For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS  
For Daily Alerts

Eid Milad un Nabi 2022: पैगंबर मुहम्मद साहब के बारें में 20 ग्रेट फैक्ट्स जानें

|

ईद-मिलाद-उन-नबी या ईद-ए-मिलाद पैगंबर मुहम्मद के जन्म का प्रतीक है। यह पूरे भारत में मुसलमानों के लिए एक महत्वपूर्ण दिन माना जाता है क्योंकि ये पवित्र पैगंबर की दया, करुणा और शिक्षाओं की याद दिलाता है। पैगंबर मुहम्मद की शिक्षा समुदाय के लिए मूल्यवान है। से ईद-ए-मिलाद या बारावफात के नाम से भी जानते है। आपको बता दें कि इस्लामिक कैलेंडर के मुताबिक, 12 रबी-उल-अव्वल की तारीख में होने वाला त्योहार मुस्लिम समुदाय के लिए काफी ज्यादा महत्व रखने वाला है। इस दिन को दुनिया भर के मुसलमान काफी उरूज के साथ मनाते हैं। उनके बताए पैगाम को दीनी महफिलों में बताया जाता है और उस पर अमल करने की बारें में बताया जाता है। विशेष नमाजें मुसलमान अदा करते हैं। साथ ही पूरे दिन और रात इस उत्सव को मनाया जाता है। यहा पैगंबर मुहम्मद साहब के बारे में उनकी महानता के बारें में फैक्ट्स बता रहे हैं-

पैगंबर मुहम्मद साहब के बारें में ग्रेट फैक्ट्स-

पैगंबर मुहम्मद साहब के बारें में ग्रेट फैक्ट्स-

1. पैगंबर मुहम्मद साहब पैगंबर इब्राहिम के बेटे पैगंबर इस्माइल के वंशज थे।

2. पैगंबर मुहम्मद साहब की पैदाइश मक्का शहर में हुई थी।

3. वर्ष 570 ई.

4. उनकी पैदाइश के कुछ समय बाद ही उनकी मां का देहांत हो गया।

5. उनके पिता उनकी पैदाइश से पहले ही इस दुनिया से रुख्सत हो चुके थे।

पैगंबर मुहम्मद साहब के बारें में ग्रेट फैक्ट्स-

पैगंबर मुहम्मद साहब के बारें में ग्रेट फैक्ट्स-

6. उनके चाचा अबू तालिब और उनके दादा अब्दुल-मुतलिब ने उनकी देखभाल की।

7. नौ साल की उम्र में उन्होंने अपने चाचा के साथ व्यापार यात्राएं शुरू कर दीं।

8. इन बिजनेस ट्रिप के दौरान पैगंबर मुहम्मद साहब कई देशों और धर्मों के लोगों से मिले।

9. उनके कैरेक्टर का सभी सम्मान करते थे। यहूदियों सहित पूरे मदीना में लोगों ने उनको ‘भरोसेमंद' का नाम दिया।

10. अपनी एक यात्रा में वे एक ईसाई विद्वान से मिले, विद्वान ने उनके चाचा से कहा कि मोहम्मद साहब एक दिन कुछ महान करेंगे और मैं इसे देख सकता हूं।

पैगंबर मुहम्मद साहब के बारें में ग्रेट फैक्ट्स-

पैगंबर मुहम्मद साहब के बारें में ग्रेट फैक्ट्स-

11. जब वे 25 साल के हुए तो पैगंबर मुहम्मद को बीबी खदीजा से शादी का प्रस्ताव मिला जिसे उन्होंने स्वीकार कर लिया और इस तरह उन्होंने शादी कर ली। शादी के वक्त बीबी खदीजा की उम्र 40 साल थी।

12. अपने जीवन के पहले 54 सालों में उनकी केवल एक बीवी बीबी खतीजा थीं।

13. उनके बेटे थे लेकिन उनकी बचपन में डेथ हो गई।

14. पैगंबर मुहम्मद ने कभी अकेले नहीं खाया। वे हमेशा दूसरों को आमंत्रित करते थे और फिर उनके साथ खाना खाते थे।

पैगंबर मुहम्मद साहब के बारें में ग्रेट फैक्ट्स-

पैगंबर मुहम्मद साहब के बारें में ग्रेट फैक्ट्स-

16. उन्होंने खाना खाने से पहले और बाद में हाथ धोने के लिए प्रोत्साहित किया।

17. वे नियमित रूप से गरीबों और बीमारों से मिलने जाते थे।

18. किसी शख्स मिलने पर, वो उनका अभिवादन करते थे और फिर घर में प्रवेश करने से पहले उनकी अनुमति लेते थे और दूसरों को भी सम्मान के निशान के रूप में ऐसा करने के लिए प्रोत्साहित करते थे।

पैगंबर मुहम्मद साहब के बारें में ग्रेट फैक्ट्स-

पैगंबर मुहम्मद साहब के बारें में ग्रेट फैक्ट्स-

19. वो अपने विवाहित जीवन के दौरान अपने कपड़े ठीक करते थे, अपने जूतों की मरम्मत करते थे, और फर्श पर झाडू लगाते थे, साथ ही घर के लिए खरीदारी करते थे।

20. उस वक्त मक्का के लोग कई बुरे कामों में शामिल थे, जैसे कि अपनी बेटियों को मारना, शराब पीना, रेप करना और निर्दोष लोगों की हत्या करना, पैगंबर मुहम्मद साहब ने इन पर रोक लगाने का काम किया।

English summary

Eid Milad un Nabi 2022: Some Great Facts About Prophet Muhammad

Eid-Milad-un-Nabi or Eid-e-Milad marks the birth of Prophet Muhammad. It is considered an important day for Muslims across India as it commemorates the mercy, compassion and teachings of the Holy Prophet. The teachings of Prophet Muhammad are valuable to the community. It is also known as Eid-e-Milad or Barawafat. Let us tell you that according to the Islamic calendar, the festival on the date of 12 Rabi-ul-Awwal is of great importance for the Muslim community.
Desktop Bottom Promotion