क्या आप ज्यादा एस्पिरिन खाते हैं? इससे कोलोन कैंसर का इलाज हो सकता है मुश्किल

Posted By: Lekhaka
Subscribe to Boldsky

ऐस्पिरिन का रोजाना उपयोग करना कोलोन कैंसर के खतरे को कम करने के लिए जाना जाता है लेकिन शोधकर्ताओं का कहना है कि इसका अधिक इस्तेमाल इस बीमारी के इलाज को ज्यादा कठिन बना सकता है।

जर्नल ऑफ दी रॉयल सोसाइटी इंटरफेस में लेखकों ने लिखा है कि रोज़ाना एस्पिरिन लेना विभिन्न प्रकार के कैंसर की घटनाओं को कम करने के लिए जाना जाता है जिसमें कोलोन कैंसर भी शामिल है।

लेकिन एक ही समय में, यह दवा कैंसर को चिकित्सीय तरीके से प्रबंधन करने में अधिक मुश्किलें पैदा कर सकती है।

 Do you use aspirin regularly? It might make colon cancer harder to treat

अनुसंधान में पाया गया कि कम से कम पांच साल तक की एस्पिरिन की दैनिक कम खुराक जीवन में बाद में कैंसर का खतरा कम कर सकती है।

प्रोस्टेट, गले और फेफड़ों के कैंसर की दर काफी कम हो सकती जबकि कोलोन कैंसर की घटनाओं में आधे से अधिक कमी देखी गई है। इस बीच, अन्य अध्ययनों ने प्रयोगशाला में कैंसर की कोशिकाओं पर सीधे एस्पिरिन के प्रभाव का परीक्षण किया है, जिसमें दिखाया गया है कि सामान्य दर्द निवारक कोशिका विभाजन की दर को धीमा कर सकती हैं और कोशिका मृत्यु को बढ़ावा दे सकती हैं।

 Do you use aspirin regularly? It might make colon cancer harder to treat 2

लेकिन वैज्ञानिक इस मैकेनिज्म को नहीं समझते हैं, या यह पता लगा रहे हैं कि कैंसर के फैलने पर एस्पिरिन का अनदेखा प्रभाव हो सकता है या नहीं।

इस बारे में अधिक पता लगाने के लिए, इरविन में कैलिफोर्निया विश्वविद्यालय के शोधकर्ताओं ने अपने प्रयोग में यह जांच की कि क्या दवा खतरनाक कैंसर के म्यूटेशन का कारण बन सकती है?

उन्होंने पाया कि एस्पिरिन कैंसर की आक्रामक, म्यूटेंट सेल्स उत्पन्न करने की क्षमता को बढ़ावा देती हैं, जो दवा के प्रतिरोधी थी। यह परिणाम कैंसर की रोकथाम में एस्पिरिन के उपयोग के प्रोटोकॉल को चुनौती दे सकता है।

उन्होंने कहा कि जो लोग दवा लेते हैं, विशेष रूप से मध्यम आयु में, उन्हें नियमित रूप से कैंसर की जांच करानी चाहिए। संयुक्त राज्य में जो लोग 80 से 325 मिलीग्राम की छोटी खुराक लेते थे, उनमें से लगभग आधे लोग हृदय रोग की बीमारी का शिकार हैं। ब्रिटेन में यह आंकड़ा लगभग 40 फीसदी है।

रोथवेल ने इस साल के शुरू में एक अध्ययन प्रकाशित किया था, जिसमें 75 से अधिक लोगों में आंतरिक रक्तस्राव का खतरा बढ़ रहा था, यह लोग नियमित रूप से एस्पिरिन लेते थे। लोग इसे 50 और 60 के दशक में ले जाना चाहते हैं, लेकिन बाद में रोक सकते हैं। कैंसर की रोकथाम से मिलने वाले लाभ को 10 साल या उससे ज्यादा समय तक ले जाना चाहिए।

English summary

Do you use aspirin regularly? It might make colon cancer harder to treat

Daily aspirin use - known to reduce the risk of colon cancer - could also make the disease harder to treat if it does occur, say researchers.
Story first published: Thursday, September 7, 2017, 9:10 [IST]
Please Wait while comments are loading...