For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS  
For Daily Alerts

छोटे बच्चों को बनाना है तंदुरुस्त, तो जरूर सिखाएं योगा

|

नन्हें बच्चों की मालिश संग हल्का फुल्का व्यायाम उन्हें दिमागी और शारीरिक तौर पर बहुत फायदा पहुंचाता है। व्यायाम के साथ साथ अगर योगा का अभ्यास भी कराया जाए तो बच्चे आत्मविश्वासी और तनाव फ्री रहते हैं।

असल में एक्सपर्ट्स का मानना है कि छोटी उम्र में योगा करने से बच्चे भविष्य में बहुत सी बड़ी बीमारियों से दूर रहते हैं। हालांकि नवजात और बहुत छोटे बच्चे खुद के शरीर को ढंग से संभाल नहीं पाते, ऐसे में माता पिता की मदद से बच्चे योगासन पूरा कर सकते हैं।

इससे पैरेंट्स व बच्चों के बीच का रिश्ता थोड़ा और मजबूत बनेगा। साथ ही योगा से बच्चे हर तरह के माहौल में खुद को ढाल लेने के साथ ही सहज महसूस करते हैं और बेहतर व्यवहार करते हैं। चलिए आज जानते हैं कि आखिर किस तरह सरल सा योगा आपके बच्चों को लंबा फायदा पहुंचाता है।

होता है दिमागी विकास

फिजिकल टच से बच्चे और उनके माता पिता के बीच का रिश्ता और गहरा होता है। ऐसे में बेबी योग के जरिए अभिभावक और बच्चों को एक साथ और बहुत समय बिताने को मिल जाता है। इससे उनके बीच अच्छी समझदारी, एक दूसरे से बात करने का तरीके के साथ अच्छा व्यवहार बनता है, जिससे पैरेंट्स और बच्चों का नाता और पक्का हो जाता है। इतना ही नहीं, बच्चे खुद को ज्यादा सुरक्षित माहौल में महसूस करने लगते हैं।

शारीरिक फायदे

योगा के जरिए बच्चों की जहां मांसपेशियां टोन होती हैं तो वहीं रीढ़ की हड्डी, गर्दन और शरीर के बाकि सभी ज्वाइंट्स और मजबूत बनते हैं। साथ ही योगा से रक्त प्रभाव भी सुचारू रूप से चलने लगता है, जिससे ऑक्सीजन की कमी नहीं होती और बच्चा आसानी से सांस ले पाता है। वहीं चोट लगने या फिर किसी और वजह से होने वाले दर्द से बच्चे बहुत जल्दी परेशान होकर रोने लगते हैं। ऐसे में योगा के रोज अभ्यास से बच्चों को दर्द से राहत मिलती है, दिमाग भी शांत रहता है, जिससे बच्चों को अच्छी गहरी नींद आती है।

English summary

How yoga can benefit infants and baby

Gentle stretching’s of the baby’s body parts imparts a lot of benefits to them both mentally and physically, say experts.
Story first published: Friday, November 22, 2019, 9:15 [IST]