For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS  
For Daily Alerts

आपका इनरवियर्स भी बचा सकता है वजाइनल इंफेक्‍शन से, इन बातों का भी रखें ध्‍यान

|

महिलाओं में यूटीआई और वजाइनल इंफेक्शन की दिक्कत होना बेहद ही आम समस्या है। लेकिन प्रेगनेंसी के दौरान ये समस्‍या होनो की ज्‍यादा समस्‍या होती है। प्राइवेट पार्ट्स की हाइजीन का ख्‍याल रखकर भी आप इससे बच सकते हैं। अंडरगार्मेंट्स को भी ठीक तरह से साफ नहीं करते है। , धूप व हवा से दूर रहने और जननंगों के लगातार संपर्क में बने रहने के चलते अंडरगार्मेंट्स में बहुत से कीटाणु पनपते हैं। साफ अंडरगार्मेंट न पहनने पर जनगांगो में संक्रमण, यहां तक कि यूटीआई (मूत्र मार्ग संक्रमण) आदि रोग होने का जोखिम पैदा हो जाता है।

हाइजीन को ध्यान में रखकर चुनें इनरवियर

हाइजीन को ध्यान में रखकर चुनें इनरवियर

  • महिलाओं को सिर्फ फैशन और ट्रेंड नहीं बल्कि अपनी सेहत को ध्यान में रखते हुए इनरवियर्स का चुनाव करना चाहिए। नाइलॉन या मिक्स कॉटन के फैंसी इनर्स चुनने से बेहतर है कि आप प्योर कॉटन के आरामदायक इनर्स खरीदें।
  • क्योंकि गर्मी के मौसम में ये इनर्स आपकी त्वचा को सांस लेने का पूरा अवसर देंगे। आपके शरीर से निकलनेवाला पसीना सोखते हैं। आपको चिपचिपाहट से बचाने का काम करते हैं। कॉटन में एयर पास होती रहती है इसलिए आप स्किन इंफेक्शन से भी बची रहेंगी।
प्रेगनेंसी में पहनें ये इनरवियर्स

प्रेगनेंसी में पहनें ये इनरवियर्स

अगर आप प्रेग्नेंट हैं तो प्रेग्नेंसी के दौरान आप अपने लिए कॉटन की ब्रा और पैंटी चुनें। इससे आपको रैशेज और इचिंग की समस्या नहीं होगी। अगर आपको गर्मी के कारण खुजली और लाल निशान होने की समस्या हो रही है तो कॉटन के इनर्स इसे दूर करने में मदद करेंगे।

  • प्रेग्नेंसी और टेंडर यानी कोमल हो जाती है। शरीर में हो रहे हॉर्मोनल बदलावों के कारण कुछ महिलाओं को प्रेग्नेंसी के दौरान ब्रेस्ट पर इचिंग की समस्या भी होती है। इससे बचने में कॉटन ब्रा काफी हेल्पफुल हैं।
प्राइवेट पार्ट की रखें सफाई

प्राइवेट पार्ट की रखें सफाई

गाइनोकॉलजिस्ट के अनुसार, महिलाओं को दिन में कम से कम दो बार अपने वजाइनल एरिया को क्लीन करना चाहिए। इससे बैक्टीरिया और फंगस को पनपने का समय नहीं मिलता है।

  • दोनों बार धुले हुए और साफ अंडरगार्मेंट्स पहनने चाहिए। ध्यान रखें कि आपके इनर्स बहुत अधिक टाइट ना हों। इसके साथ ही आप आप रात को सोने से पहले अपने प्राइवेट पार्ट्स को मेडिकेटेड वॉश से क्लीन करेंगी तो और भी बेहतर रहेगा।
अगर दिखें ये लक्षण

अगर दिखें ये लक्षण

गर्मी के कारण बहुत अधिक पसीना आता है और इस वजह से वजाइना में इचिंग, इंफेक्शन, डिस्‍चार्ज जैसी दिक्कतें होना बहुत कॉमन है। लेकिन आप इसे बर्दाश्त या अनदेखा ना करें। साफ-सफाई का ध्यान रखें और अधिक से अधिक लिक्विड डायट लेती रहें। इससे आपको फायदा होगा।

ऑफिस गोइंग फीमेल्स को कुछ अधिक दिक्कतों का सामना करना पड़ता है। क्योंकि पब्लिक टॉइलट यूज करने से उनमें वेजिनाइटिस होने के चांस कई गुना बढ़ जाते हैं। इसलिए इन्हें अपनी हाइजीन को लेकर अधिक सतर्कता बरतने की जरूरत होती है।

वेजिनाइटिस का कारण हो सकती है प्रेग्नेंसी

वेजिनाइटिस का कारण हो सकती है प्रेग्नेंसी

जैसे ही आपका पीरियड मिस हो आपको तुरंत प्रेग्नेंसी टेस्ट करना चाहिए। क्योंकि इस दौरान वजाइनल सीक्रेशन इंक्रीज हो जाता है। ऐसे में वेजिनाइटिस (वजाइनल इंफेक्शन) हो सकता है। इसलिए वजाइनल एरिया को मेडिकेडेट वॉश से क्लीन करना चाहिए।

English summary

Underwear Rules to Live by for a Healthy Vagina

Your pantie guidebook to cleaning, wearing, and living.