For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS  
For Daily Alerts

जांघों पर जमी जिद्दी चर्बी से है परेशान, इस आसान से योगासन से हटाएं

|

ज्‍यादात्तर महिलाओं का फैट जांघों पर जमा होता है। ये फैट बहुत जिद्दी होते हैं। उम्र बढ़ने के साथ ही और दूसरे कई फैक्‍टर्स की वजह से लोअर एब्‍डोमन और जांघों पर चर्बी जमना शुरू हो जाती है। जिम में घंटों मशक्‍कत करने के बाद भी आसानी से ये चर्बी नहीं जाती हैं। ऐसे में जांघों को फिर से शेप में लाना मुश्किल होता है।

लेकिन योग के माध्‍यम से भी आप अपनी जांघों को फिर से सुडौल बना सकते हैं। अर्ध चंद्रासन के माध्‍यम से आप जांघों और लोअर बैक टोन करके खूबसूरत शेप पा सकती हैं। आइए जानते है इस आसन के बारे में।

कैसे करें अर्ध चंद्रासन

कैसे करें अर्ध चंद्रासन

  • सबसे पहले दोनों पैरों की एड़ी-पंजों को मिलाकर खड़े हो जाएं। दोनों हाथ कमर से सटे हुए गर्दन सीधी और नजरें सामने।
  • अब दोनों पैरों को लगभग एक से डेढ़ फिट दूर रखें। मेरुदंड सीधा रखें। इसके बाद दाएं हाथ को उपर उठाते हुए कंधे के समानांतर लाएं फिर हथेली को आसमान की ओर करें।
  • अब उसी हाथ को और उपर उठाते हुए कान से सटा देंगे। इस दौरान ध्यान रहे की बायां हाथ आपकी कमर से ही सटा रहे।
  • फिर दाएं हाथ को उपर सीधा कान और सिर से सटा हुआ रखते हुए ही कमर से बाईं ओर झुकते जाएं। इस दौरान आपका बायां हाथ अपने आप ही नीचे खसकता जायेगा।
  • ध्यान रहे कि बाएं हाथ की हथेली बाएं पैर से अलग न हटने पाए। जहां तक हो सके बाईं ओर झुकें और इस अर्ध चंद्र की स्थिति में 30-40 सेकंड तक रुकें।
  • वापस आने के लिए धीरे-धीरे दोबारा सीधे खड़े हो जाएं। फिर कान और सिर से सटे हुए हाथ को उसी तरह कंधे के समानांतर ले आएं। फिर हथेली को भूमि की ओर करते हुए हाथ को कमर से सटा लें।
  • यह दाएं हाथ से बाईं ओर झुककर किए गए अर्ध चंद्रासन की पहली आवृत्ति हैं। अब इसी आसन को बाएं हाथ से दाईं ओर झुकते हुए करें। इसके बाद फि‍र से रिलैक्‍स पोजीशन यानी विश्राम की अवस्था में आ जाएं।
  • एक बार में अर्ध चंद्रासन के 4 से 5 सेट करें। अभ्‍यास होने पर धीरे-धीरे बढ़ा सकती हैं।

Most Read : लम्‍बे समय से हो रहे कंधे के दर्द को इस आसन से करे दूर, बहुत असरदार है ये योग

जांघों की चर्बी करें कम

जांघों की चर्बी करें कम

जो लोग जांघों में जमी चर्बी से परेशान हैं उनके ल‍िए तो यह आसन बहुत फायदेमंद हैं। इस आसन को करने से लोअर बैक एरिया और जांघें सुडौल बनती हैं। अतिरिक्त स्ट्रेच से पेट की चर्बी भी कम होगी और आपका शरीर मज़बूत बनेगा जांघों पर जमी चर्बी को कम करने का यह कारगर योगासन है।

स्‍त्री रोगों में फायदेमंद

स्‍त्री रोगों में फायदेमंद

इसके अलावा यह गर्भाशय और मूत्र नली से संबंधित स्‍त्री रोगों में विशेष रुप से लाभकारी होता है। यह आसन रक्त का संचार बढ़ाता है. महिलाओं के अंडाशय, गर्भाशय से संबंधित समस्याओं में अर्ध चंद्रासन विशेष लाभ देता है। यह आसन पूरे शरीर को लचीला बनाता है।

सांस संबंधी समस्‍याएं करें दूर

सांस संबंधी समस्‍याएं करें दूर

अर्ध चंद्रासन के अभ्यास से शरीर की सभी माँसपेशियाँ और जोड़ों में एक साथ खिंचाव आता है। खासकर छाती और गले में। जिन्हें सांस संबंधित तकलीफ़ है उन्हें अर्ध चंद्रासन ज़रूर करना चाहिए। इसके अलावा टांसिल, सर्दी-खाँसी में भी यह आसन लाभ देता है।

Most Read : कलारिपयट्टू: श्रीकृष्ण ने किया था दुनिया का पहला मार्शल आर्ट, जानिए इसके फायदे और इति‍हास के बारे में

ध्यान रहें

ध्यान रहें

अगर आप पाचन संबंधी समस्या से जूझ रहे हों, रीढ़ में चोट हो या उच्च रक्तचाप से ग्रसित हों तो यह आसन न करें। ब्‍लड प्रेशर वाले इस आसन को न करें। डायर‍िया से पीड़ित व्‍यक्ति इस आसन को न करें। अगर आपको कमजोरी की समस्‍या है तो इस आसन को नजरअंदाज करें।

English summary

Ardha Chandrasana (Half Moon Pose) to Tone your Buttocks

Ardha Chandrasana (Half Moon Pose) makes your thighs and ankles stronger and stretches your calves. It increases your concentration levels and gives your body a better sense of coordination.
We use cookies to ensure that we give you the best experience on our website. This includes cookies from third party social media websites and ad networks. Such third party cookies may track your use on Boldsky sites for better rendering. Our partners use cookies to ensure we show you advertising that is relevant to you. If you continue without changing your settings, we'll assume that you are happy to receive all cookies on Boldsky website. However, you can change your cookie settings at any time. Learn more