For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS  
For Daily Alerts

प्रेगनेंसी के पहले तिमाही क्‍यों नहीं करना चाह‍िए सेक्‍स, जानें इससे जुड़े कारण

|

प्रेगनेंसी के पहले तिमाही में अक्‍सर कपल सोचते हैं क‍ि प्रेगनेंसी के दौरान सेक्‍स करना सुरक्षित होता है या नहीं। कई कपल को लगता है क‍ि इस दौरान सेक्‍स करने से मिसकैरिज की संभावना रहती हैं और ये होने वाले बच्‍चें के ल‍िए नुकसानदायक हो सकता है। इस नाजुक दौर में सेक्‍स के बारे में सोचते ही इस तरह की बातें दिमाग में घूमने लगती हैं। प्रेगनेंसी के पहला महीना तो कब गुजर जाता है पता भी नहीं चलता है क्योंकि पीरियड्स मिस होने के बाद ही आपको गर्भावस्था का पता चलता है। लेकिन दूसरे और तीसरे महीने में सम्बन्ध क्यों नहीं बनाना चाहिए आइये जानते हैं।

गर्भावस्था के दौरान प्रेग्नेंट महिला के शरीर में होने वाले बदलाव के कारण महिला परेशान हो सकती है। हालांकि इस दौरान कुछ गर्भवती महिलाओं की सम्बन्ध बनाने की इच्छा बढ़ जाती है। लेकिन इस डर के कारण कहीं किसी तरह की दिक्कत न हो महिला सम्बन्ध बनाने से परहेज भी करती है। जबकि सच तो यह हैं यदि प्रेगनेंसी में कोई कॉम्‍प्लिकेशननहीं है, महिला स्वस्थ है, महिला सम्बन्ध बनाने के लिए तैयार है, पूरी सावधानी के साथ प्रेगनेंसी में संबंध बनाया जा सकता है। लेक‍िन इससे पहले डॉक्‍टर की राय जरुर लें।

क्या सम्बन्ध बनाने से शिशु को होता है नुकसान?

क्या सम्बन्ध बनाने से शिशु को होता है नुकसान?

गर्भावस्था के दौरान शिशु एमनियोटिक फ्लूड और गर्भाशय में सुरक्षित होता है। ऐसे में पूरी सावधानी और सतर्कता के साथ यदि प्रेग्नेंट महिला सम्बन्ध बनाती है तो गर्भ में पल रहे शिशु को किसी भी तरह का नुकसान नहीं होता है। लेकिन सम्बन्ध बनाने से पहले डॉक्टर की राय जरूर लेनी चाहिए क्योंकि प्रेग्नेंट महिला स्वस्थ है या नहीं इसके बारे में डॉक्टर से बेहतर आपको कोई नहीं बता सकता है।

नाजुक होता है ये दौर

नाजुक होता है ये दौर

शुरुआत होती है प्रेगनेंसी की गर्भाशय में शिशु के प्रत्यारोपण के बाद यह समय बहुत ही नाजुक होता है।

क्योंकि इस दौरान शिशु का शुरूआती विकास शुरू हो रहा होता है। ऐसे में सम्बन्ध बनाने से किसी तरह की दिक्कत न हो या कपल से कोई गलती न हो जाएं।

इसीलिए प्रेगनेंसी की पहली तिमाही में डॉक्टर्स सम्बन्ध न बनाने की सलाह देते हैं।

रहता है गर्भपात का खतरा

रहता है गर्भपात का खतरा

वैसे तो गर्भाशय में शिशु सुरक्षित होता है। लेकिन पहली तिमाही में सेक्‍स की वजह से ब्लीडिंग होने का खतरा रहता है। ब्लीडिंग यदि जरुरत से ज्यादा होने लग जाए तो ऐसे में गर्भपात होने की सम्भावना बढ़ जाती है।

महिला को हो सकती है दिक्कत

महिला को हो सकती है दिक्कत

प्रेगनेंसी के शुरुआती समय में गर्भवती महिला की बॉडी में हार्मोनल बदलाव बहुत तेजी से हो रहे होते हैं। जिसके कारण प्रेग्नेंट महिला को बहुत सी शारीरिक के साथ मानसिक परेशानी का अनुभव हो सकता है।

ऐसे में यदि महिला सम्बन्ध बनाती है तो इसके कारण महिला की दिक्कतें ज्यादा बढ़ सकती है।

संक्रमण का खतरा

संक्रमण का खतरा

यदि प्रेग्नेंट महिला प्रेगनेंसी की पहली तिमाही में या कभी भी बिना सुरक्षा के सम्बन्ध बनाती है। तो इसके कारण महिला को संक्रमण का खतरा रहता है। और संक्रमण का बढ़ना शिशु पाए भी असर डाल सकता है।

प्रेग्नेंट महिला को सम्बन्ध बनाने से बचना चाहिए

प्रेग्नेंट महिला को सम्बन्ध बनाने से बचना चाहिए

तो यह है प्रेगनेंसी की पहली तिमाही में सम्बन्ध बनाने से जुड़े कुछ खास टिप्स, तो यदि आप भी प्रेग्नेंट हैं? और और प्रेगनेंसी में सम्बन्ध बनाने को लेकर परेशान है तो आपको भी इन बातों का ध्यान रखना चाहिए।

English summary

Is It Safe To Have Sex During First Trimester

It Safe to Have Sex During the 1st Trimester? here's what you need to know.
Story first published: Saturday, January 11, 2020, 15:00 [IST]