ताउम्र मां के शरीर में मौजूद रहते हैं बच्‍चे के ये अंश

Subscribe to Boldsky

बच्‍चे के जन्‍म की प्रक्रिया को प्रसव कहा जाता है। हर कॉमन पर्सन की सोच होती है कि बच्‍चे के जनम के बाद, मां के शरीर में सब सामान्‍य हो जाता है और बच्‍चे का कोई भी अंश नहीं रह जाता है। लेकिन ये कहना पूरी तरह सही नहीं होगा।

c section

आपको बता दें कि इस संदर्भ में हमेशा कोई न कोई अध्‍ययन, डॉक्‍टर्स के द्वारा होता ही रहता है और इन अध्‍ययनों से पता चला है कि बच्‍चे के जन्‍म के बाद भी बेबीज़ शेड फेटल सेल्‍स, उसके शरीर में बनी ही रहती हैं। ये कोशिकाएं, मां के शरीर में लाइव यानि जिंदा रहती है।

baby

इनका समय दो या चार दिन का नहीं होता है बल्कि ये सालों-साल मां के शरीर में मौजूद रहती है जो उनके बच्‍चे का ही अंश होता है। उम्‍मीद है कि आपको ये बात सुनकर आनंद आया होगा?

हालांकि शोधकर्ताओं को ये पता नहीं चला है कि माता के लिए इनमें से कौन सी कोशिकाएं होती है। क्‍या ये वो कोशिकाएं तो नहीं है जिन्‍हें महिला के शरीर से भ्रूण बनने से रोक दिया हो।

अध्‍ययन में इन कोशिकाओं को बच्‍चे की कोशिका से मिलते-जुलते पाया गया है। कुछ शोध और अध्‍ययनों में यह बात भी सामने आई है कि ये कोशिकाओं, महिलाओं को बीमार होने से भी बचाती हैं।

baby

इस क्षेत्र में अब तक बहुत ज्‍यादा कार्य किया जा चुका है और प्राथमिक शोधों से यह बात उभर कर सामने आई है कि इन कोशिकाओं के शरीर में मौजूद रहने के कारण, महिला को कई घातक बीमारियों जैसे- कैंसर आदि से भी बचाता है।

surprising thing your newborn leaves behind in your body

कई वैज्ञानिकों का मानना है कि मां और बच्‍चे के बीच ताउम्र प्‍यार और टेलीपैथी जैसा सम्‍बंध बने रहने के पीछे सबसे बड़ा कारण, इन्‍ही कोशिकाओं का शरीर में मौजूद रहना होता है।

English summary

The surprising thing your newborn leaves behind in your body

Perhaps to prime us for a lifetime of our children leaving things behind, it turns out that babies shed fetal cells before being born.
Please Wait while comments are loading...