मौसम विभाग ने जारी किया लू का अलर्ट, जाने कैसे रहें सम्‍भल के

Subscribe to Boldsky

मौसम विभाग ने राजस्थान, दिल्ली-एनसीआर और मध्यप्रदेश में अगले 24 घंटों में गर्मी और लू के लिए अलर्ट जारी कर दिया है। मौसम विभाग के मुताबिक अगले 4 से 5 दिनों तक बना रहेगा, जिसके कारण पारा 44-45 ही रहने वाला है। लू के वजह से शरीर में अत्यधिक गर्मी लगने से शरीर लू से बचने के लिए शरीर के कुछ खास अंग जैसे आंख, कान और नाक की सुरक्षा जरूरी है।

इनके जरिए गर्म हवाएं शरीर में प्रवेश कर जाती है और आप लू का शिकार हो जाते हैं। इसलिए बाहर निकलने से पहले चेहरे को ढ़कने पर विशेष जोर दिया जाता है।

first-heat-wave-the-season-delhi-rajasthan-tips-avoid-heat-stroke

इनके अलावा कई ऐसे घरेलू नुस्खे हैं जो आपको लू बचा सकते हैं। आइए जानें कैसे लू में कैसे आप खुद को बचाकर रखें।



लू लगने के कारण



शरीर में पानी की कमी

यदि शरीर में पानी की कमी होती है और ऐसे में तेज धूप और गर्मी में अधिक देर तक रहते हैं तेज गर्मी में कड़ी शारीरिक मेहनत वाले काम करते हैं तो शरीर खुद को ठंडा नहीं कर पाता। ऐसे में लू या हीट स्ट्रोक की संभावना बढ़ जाती है।

धूप में ज्‍यादा देर तक खड़े रहने से

ज्‍यादा देर तक गर्मी में खड़े रहने से, तेज धूप में निकलने से व धूप में मेहनत करने से लू लग जाती है।

शराब या कैफीन की सेवन से बचें 

गर्मियों में शराब पीने तथा कैफीन का सेवन करने से बचें। इनके सेवन ज्‍यादा मात्रा में पेशाब आता है। क्योंकि शरीर पेशाब के माध्यम से इनकी वजह से शरीर में बने विषैले तत्वों को लगातार बाहर निकालने की कोशिश करता रहता है। इससे शरीर में पानी की कमी हो सकती है और लू लग सकती है।

भूखे पेट रहने से

गर्मी के दिनों में भूखे नहीं रहना चाहिए । जब भी घर से बाहर निकलना हो भरपेट भोजन करके निकलना चाहिए ।

धूप में नहीं खड़े रखे कार

कभी कभी बंद कार लू लगने का बहुत सामान्य कारण होता है। बंद कार यदि धूप में खड़ी हो तो कार के अंदर का तापमान बाहर के तापमान से बहुत ज्यादा हो जाता है। इससे लू लग सकती है।

पहने ढीले कपड़े

गर्मी के मौसम में सिंथेटिक या टाइट कपड़े पहनने से शरीर ने हवा नहीं लग पाती और शरीर के अंदर की गर्मी बाहर नहीं निकल पाती। ऐसे में हीट स्ट्रोक या लू का असर हो सकता है।

बच्चे या बुजुर्गों को ज्यादा खतरा

अधिकतर बच्चे या बुजुर्ग लोग आसानी से लू की चपेट में आ जाते है। क्योंकि उनमें इम्‍यूनिटी पॉवर कम होती है, ऐसे में वो लू की चपेट में जल्‍दी आ जाते है। पर्याप्त मात्रा में पानी नहीं पीने, अधिक शराब या चाय कॉफी पीने पर किसी भी उम्र में लू लग सकती है।

Take Care Of Your Skin This Summer Like A Pro! | Boldsky

लू लगने के लक्षण:

लू लगने या हीट स्ट्रोक के लक्षण इस प्रकार के हो सकते है :

सिर दर्द होना, चक्कर आना, गर्मी के बावजूद पसीना नहीं आना, त्वचा लाल , गर्म और सूखी हो जाना, टेम्परेचर अधिक होना, मांसपेशियों में ऐंठन होना, जी घबराना या उल्टी होना, दिल की धड़कन बढ़ जाना, बेहोश हो जाना, सांस लेने में परेशानी महसूस होना।

लू लगने पर घरेलू उपाय

ठंडी जगह में रहें

लू लगने पर शरीर के तापमान को कम करने की कोशिश करनी चाहिए। इसके लिए व्यक्ति को तुरंत छाया वाली ठंडी जगह में ले जाना चाहिए। कपड़े ज्यादा टाइट हों तो ढीले कर लेने चाहिए ताकि हवा लगे। शरीर को ठंडी हवा में रखें।



कच्‍चा प्‍याज

कच्चे प्याज का सेवन करने से भी लू से राहत मिलती है या खाने के साथ कच्चे प्याज का सलाद खाने से भी लू से राहत मिलती है।



बर्फ लगाए यहां

बगल , पीठ , नाभि के पास दोनों तरफ जांघों पर , गर्दन और हाथों पर बर्फ लगा सकते हैं। इन जगहों पर रक्त की नसें ज्यादा होती है अतः शरीर में ठंडक लाने के लिए इसका जल्द असर होता है।

गीले कपड़े को न ओढ़े

लू लगे व्यक्ति को गीले कपडे में लपेटना नहीं चाहिए। यह इंसुलेशन की तरह काम करके शरीर का तापमान बढ़ा सकता है। त्वचा पर गीला स्पंज या गीले कपड़े को फेरकर शरीर का ताप कम करने की कोशिश कर सकते हैं ।बाहर निकलने से पहले खुद को अच्‍छे से कवर करके ही निकलें।

कैरी का पानी

कच्चे आम यानि कैरी का पानी जिसे कैरी का पना भी कहते हैं एक-एक कप सुबह और एक कप शाम को पीने से लू से बचाव होता है। लू लग जाने के बाद इसे पीने से लू का असर मिटता है।



इमली के बीज

इमली के बीज को पीसकर उसे पानी में घोलकर छानकर और इस पानी में शक्कर मिलाकर पीने से लू से बचा जा सकता है ।

धनिया है फायदेमंद

धनिए को पानी में डालकर रखें फिर मसलकर और छानकर पानी में थोड़ी चीनी मिलाकर पीने से लू से बचा जा सकता है ।

For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS
For Daily Alerts

    English summary

    first heat wave of the season in delhi & rajasthan, Tips to avoid heat stroke

    Heat stroke is a form of hyperthermia or heat-related illness, an abnormally elevated body temperature with accompanying physical symptoms including changes in the nervous system function.
    We use cookies to ensure that we give you the best experience on our website. This includes cookies from third party social media websites and ad networks. Such third party cookies may track your use on Boldsky sites for better rendering. Our partners use cookies to ensure we show you advertising that is relevant to you. If you continue without changing your settings, we'll assume that you are happy to receive all cookies on Boldsky website. However, you can change your cookie settings at any time. Learn more