For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS  
For Daily Alerts

बिग बॉस कंटेस्टेंट अब्दू रोजिक ने अपनी मेडिकल कंडिशन के बारे में दी जानकारी, जानें क्यों छोटी रह गई उनकी हाइट

|

बिग बॉस सीजन 16 की शुरुआत हो गई है। इस बार बिग बॉस के घर में ताजिकिस्तान से आए मेहमान सिंगर अब्दु रोजिक भी कंटेस्टेंट बन कर आए हैं। इस हफ्ते की शुरुआत के लॉन्च इवेंट में सलमान ने अब्दु के साथ अपने जुड़ाव के बारे में चर्चा की। अब्दू भले ही कद में छोटे दिखते हैं, लेकिन उनके हौसले बहुत बुलंद है। बिग बॉस के घर में कुछ ही दिन में लोग उनकी क्यूटनेस के दिवाने हो गए। घर के सदस्यों को भी वो काफी अच्छे लगते हैं। अब्दू भले ही हिंदी नहीं बोल पाते। लेकिन लोगों तक उनकी बाते, औऱ विचार आसानी से पहुंच रहे हैं। लेकिन क्या आपको उनके संघर्षों के बारे में पता हैं? अब्दू का बचपन कैसा बिता, उन्हें किन मुश्किलों का सामना करना पड़ा। आइए जानते है बिग बॉस के सबसे क्यूट कंटेस्टेंट अब्दू रोजिक के लाइफ स्ट्रागल्स के बारे में..

19 साल के सिंगर अब्दू रोजिक का ताजिकिस्तान में हुआ। पिछले कुछ सालों में उन्होने एआर रहमान, फ्रेंच मोंटाना, विल आई एएम और रेडोन सहित कुछ फेमस कलाकारों के साथ स्टेज शेयर किया है। अब्दू की शुरुआती कोशिश मॉस्को में एक बॉक्सिंग प्रेस कॉन्फ्रेंस में अपने कॉम्पीटिटर के साथ सार्वजनिक विवाद के दौरान हुई थी, जिसे दुनिया भर में 400 मिलियन से भी ज्यादा बार देखा गया।

5 साल की उम्र में ग्रोथ हार्मोन की कमी और रिकेट्स के कारण अब्दु रोजिक की हाइट बढ़ना बंद हो गई। किशोरावस्था के दौरान न सिर्फ उन्हें उनकी हाइट को लेकर परेशान किया गया। बल्कि उनका बहुत मजाक भी उड़ाया गया। इतना ही नहीं जिन टीचर्स को बाकी बच्चों को उन्हें परेशान करने से रोकना था, उन्होने भी अब्दू के हौसले को तोड़ने में कोई कसर नहीं छोड़ी। उनके शिक्षकों ने भी उन्हें स्टेशनरी या किताबें देने से साफ इनकार कर दिया। यह कहते हुए कि उन्हें ये सब चीजें देना बेकार होगा। जिसके कारण वो अपनी पढ़ाई पूरी नहीं कर पाएं।

अब्दू के साथ पढ़ने वाले साथी भी उन्हे स्कूल से घर आते वक्त मारते पिटते थे। उनका परिवार भी काफी गरीब था। जिसके कारण उनका इलाज भी नहीं करवाया जा सका। पढ़ाई लिखाई न कर पाने वाले अब्दू ने धुनों को गुनगुनाना शुरू कर दिया। अपने आस पास की नेगेटिविटी को हटाने के लिए और अपना हौसला बढ़ाने के लिए उन्होने गाने लिखने भी शुरू कर दिए। अब्दू ने बॉक्सिंग भी की है। दरअसल स्कूल में जब बच्चे उन्हें परेशान करते थे, और उनका मजाक उड़ाते थे, तो इन सब चीजों से वो काफी दुखी हो गए। और अपने आपको बहादूर दिखाने के लिए और दूसरों का सामना करने के लिए बॉक्सिंग सीखी।

अब्दू ने अपने घर का पालन पोषण करने के लिए ताजिकिस्तान की गलियों में गाना गाया। लेकिन अब्दू की किस्मत तब खुली जब 17 साल की उम्र में उन्हें IFCM ने उन्हें पहली बार गाते हुए देखा। इसके बाद UAE के शाही परिवार की यास्मीन साफिया ने उनके टेलेंट को देखते हुए उनपर इन्वेस्ट करने का फैसला लिया।

बिग बॉस सीजन 16 में आने को लेकर अब्दू ने कहा कि वो बहुत खुश भी है और घबराया हुआ भी है। लेकिन उन्हें बिग बॉस के साथ अपने जीवन के अगले पड़ाव को शुरू करने के लिए काफी बेसब्री है। अपनी हाइट को लेकर उन्होने कहा कि छोटा होना उनकी लाइफ में काफी परेशानी लेकर आया। क्योंकि लोगों ने हमेशा उनकी योग्यता को कम समझा। लोगों न हमेशा उनकी कमी के लिए उनका मजाक उड़ाया है। लेकिन उनकी काबिलियत ने उन्हें आज एक मुकाम तक पहुंचा दिया है। जिसके लिए उन्होने अपने फैंस को आभार जताया

अब्दू ने बताया कि दुबई की सीईओ और IFCM की संस्थापक यास्मीन साफिया ने उन्हें हिंदी और अंग्रेजी के लिए कोचिंग कक्षाओं दिलाई। इसी के साथ मेरे संगीत, खेल, अभिनय और नृत्य करियर का मार्गदर्शन करने में भी काफी मदद की है। उन्हो ने ही मुझे खुद पर विश्वास दिलाना सीखाया। यहां तक ​​कि मुझे अलग-अलग मुद्राओं को गिनना और समझना भी सिखाया है।

अब्दू रोजिक ने अपनी छोटी हाइट की वजह से काफी मुश्किलों का सामना किया। लेकिन अपने जैसे न जाने कितनें लोगों के लिए वो एक प्रेरणा का स्त्रोत हैं। बिग बॉस के घर में अब्दू के आने से यह बात साफ हो गई है कि किसी की हाइट, कलर, बोली किसी को सक्सेस होने से नहीं रोक सकता। बस आपके हौसले बुलंद होने चाहिए।

English summary

Abdu Rozik's height remained short due to Rickets disease in hindi

Abdu Rozik's height stopped growing due to lack of growth hormone and rickets. Due to the small height, Abdu also had to face many mental problems.
Desktop Bottom Promotion