया गया है। अपने आप में इस तरह का प्रयोग पहली बार किया गया है।

खास डिजिटल किट भी मिलेगी

महात्मा गांधी के जन्मदिवस के मौके पर नेशनल म्यूजियम एक खास डिजिटल मल्टीमीडिया किट भी जारी करेगा जिसे कोई भी 300 रुपए में खरीद सकेगा। इस किट में एक पेनड्राइव दी जाएगी जिसमें 20 गांधी जी के द्वारा और 10 उन पर लिखी गई किताबें शामिल हैं। इसके अलावा इसमें 100 तस्वीरें और महात्मा गांधी की असली आवाज भी हैं। इसमें महात्मा गांधी के पसंदीदा भजन का संग्रह और भी कई जानकार‍ियां मिलेगी।

आजादी से जुड़ी प्रमुख फुटेज है पेन ड्राइव में

पेन ड्राइव में महात्मा गांधी से जुड़ी विडियो और फोटो के अलावा भारत छोड़ों अंदोलन के समय जवाहरलाल नेहरू, सुभाष चन्द्र बोस और महात्मा गांधी के भाषण भी शामिल है। इसके अलावा 1931 में महात्मा गांधी के लंदन में दिए गए भाषण को भी इसमें शामिल किया गया है। गांधी जी के विचारधारा से प्रेरित लोग गांधी जी के स्‍वतंत्रता से जुड़ी झलकियों को देख सकेंगे और अनुभव कर सकेंगे।

English summary

Mahatma Gandhi's heart still beats at Delhi's National Gandhi Museum

The heartbeats were created by gathering ECG (electrocardiography) details from different stages of Mahatma Gandhi's life
We use cookies to ensure that we give you the best experience on our website. This includes cookies from third party social media websites and ad networks. Such third party cookies may track your use on Boldsky sites for better rendering. Our partners use cookies to ensure we show you advertising that is relevant to you. If you continue without changing your settings, we'll assume that you are happy to receive all cookies on Boldsky website. However, you can change your cookie settings at any time. Learn more