नाश्‍ते में चॉकलेट मिल्‍कशेक या हनी स्‍मूदीज पीते है तो यह आर्टिकल आपके लिए है..

Posted By:
Subscribe to Boldsky

अगर आप थोड़ा या बहुत ज़्यादा वजन घटाने की कोशिश में और आप लिक्विड डाइट को फॉलो करती है तो इस समय आपको अपने खानपान पर ज्‍यादा ध्यान देने की जरुरत होती है। जो लोग लिक्विड डाइट पर होते है या सामान्‍य डाइट पर होते है वो लोग नाश्‍ते में अपनी खुराक के तौर पर नाश्ते में चॉकलेट मिल्कशेक या हनी स्मूदीज़ पीते हैं। अगर आप भी कुछ ऐसा करती है तो ये आर्टिकल पढि़ए।

वैसे ये सारी चीज़ें बहुत अधिक पौष्टिक हैं, लेकिन अगर आप इन चीज़ों को एक-दूसरे से मिलाकर खाते-पीते हैं, तो आपको फायदा कम और नुकसान ज़्यादा होगा। क्योंकि इन चीज़ों को मिलाने से आपके खाने में कैलोरी और शुगर की मात्रा बढ़ जाती है।

इसलिए ध्‍यान दी‍जिए कि नाश्‍ते के दौरान आपको लिक्विड डाइट में किन चीजों से बचना चाहिए।

शहद

शहद

कई लोग स्मूदीज़ में शहद भी मिलाते हैं, लेकिन थोड़ी सी शहद से भी आपको 100 से 200 कैलोरी मिल सकती है, जो कि आपके मोटापे को बढ़ाने का काम करेगा। इसकी बजाय आप केवल फलों की नैचुरल मिठास का ही स्वाद लें।

नट बटर

नट बटर

अगर वेट लॉस आपका लक्ष्य है, तो आपको अपनी स्मूदीज़ में नट बटर जोड़ना बंद करना होगा। जी हां, ये भले ही आपका पेट भरने के लिए अच्छे होते हैं, लेकिन सिर्फ एक बड़े चम्मच पीनट बटर (शुगर-फ्री) से भी आपकी स्मूदीज़ में लगभग 100 कैलोरी बढ़ सकती है।

फ्लेवर्ड योगर्ट

फ्लेवर्ड योगर्ट

जी हां, दही आपकी स्मूदीज़ को और अच्छा बनाता है, लेकिन फ्लेवर्ड योगर्ट में चीनी बहुत अधिक होती है। इसकी बजाय, स्वाद को बढ़ाने के लिए स्ट्रॉबेरी या ब्लूबेरी जैसे फल मिलाएं जो खूश्बू और स्वाद दोनों से भरपूर होते हैं।

 चोको चिप्स

चोको चिप्स

चॉकलेट शेक जैसी चीज़ों का स्वाद पसंद हो तो आपको अपनी यह आदत भी बदलनी चाहिए, लेकिन सिर्फ एक चौथाई कप चोको चिप्स से आपकी स्मूदी में 280 कैलोरी तक बढ़ सकती है और जैसा कि चॉकलेट में शक्कर होती है इसीलिए इससे करीब 30 ग्राम चीनी भी आपकी स्मूदीज़ में जुड़ जाएगी।

प्रोटीन पाउडर

प्रोटीन पाउडर

हालांकि कई लोग जो जिम जाते है या वेटलॉस के दौरान प्रोटीन पाउडर का सेवन करते है। प्रोटीन पाउडर में कोई खराबी नहीं है। लेकिन यह जानना बहुत जरुरी है कि आपके पाउडर में अतिरिक्‍त किस क्‍वालिटी की सामग्री को जोड़ा गया है। बाजार में आजकल कई उत्‍पाद है जो व्‍हे प्रोटीन से बने हुए मिलते है। कई प्रोटीन पाउडर में भी हाई कैलोरी और शुगर शामिल होते है। बाजार के पैकेटबंद प्रोटीन से अच्‍छा है कि आप ऑर्गेनिक रुप से मिलने वाला प्रोटीन जैसे मटर, सन का पौधा , या साचा इनची से बने उच्‍च क्‍वालिटी के ऑर्गेनिक प्‍लांट से संतुलित प्रोटीन का सेवन करें।

अधिक मीठे फल

अधिक मीठे फल

अधिक मीठे फल जैसे केला, अंगूर, खजूर, आम और सूखे मेवे माना कि ये पोष्टिकता से भरपूर होते है। लोग नाश्‍ते में इन्‍हें स्‍मूदीज में मिलाकर खाना पसंद करते है। लेकिन इनमें शुगर की मात्रा बहुत ही ज्‍यादा होती है जो शरीर में घुलकर शुगर की मात्रा को बढ़ा देते है। अगर आप वजन कम कर रहे है तो इन खाने से बचें। इनकी जगह फ्रेश और ठंडी बैरीज, ग्रीन एप्‍पल और सिट्रीक एसिड से भरे फल भी खा सकते है।

डिब्बाबंद फल

डिब्बाबंद फल

स्मूदीज़ बनाते समय किसी भी डिब्बाबंद या कैन्ड फल को उसमें ना मिलाएं, क्योंकि यह शुगर सिरप और अन्य गंदे एडिटिव्स के साथ पैक किया जाता है। इसके अलावा, फलों को डिब्बाबंद करने की प्रक्रिया में उसके सारे विटामिन नष्ट हो जाते हैं और आपको ताज़ें फलों जैसा कोई पोषण डिब्बाबंद फलों से नहीं मिलता।

English summary

Never Add These Ingredients to Your Weight Loss Smoothies

whether making your own weight loss smoothie or shopping for one, be mindful of ingredients that contribute to weight gain, not loss.
Story first published: Thursday, April 12, 2018, 13:45 [IST]