For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS  
For Daily Alerts

शरीर में ब्लड क्लॉटिंग होना है खतरनाक, जा सकती है जान

|

अक्सर आपने देखा होगा, कहीं चोट लगने पर थोड़ी देर बाद उस जगह पर नीला निशान पड़ जाता है। जिसे खून का थक्का जमना कहा जाता है। कई बार थोड़ी बहुत खुद भी निकल जाता हो और फिर उस जगह भी खुन जम जाता है। हमारे शरीर में एक ऐसी प्रोपर्टी है जिसके कारण चोट लगने पर खुन जल्दी जम जाता है। इससे शरीर से ज्यादा खुन बाहर नहीं आता है। ये प्रोपर्टी हमारे बॉडी के लिए जितनी जरूरी होती है, उतनी ही जानलेवा भी साबित हो सकती है। कई बार ये ब्लड क्लॉट ब्लड वेसल बनकर हमारे दिल तक पहुंच जाता है। जिसके बाद ये और ज्यादा खतरनाक हो सकता है। और इंसान की जान भी जा सकती है। आइए जानें ब्लड क्लॉट होने के नकारत्मक प्रभाव के बारे में...

दिल में क्लॉटिंग होना

आप सोच रहे होंगे की ब्लड क्लॉटिंग को चोट लगने पर होती है, तो दिल में क्लॉटिंग से क्या मतलब है। दरअसल सीने में तेज दर्द होना, बहुत ज्यादा पसीना आना, या फिर सांस लेने में परेशानी होने हार्ट क्लॉट होने के लक्षण है। इस कारण आपको हर्ट अटैक भी आ सकता है। ऐसे में आप अपने निजी डॉक्टर से सलाह जरूर लें।

अन्य तरह ब्लड क्लॉट

हाथ और पैर में खुन के क्लॉट्स जमना हमारी शरीर के लिए खतरनाक होता है। बेली के इंटेस्टाइन से ब्लड ड्रेन करने वाली नर्वस से भी ब्लड क्लॉट हो जाता है। जो हमारे जान को खतरे में डाल सकता है। अगर आपके पेट में दर्द हो रहा है तो एक बार अपने डॉक्टर को से सलाह जरूर लें।

हाथ और पैर में ब्लड क्लॉट होना

छोटी चोट लगने पर या कोई चीज चुभने पर कई बार हमारे शरीर से थोड़ा बहुत खुन बाहर आ जाता है, और जम जाता है। जिसके बाद उस जगह नील पड़ना, या सूजन हो जाता है। जिसें हम बहुत आम तरीके से देखते हैं, लेकिन ये आपके जान जाने का कारण भी बन सकता है। ये ब्लड क्लॉट आपके दिल तक भी जा सकते हैं। जिस कारण आपकी मौत भी हो सकती है।

Read more about: blood clotting injury health
English summary

Blood clotting in the body is dangerous in hindi

Even after a minor injury, blood clotting in the body can be dangerous for you. Let's learn how...
Story first published: Friday, December 9, 2022, 18:58 [IST]
Desktop Bottom Promotion