For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS  
For Daily Alerts

क्‍या नवजात शिशु के बाल झड़ना सामान्‍य बात है?

|
बच्चों के बालों के झड़ने के पीछे ये है वजह | Hair Loss in Babies | Boldsky

अगर आपको लगता है कि सिर्फ उम्रदराज लोगों के ही बाल झड़ते हैं तो आप गलत हैं। 2 साल के होने तक नवजात बच्‍चों के भी बाल झड़ सकते हैं। कुछ कारणों और जींस की वजह से खासतौर पर जन्‍म के पहले 6 महीनों में शिशु के बाल झड़ सकते हैं।

ऐसा क्‍यों होता है

Hair Loss in Newborns

वैसे तो मां के गर्भ में ही शिशु के सिर पर बाल आने शुरु हो जाते हैं। अधिकतर नवजात शिशुओं के शरीर में हार्मोन लेवल गिरने पर जन्‍म के पहले 6 महीनों में बाल झड़ सकते हैं। इस प्रकार बाल झड़ने को 'टेलोजन एफलुविअम’ कहा जाता है।

वयस्कों की तरह ही बच्‍चों में बाल झड़ने का कारण क्रैडल कैप हो सकता है जिसमें स्‍कैल्‍प पर मौजूद सीबम की मात्रा कम होने लगती है। इस वजह से शिशु के पतले बाल टूटने लगते हैं।

अगर आपका बच्‍चा लंबे समय तक एक ही पोजीशन में सोता और बैठता है तो उसके सिर के बीच में गंजेपन के निशान हो सकते हैं। ये भी बाल झड़ने का एक कारण हो सकता है। अगर शिशु बिस्‍तर पर अपना सिर रगड़ता है तो उसके बाल झड़ सकते हैं।

चलना शुरु करने वाले और बड़े बच्‍चों में भी बाल झड़ने की समस्‍या हो सकती है। इस दौरान ये बच्‍चे जमीन पर अपना सिर बहुत रगड़ते हैं। इस प्रकार के बाल झड़ने को 'टिकोटिलोमेनिआ’ कहते हैं।

उपचार एवं निदान

Hair Loss in Newborns

बच्‍चों के हल्‍के और पतले बालों को टूटने और गिरने से बचाने का कोई इलाज एवं उपाय नहीं है। समय के साथ बच्‍चों के नए बाल फिर से आ जाते हैं। हालांकि, कुछ सावधानियां बरतकर आप आगे बाल झड़ना रोक सकते हैं।

अगर लंबे समय तक एक ही पोजीशन में सोने की वजह से आपके बच्‍चे के बाल झड़ रहे हैं तो रात को सोते समय उसकी पोजीशन बदलते रहें।

यदि बाल झड़ने की वजह क्रैडल कैप है तो उसके सिर पर नारियल तेल की मालिश करें।

English summary

Hair Loss in Newborns: Causes and Treatment

Newborn hair loss is perfectly normal and nothing to worry about. Babies often lose their hair during the first six months.
Story first published: Monday, September 9, 2019, 17:08 [IST]
We use cookies to ensure that we give you the best experience on our website. This includes cookies from third party social media websites and ad networks. Such third party cookies may track your use on Boldsky sites for better rendering. Our partners use cookies to ensure we show you advertising that is relevant to you. If you continue without changing your settings, we'll assume that you are happy to receive all cookies on Boldsky website. However, you can change your cookie settings at any time. Learn more