OMG! रीढ़ से सूई निकालना भूले डॉक्टर, 17 घंटे दर्द से तड़पती रही महिला

Posted By: Lekhaka
Subscribe to Boldsky

मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल के सबसे बड़े महिला अस्पताल सुल्तानिया में एक बार फिर डॉक्टर और स्टाफ की लापरवाही सामने आई है।

एक गर्भवती महिला को बेहोशी का इंजेक्शन (स्पाइनल एनेस्थिसिया) लगाने के बाद डॉक्टर निडिल निकालना ही भूल गए।

महिला 17 घंटे तक दर्द से तड़पती रही। लेकिन परिजन और ड्यूटी डॉक्टर निडिल के कारण उठ रहे दर्द को ऑपरेशन से उठने वाला दर्द मानकर उसे तसल्ली देते रहे।

doctors

हैरान करने वाली बात है कि महिला दर्द से तड़पती रही और डॉक्टरों ने ध्यान भी नहीं दिया। डॉक्टर यह तसल्ली देते रहे कि ऑपरेशन के कारण दर्द हो रहा है, लेकिन जब महिला से दर्द सहन नहीं हुआ तो पलटकर देखा गया।

तब जाकर पता चला कि दर्द की वजह रीढ़ की हड्डी में फंसी दो से ढाई इंच लंबी निडिल हैं। ढ़ाई इंच लंबी निडिल को देखकर डॉक्टरों में हड़कंप मच गया।

आनन फानन में डॉक्टर ने निडिल निकाली। कई बार ऐसी स्तिथि में बड़ी अनहोनी हो जाती है। आमतौर पर रीढ़ की हड्डी के साथ इस तरह के खिलवाड़ से मरीज के पैरालाइसिस होने का खतरा रहता है।

गनीमत रही कि महिला ठीक है लेकिन अस्पताल की यह लापरवाही दर्शाती है, कि लापरवाही करना नहीं छोड़ेंगे।

English summary

Doctors leave needle inside pregnant woman's body, remove after 16 hrs

In a case of sheer negligence by the hospital authority, a government hospital of Bhopal allegedly left needle inside the body of a pregnant woman after giving her Spinal Anesthesia during her delivery.
Please Wait while comments are loading...