गठिया का दर्द? पत्तागोभी के पत्तों से उपचार करें!!

Posted By: Staff
Subscribe to Boldsky

पत्तागोभी एक पोषक पत्तेदार सब्ज़ी है। इसमें फाइबर, फोलेट, तांबा, विटामिन बी1, पोटैशियम, मैंगनीज़, विटामिन बी, सी और के भी पाया जाता है।

जानिये गठिया रोग में क्‍या खाएं और क्‍या ना खाएं

इसमें कैल्शियम, आयरन, क्लोरीन, मैग्नीशियम, पैंटोथेनिक एसिड, नियासिन और फॉस्फोरस भी पाया जाता है। पत्तागोभी का उपयोग खिंचाव, मोच, सूजन, अल्सर, चोट, आर्थराइटिस और जोड़ों के दर्द के उपचार में किया जाता है।

सरसों के लेप से पाएं गठिया के दर्द से छुटकारा

इसमें एंटी-इन्फ्लेमेटरी कारक होते हैं। यह उपचार कई लोगों पर असर कर चुका है। कुछ लोगों का कहना है कि पत्तागोभी की पत्तियां गठिया के दर्द को कम करती हैं। कुछ लोग कहते हैं कि ये गठिया के दर्द को पूरी तरह ठीक कर देती है। इस बात का कोई वैज्ञानिक प्रमाण नहीं है कि यह उपचार वास्तव में प्रभावकारी है अथवा नही।

गठिया में होने वाले दर्द से छुटकारा पाने के घरेलू उपाय

परन्तु एक बार इसका उपयोग करने में कोई बुराई नहीं है विशेष रूप से तब जब आप गठिया के दर्द से पीड़ित हों। परन्तु सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए इसका उपयोग करने से पहले अपने डॉक्टर से सलाह ले लें।

चरण #1

चरण #1

सबसे पहले बाज़ार से गोभी की ताज़ा पत्तियाँ लायें और उन्हें प्लास्टिक बैग में रख दें। इन्हें फ्रीज़र में रखें। जब गठिया का दर्द शुरू हो तो गोभी के पत्तों को फ्रीज़र से निकालें और उन्हें प्रभावित जगह पर लपेट लें। एक टॉवल लें और उसे गोभी के पट्टे के ऊपर लपेट दें।

चरण #2

चरण #2

चरण #2 आपके शरीर की गर्मी से गोभी के ठंडे पत्ते गर्म हो जायेंगे। और इस प्रक्रिया के दौरान पत्तागोभी में उपस्थित कुछ यौगिक आपकी त्वचा में प्रवेश कर जाते हैं। इस उपचार से यूरिक एसिड के कण घुल जाते हैं जो गठिया दर्द का मुख्य कारण है। कम से कम उस भाग की सूजन कम हो जाती है।

उपचार #2

उपचार #2

यदि आपके तलुओं में सूजन है तो गोभी की पत्तियों को उस स्थान पर लपेट कर रखें और 30 मिनिट तक पैरों को ऊपर की ओर उठाकर रखें। इससे सूजन कम हो जायेगी।

दूसरी विधि

दूसरी विधि

पत्तागोभी की पत्तियों को फ्रीज़र में रखने के बजाय केवल उन्हें बेलन से दबाएँ। ऐसा करने से पत्तियों की साथ पर दरारें बन जाती हैं और उसमें से रस निकलता रहता है।

चरण #2

चरण #2

चरण #2 एक फ्राइंग पैन पर पत्तियों को गर्म करें। इसे बहुत अधिक गर्म न करें। कपड़े की सहायता से पत्तियों को जोड़ों पर बांधें। 45 मिनिट बाद पत्तियों को निकाल दें। आपको जोड़ों के दर्द से आराम मिलेगा।

सावधानी

सावधानी

यदि आपके पैरों को पत्तागोभी से एलर्जी होती है या आपको खुजली होती है तो पत्तियों को तुरंत निकाल दें। डॉक्टर से सलाह लें।

Story first published: Friday, March 17, 2017, 9:15 [IST]
English summary

Gout Pain? Try Cabbage Leaf Remedy!!

Cabbage is used as a folk remedy to treat joint pains, sprains, gout pain and even arthritis. Would you like to try it? Read on to know...
Please Wait while comments are loading...