ब्रेस्‍ट मिल्‍क बढ़ाने के लिए अजमाएं इस आयुर्वेदिक नुस्‍खे को

Posted By: Seema
Subscribe to Boldsky

मां बनने के बाद ब्रेस्‍ट फीडिंग करना एक अद्भूत अनुभव होता है। इसके जरिए ही बच्‍चें को पूरा पोषण मिलता है। और एक मां और बच्‍चें के कभी न खत्‍म होने वाला रिश्‍ता बनता है।

आपको बच्चे का स्तनपान कब बंद करना चाहिए?

स्‍तनपान करवाना स्‍वास्‍थ्‍य के लिहाज से मां और शिशु दोनों के लिए फायदेमंद होता है। स्‍तनपान से न सिर्फ शिशु का इम्‍यून सिस्‍टम मजबूत होता है  बल्‍िक प्रेंग्‍नेसी के बाद मां का वजन कम करने में यह सहायक होता है।

 breastfeeding

ब्रेस्‍ट फीडिंग करवाने से शिशु का शांत रहता है और बच्‍चे का नवर्स सिस्‍टम भी इम्‍प्रूव होता है। इसके अलावा स्‍तनपान करवाने से ब्रेस्‍ट कैंसर के खतरे को टाला जा सकता है।

शिशु को 6 महीने तब स्‍तनपान करवाने के फायदे

जैसा कि शुरूआती महीनों में शिुश के पोषण का एक मात्र साधन स्‍तनपान होता है। इसलिए ध्‍यान रहे कि बेबी को भरपूर मात्रा में दूध और पोषण मिलें। इसलिए जानिए एक असरदार उपाय के बारे में जिससे आप ब्रेस्‍ट मिल्‍क का उत्‍पादन बढ़ाकर बेबी को सही मात्रा में दूध पिला सकती है।

इन सामग्री की जरुरत

  • तिल के बीज - एक टी स्‍पून 
  • बादाम मिल्‍क - आधा कप

ये आयुर्वेदिक उपाय नई मांओं के ब्रेस्‍ट मिल्‍क अधिक मात्रा बनाने में सहायक होता है। डेली रुटीन में इस उपाय को करने से दूध बढ़ता है और बच्‍चें को अच्‍छा पोषण मिलता है।

sesame seed

इसके अलावा मांओं को कुछ हेल्‍दी भी खाना चाहिए। साथ ही खूब मात्रा में पानी पीना चाहिए। तिल के बीज में केल्शियम की मात्रा ज्‍यादा होती है। यह दूध बनाने वाली नलियों को बढ़ावा देता है। बादाम दूध में भी केल्शियम और प्रोटीन की मात्रा ज्‍यादा होती है। जो दूध बढ़ाने में सहायक होता है।

almond

बनाने का तरीका 

ऊपर बताई गई सामग्रियों को एक साथ मिला दें। और मिक्‍सी में पीस लें। और अब इसके मिश्रण को एक कप में इक्‍टठा कर ले। अब ब्रेकफास्‍ट के बाद इसे दो महीनें तक थोड़ी-थोड़ी मात्रा में ले।

English summary

Ayurvedic Home Remedy To Increase Breast Milk In New Mothers

Follow this amazing home remedy that can help boost the production of breast milk.
Story first published: Friday, February 10, 2017, 10:15 [IST]
Please Wait while comments are loading...