For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS  
For Daily Alerts

अगर आप प्रेगनेंट है तो जरुर खाएं ये चीज, इससे बच्‍चा होगा तंदरुस्‍त

|

गर्भवस्था में महिला को हर वो चीज खाने की सलाह देती है जो माँ और बच्चे दोनों के लिए फायदेमंद होती है। आज के समय में देखा जाए तो खान पान में तरह-तरह की चीज़ों को शामिल किया जाता है ताकि सब अच्छा हो. जो भी चीज़ें शामिल की जाती हैं उनमे पोषक तत्वों को भरपूर देखा जाता है ताकि बच्चे को लाभ हो. हम सभी जानते ही हैं कि गर्भवती महिला खान पान में थोड़ी भी लापरवाही करे तो इसके कारण महिला की सेहत पर ही नहीं बल्कि बच्चे के विकास पर भी बुरा असर पड़ सकता है। ऐसे में हर गर्भवती महिला को खाने में दूध, दही, अंडा, दालें, नॉन वेज, हरी सब्जियां, फल आदि का भरपूर मात्रा में दिया जाता है ताकि वह और उसका बच्चा सही रहे. इन सभी के अलावा एक चीज और है जो प्रेग्नेंट महिला को अपनी डाइट में जरूर शामिल करनी चाहिए और वो है सोयाबीन। जी दरअसल सोयाबीन प्रोटीन, आयरन, कैल्शियम जैसे पोषक तत्वों का बेहतरीन स्त्रोत होता है जो प्रेग्नेंट महिला व बच्चे दोनों के लिए फायदेमंद होता है। अब आज हम आपको बताते हैं कि प्रेगनेंसी में सोयाबीन खाने से कौन कौन से फायदे मिलते हैं।

एक कप सोयाबीन में होता है इतना न्‍यूट्रीशियन वैल्‍यू

एक कप सोयाबीन में होता है इतना न्‍यूट्रीशियन वैल्‍यू

एक कप सोयाबीन में कई सारे पोषक तत्‍व मौजूद होते हैं। जिसमें मैग्‍नीशियम, फाइबर, विटामिन के, विटामिन बी 2, ओमेगा 3 फैट्स, आयरन, फास्‍फोरस, मैग्‍नीज, कॉपर, इनके अलावा, सोया बीन्स में फ्लेवोनोइड्स और आइसोफ्लेवोनोइड्स, फेनोलिक एसिड, फाइटोलेक्सिन, फाइटोस्टेरॉल, प्रोटीन, पेप्टाइड्स, सैपोनिन होते हैं। जो प्रेगनेंसी के दौरान शिशु के ल‍िए लाभदायक है।

प्रोटीन

प्रोटीन

जी दरअसल सोयाबीन में प्रोटीन पर्याप्त मात्रा में मौजूद होता है और जो गर्भवती महिला की मांसपेशियों में खिंचाव के कारण होने वाली परेशानियों को दूर करने के साथ बच्चे की मांसपेशियों के बेहतर विकास में मदद मिलती है। इसे खाने से प्रेग्नेंट महिला को स्वस्थ रहने के साथ बच्चे के बेहतर विकास में भी मदद मिलती है।

कैल्शियम

कैल्शियम

आप सभी को बता दें कि प्रोटीन के साथ कैल्शियम की मात्रा भी सोयाबीन में मौजूद होती है और कैल्शियम प्रेग्नेंट महिला की हड्डियों को मजबूत करने के साथ गर्भ में बच्चे की हड्डियों के बेहतर विकास में भी मदद करता है। इसी के साथ सोयाबीन का सेवन करने से प्रेग्नेंट महिला को थकान, कमजोरी, जैसी परेशानियों से बचे रहने में भी मदद मिलती है।

शुगर रहती है कंट्रोल

शुगर रहती है कंट्रोल

कहा जाता है सोयाबीन का सेवन करने से ब्लड में शुगर के लेवल को मेन्टेन रखने में मदद मिलती है और इससे प्रेग्नेंट महिला को गेस्टेशनल शुगर जैसी समस्या से बचे रहने में मदद मिलती है।

हाई ब्लड प्रैशर

हाई ब्लड प्रैशर

आप सभी को बता दें कि पोटैशियम की मात्रा भी सोयाबीन में मौजूद होती है जो प्रेग्नेंट महिला के ब्लड प्रैशर को नियंत्रित रखने में मदद करती है। कहा जाता है इससे ब्लड प्रैशर के घटने या बढ़ने के कारण होने वाली परेशानी से गर्भवती महिला को बचे रहने में मदद मिलती है।

आयरन

आयरन

आप सभी को बता दें कि सोयाबीन का सेवन करने से प्रेग्नेंट महिला के शरीर में आयरन की कमी को पूरा करने में भी मदद मिलती है जिससे प्रेग्नेंट महिला के शरीर में खून की कमी को पूरा करने में मदद मिलती है।

English summary

Soybeans During Pregnancy : Benefits And Concerns

Soybean is one such food which is in the spotlight for both cons and pros for pregnant women. Here is a detailed guide to understand.
Story first published: Thursday, April 30, 2020, 18:36 [IST]