विवाह में आ रही अड़चनों को दूर करने के लिए करें यह उपाय

Posted By:
Subscribe to Boldsky

अक्षया तृतीया हिंदू कैलेंडर का बहुत ही महत्‍वपूर्ण दिन है। चंद्र सौर कैलेंडर के अनुसार अक्षय तृतीया वैशाख माह के चंद पक्ष के तीसरे दिन मनाया जाता है।

हिंदू धर्म में इस दिन का खासा महत्‍व है। इस दिन मां लक्ष्‍मी और अन्‍नपूर्णा की पूजा की जाती है। घर में नए महंगी वस्‍तु खरीदी जाती है। कहते है कि इस दिन किसी अच्‍छे काम की शुरुआत करो तो आगे भी चीजें अच्‍छी होती है और वो आगे चलकर खराब नहीं होती है। हिंदू धर्म में शादियों के लिए इसे अबूझ मुहूर्त माना जाता है।

इस दिन को नई गाड़ी खरीदनी हो या नया घर या नया सोना। इस दिन को शुभ माना जाता है। इस दिन सोना खरीदना बहुत ही शुभ होता है क्‍योंकि सोने को लक्ष्‍मी के रुप में देखा जाता है। इसके अलावा जिन लोगों की शादी में अकारण ही विलम्‍ब हो रहा है। अक्षया तृतीया में कुछ उपायों के जरिए जल्‍दी शादी हो जाएगी।

शादी और अक्षय तृतीया

शादी और अक्षय तृतीया

इसके अलावा अक्षय तृतीया के दिन कई नए कार्य भी शुरु किए जाते है। हमारे देश में कुछ निश्चित स्‍थानों पर लोग मोक्ष प्राप्ति के लिए इस दिन को चुनते है। कहते है कि बच्‍चें की शिक्षा शुरु करने के लिए यह सबसे श्रेष्‍ठ मूहर्त होता है। कई लोग इस दिन अपने बच्‍चों को पहला अक्षर लिखाना सिखाते है। माना जाता है कि आगे चलकर वो शिक्षा के क्षेत्र में काफी नाम कमाएगां। जैसे दूसरे तिथियों में विवाह करने से पूर्व पंडित से शुभ मूहर्त निकलवाना होता है। वैसे इस दिन लोग बिना मुहूर्त देखे ही शादी कर सकते है। अक्षया तृतीया को शादी के गंठबंधन में बंधने के लिए अच्‍छे रुप में देखा जाता है।

 इन उपायों से हो जाएगी जल्‍दी शादी

इन उपायों से हो जाएगी जल्‍दी शादी

कई कारण होते है जिस‍के वजह से शादी में देरी होती है। जो सबसे बड़ी समस्‍या होती है वो है जन्‍मपत्री और राशियों में ग्रहों की बुरी स्थिति की वजह से शादी में अड़चन आती है। जिनके राशि में शनि, शुक्र, मंगल और राहु का दोष होता है उनके साथ ये दिक्‍कते होती है। जन्‍म पत्री में 7 वां गृह शादी का होता है। अगर गृहों की दशा इस स्‍थान पर बनती बिगड़ती है तो इसका प्रभाव शादी पर पड़ता है। आइए जानते है उन उपायों के बारे में जिससे अक्षय तृतीया पर करने से शादी में आ रही अड़चन को दूर किया जा सकता है।

 ये करें-

ये करें-

  • अपने हाथ में एक नारियल लीजिए और अपने आराध्‍य देव या देवी को याद करें। इसके बाद अपने मन ही मन में अपना नाम और गोत्र का उच्‍चारण करें, और पीपल के वृक्ष के आसपास चारों तरफ चक्‍कर लगाएं। अब नारियल को वहीं पेड़ के पास छोड़ दे। इससे विवाह में आ रही सारी अड़चनें दूर हो जाएंगी।
  • एक मंदिर में मिट्टी के बने घड़े को शिवजी को दान कर दें।
  • भगवान शिव और देवी पार्वती का रुद्राभिषेक करवाएं।
  • ज्‍योतिष से मालूम करवाएं की कौनसे गृह के दोष के कारण विवाह में देरी हो रही है। उस गृह की शांति के पूजा पाठ करें। मंत्रों का उच्‍चारण करें।
  • भक्तिभाव से पूजा अर्चना करें जल्‍दी ही कुछ न कुछ खुशखबरी सुनने को मिलेगी।

यह करें उपाय

यह करें उपाय

अक्षय तृतीया के रात को, ए‍क पीला वस्‍त्र ले और उसे फर्श पर बिछा दे। पूर्व की तरफ चेहरा कर लें।

  • उस तरफ देवी पार्वती की तस्‍वीर लगा लें।
  • अब मुठ्ठीभर गेंहू ले। और कपड़े पर रख दें।
  • इससे पहले विवाह बाधा निर्वाण विग्रह खरीद ले। उसे गेंहू, पर रख दे। अब केसर, चंदन की लकड़ी का पेस्‍ट बनाकर उसका तिलक अपने चेहरे पर लगाएं।
  • अब हल्‍दी की गाठियों से बनी हुई माला को फेरे और इन मंत्रों का उच्‍चारण करें।

जिन पुरुषों के विवाह में हो रही है देरी

जिन पुरुषों के विवाह में हो रही है देरी

'पातीन मनोरमंग देहि मानवोविटानुसिरिनिंग

तरिणिंग दुर्गसाससगसर्य कुलदभवाम'

जिन लड़कियों के विवाह में हो रही है देरी

जिन लड़कियों के विवाह में हो रही है देरी

ओम गंग गौराण गंग शीघ्र विवाह, सिद्धये गौरि फट्ट '

हल्‍दी की गांठियों से बनी माला को तीन दिन तक फेरे और इन मंत्रों का उच्‍चारण करें। यह काम अक्षय तृतीया के मौके पर ही करें। चौथे दिन माता पार्वती के मंदिर जाएं और यह हल्दियों की माला वहां चढ़ा दें।

English summary

Remedies For Delayed Marriages On Akshaya Tritiya

Getting married on akshaya tritiya is believed to be very auspicious, as it is said to be one of the most pious days in Hindu religion.
Story first published: Friday, April 28, 2017, 15:30 [IST]
Please Wait while comments are loading...