For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS  
For Daily Alerts

Women's Day Special : गूगल ने डूडल से व्‍यक्‍त किया महिलाओं के प्रति सम्‍मान, जाने इससे जुड़ा इतिहास

|

आज अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस के मौके पर सर्च इंजन गूगल ने खास डूडल बनाकर महिलाओं को समर्पित किया है। गूगल ने इस साल महिला दिवस की थीम 'बैलेंस फॉर बेटर' (Balance For Better) के साथ डूडल तैयार किया है। बता दें, इस डूडल में 14 स्लाइड्स के माध्यम से अलग- अलग भाषाओं में बेहद ही खूबसूरत कोट्स लिखे गए हैं।

इन प्रेरणादायक कोट्स को दुनियाभर की प्रतिभाशाली महिलाओं के एक समूह ने डिजाइन किया हैं। इन 14 स्‍लाइड्स में भारतीय मुक्‍केबाज मैरी कॉम का भी कोट शामिल हैं। इसके अलावा एक हिंदी का कोट्स भी शामिल हैं जिसमें लिखा है: "हम इतने अनमोल हैं कि निराशा कभी हमारे दिलों-दिमाग में भी नहीं आनी चाहिए."

 जाने इतिहास -

जाने इतिहास -

महिलाओं की आर्थिक, राजनीतिक और सामाजिक उपलब्धियों के उत्सव के रूप में हर साल 8 मार्च को अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस मनाया जाता है। जानिए इससे जुड़ा इतिहास :

- साल 1908 में महिलाएं अपने अधिकारों को लेकर आगे आई, इसी साल करीब 15 हजार महिलाओं ने वोटिंग अधिकार के लिए न्यूयॉर्क सिटी में एक साथ मार्च किया था।

- 1909- सोशलिस्ट पार्टी ऑफ अमेरिका ने महिला दिवस मनाने का फैसला किया और पहली बार 29 फरवरी 1909 को महिला दिवस मनाया गया। साल 1913 तक फरवरी के आखिरी रविवार को यह डे मनाया जाता था।

Most Read : Women's Day: कभी सेना की यूनिफॉर्म पहनने का देखती थी सपना, आज है IAF की पहली महिला फ्लाइट इंजीन‍ियर

 1917 में हुई अधिकारिक घोषणा

1917 में हुई अधिकारिक घोषणा

इतिहास की माने तो 1917 तक विश्व युद्ध में रूस के 2 लाख से ज्यादा सैनिक मारे गए, जिसके बाद रुसी महिलाएं रोटी और कपड़े के लिये हड़ताल पर जाने का फैसला किया। ये हड़ताल इतनी असरदार रही कि ज़ार ने सत्ता छोड़ी और महिलाओं को वोट देने का अधिकार मिला। कहा जाता है कि उन दिनों रूस में जुलियन कैलेंडर चलता था जबकि बाकि दुनिया में ग्रेगेरियन कैलेंडर। इन दोनों की तारीखों में कुछ अन्तर होता है। जुलियन कैलेंडर के मुताबिक 1917 की फरवरी का आखिरी इतवार 23 फ़रवरी को था जब की ग्रेगेरियन कैलैंडर के अनुसार उस दिन 8 मार्च थी। यही कारण था कि हर साल 8 मार्च को अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस मनाने की अधिकारिक घोषणा कर दी गई। और इस दिन राष्‍ट्रीय अवकाश की घोषणा कर दी गई।

 1975 में जुड़ा अंतर्राष्‍ट्रीय

1975 में जुड़ा अंतर्राष्‍ट्रीय

क्लारा जेटकिन ने 1910 में कोपेनहेगन में कामकाजी औरतों की एक इंटरनेशनल कांफ्रेंस के दौरान अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस मनाने का सुझाव दिया। उस वक्त कांफ्रेंस में 17 देशों की 100 औरतें मौजूद थीं। उन सभी ने इस सुझाव का समर्थन किया।

Most Read : Women's Day: यहां आज भी महिलाओं की हुकूमत के आगे मर्दों की नहीं चलती...

सबसे पहले साल 1911 में ऑस्ट्रिया, डेनमार्क, जर्मनी और स्विट्जरलैंड में अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस मनाया गयाथा। 1975 में महिला दिवस को आधिकारिक मान्यता उस वक्त दी गई थी जब संयुक्त राष्ट्र ने इसे वार्षिक तौर पर एक थीम के साथ मनाना शुरू किया। अंतर्राष्‍ट्रीय महिला दिवस की पहली थीम थी 'सेलीब्रेटिंग द पास्ट, प्लानिंग फॉर द फ्यूचर।'

English summary

Google marked the International Women's Day with special doodles.

The search engine giant Google on Wednesday dedicated the International Women's Day in a creative manner through its doodle.
We use cookies to ensure that we give you the best experience on our website. This includes cookies from third party social media websites and ad networks. Such third party cookies may track your use on Boldsky sites for better rendering. Our partners use cookies to ensure we show you advertising that is relevant to you. If you continue without changing your settings, we'll assume that you are happy to receive all cookies on Boldsky website. However, you can change your cookie settings at any time. Learn more