जानें, भारतीय मसालों के फायदे

Posted By: Staff
Subscribe to Boldsky

मसालों की विभिन्‍नता, विविधता और उनका स्‍वाद, हर भोजन में ज़ायका ला देता है। हर समुदाय, क्षेत्र और राज्‍य में इनका अलग-अलग तरीके से इस्‍तेमाल किया जाता है।

जहां साउथ इंडियन राई का तड़का लगाते हैं वहीं नार्थ के घरों में जीरे से फ्राई दाल को खाया जाता है। केसर को मिठाई में इस्‍तेमाल करते हैं और काली मिर्च की चाय बनाते हैं।

हर मसाले का इस्‍तेमाल, उसके गुणों और महत्‍व के आधार पर किया जाता है। क्‍या आप मसाले के इन महत्‍वों से परिचित हैं। आइए बोल्‍डस्‍काई के इस आर्टिकल में हम आपको बताते हैं भारतीय मसालों के स्‍वास्‍थ्‍यवर्धक महत्‍व के बारे में, जो कि सदियों से हमारी पाक शैली का अभिन्‍न अंग रहे हैं।

 Importance Of Consuming Indian Spices

भारतीय मसालों में दालचीनी काफी वंडरफुल मसाला है। यह एक प्रकार की छाल होती है जिसे भोजन में प्रमुख मसाले के तौर पर इस्‍तेमाल किया जाता है। हल्‍की सी मिठास लिए यह मसाला बेहद गुणकारी होता है।

दालचीनी, ह्दय के लिए अच्‍छी होती है। शोध से यह स्‍पष्‍ट हुआ है कि प्रतिदिन आधा चम्‍मच दालचीनी को भोजन में इस्‍तेमाल करने से एलडीएल कोलेस्‍ट्रॉल कम हो जाता है। इससे मधुमेह पर नियंत्रण किया जा सकता है।

cinamon

कई अध्‍ययनों से यह भी स्‍पष्‍ट हुआ है कि दालचीनी का ब्‍लड ग्‍लूकोज पर भी नियामक प्रभाव हो सकता है, जो कि टाइप 2 मधुमेह से जूझने वाले लोगों के लिए लाभदायक होता है। साथ ही इसके सेवन से ल्‍यूकेमिया और लिम्‍फोमा कैंसर सेल्‍स भी नहीं विकसित होती है।

शहद के साथ इसका सेवन, सुबह-सुबह करने पर गठिया के दर्द में भी आराम मिलता है। यह संरक्षक के रूप में भी कार्य करता है। इसे भोजन में डालने पर बैक्‍टीरिया नहीं पनपते हैं और खाना जल्‍दी खराब नहीं होता है। यह प्राकृतिक संरक्षक होता है।

cinnamon1

दालचीनी को प्रभावी ढंग से काम करने के लिए कम मात्रा में लिया जाना चाहिए। अगर इसे ज्‍यादा मात्रा में खा लिया जाये तो इसका प्रभाव प्रतिकूल हो सकता है। दूसरा सबसे अच्‍छा मसाला हींग होती है। इसमें ज़ायका और सुंगध होती है।

हींग में कई औषधिय गुण होते हैं जो स्‍वस्‍थ बनाने में सहायक होते हैं। इसके सेवन से सांस सम्‍बंधी बीमारियां भी सही हो जाती हैं और कफ, अस्‍थमा और ब्रोन्‍काईटिस होने पर भी आराम मिलता है।

hing

महिलाओं में बांझपन की समस्‍या को भी हींग दूर कर देती है। अगर किसी महिला का गर्भपात हो जाता है या प्रीमैच्‍योर प्रसव होता है या अधिक दर्द होता है तो हींग का सेवन लाभ पहुँचाता है। मासिक धर्म के दिनों में भी ऐंठन से हींग ही राहत देती है। नपुंसक लोगों के लिए हींग एक वरदान है।

English summary

Importance Of Consuming Indian Spices

Indian Spices are the best spices that you can consume to improve your health. Read to know what are the other benefits of consuming indian spices.
Story first published: Saturday, June 25, 2016, 9:00 [IST]
Please Wait while comments are loading...