स्‍टडी: नहीं मिल र‍हे काबिल लड़के इसलिए पढ़ी लिखी लड़किया फ्रीज करवा रही है अंडे

Subscribe to Boldsky

जनवरी 2016 में 42 की उम्र में डायना हेडन ने एक बच्‍ची को जन्‍म दिया था। इस उम्र में मां बनना उनके लिए एक सुखद अहसास था।
डायना को इस बात का अहसास काफी पहले हो गया था। शायद इसीलिए उन्‍होंने 32 साल की उम्र में ही एग फ्रीज करवा लिए थे। डायना ने साल 2007 और 2008 में ही हॉस्पिटल में अपने अंडाणु सुरक्षित करवा लिए थे।

डायना के गर्भाशय में अंडाणुओं की संख्‍या काफी कम थी। आमतौर पर एक बच्‍चे के जन्‍म के लिए 20 अंडाणु की आवश्‍यकता होती है लेकिन जैसे-जैसे उम्र बढ़ती है अंडाणुओं की संख्‍या घट जाती है।

हाल ही में हुए एक नई स्‍टीज में बात सामने आई है कि काबिल महिलाओं को उनके हिसाब से मर्द नहीं मिल रहे हैं इसलिए वो अपने बच्चों के लिए अपने अंडे फ्रीज करा रही हैं।

Boldsky

पढ़ी लिखी लड़कियों का रुझान

येल यूनिवर्सिटी के शोधकर्ताओं के मुताबिक आज के दौर में मर्दों का रूझान उच्च शिक्षा से ज्यादा पैसा कमाने में लगा है इसलिए उच्च शिक्षा प्राप्त महिलाओं ने अपने अंडे फ्रीज कराने का काम शुरू कर दिया है। ये स्टडी यूएस और इजरायल की 150 महिलाओं का परीक्षण करने के बाद सामने आई है।

अमेरिका और इजरायल

जिसमें कहा गया है कि अमेरिका और इजरायल की करीब 150 महिलाओं ने करीब 8 क्लिनिकों में अपने एग्स फ्रीज करवाए थे, जिनमें से 90 प्रतिशत महिलाओं ने कहा कि वे अपने एग्स इसलिए प्रिज़र्व करवा रही हैं क्योंकि वे सिंगल हैं क्योंकि उन्हें उनके काबिल लाइफ पार्टनर नही मिला है।

ये है वजह

इस स्टडी में ये बात भी निकलकर सामने आई है कि अक्सर हाई एजुकेशन वाली लड़कियों से पैसे वाले मर्द शादी तो कर लेते हैं लेकिन पत्नी की विकसित सोच और समझदारी देखकर उनके पति परिवार को बढ़ा नहीं पाते हैं और इस वजह से भी महिलाएं अपने अंडे फ्रीज करवा रही हैं।

3 हजार से ज्‍यादा महिलाएं करवा चुकी हैं एग प्रिजर्व

गौरतलब है कि एग्स प्रिज़र्व करने की सुविधा मिलने की वजह से यूके में साल 2014 तक 3 हजार 676 महिलाएं अपने एग्स को प्रिज़र्व करवा चुकी हैं। साल 2016 में 36.8 प्रतिशत महिलाएं उच्च शिक्षा में गई थीं जबकि उच्च शिक्षा में जाने वाले पुरुषों की संख्या सिर्फ 27.2 प्रतिशत है।

भ्रम को भी गलत साबित किया

इस शोध ने उस भ्रम को भी गलत साबित किया कि महिलाएं इसलिए अपने अंडे फ्रीज करवाती हैं क्योंकि वो मातृत्व और परिवार से ज्यादा करियर को महत्व देती हैं और वो स्वार्थी होती हैं, जबकि हकीकत तो कुछ और ही है।

फ्रीज़र में रखे अंडे कबीर बेदी को फिर बनायेंगे पिता

चौथी शादी करके सुर्खियों में आये कबीर बेदी एक बार फिर से लाइम लाइट में हैं क्योंकि वो इस बार अपनी चौथी बीवी परवीन दोसांज के साथ फैमिली प्लानिंग कर रहे हैं वो भी साइंस की मदद से...

अंडाणु कैसे किया जाता है फ्रीज

एग फ्रीजिंग का अर्थ है महिलाओं के स्वस्थ एग (अंडाणु) को ओवरी से निकाल कर फ्रीज कर देना और भविष्य के लिए सुरक्षित करना। ऐसा माना जाता है कि 40 की उम्र तक आते-आते महिलाओं के गर्भधारण का समय समाप्त हो जाता है। सजर्री की प्रक्रिया द्वारा एग को निकाला जाता है। एग को फ्रीज करने के लिए माइनस 196 डिग्री सेल्सियस पर लिक्विड नाइट्रोजन में रखा जाता है। इससे यह लंबे समय तक सुरक्षित रहता है। सुरक्षित रहने की अवधि के दौरान महिला को अधिकार रहता है कि वह इसे खुद यूज करना चाहती है या फिर किसी और को देकर मदद करना चाहती है।

For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS
For Daily Alerts

    English summary

    स्‍टडी: नहीं मिल र‍हे काबिल लड़के इसलिए पढ़ी लिखी लड़किया फ्रीज करवा रही है अंडे | Highly Educated Women are freezing their eggs over a lack of educated men: study

    Highly educated women freeze eggs due to lack of smart men, according to the latest research. This research proves the myth that women choose to freeze their eggs in order to priorities their careers.
    We use cookies to ensure that we give you the best experience on our website. This includes cookies from third party social media websites and ad networks. Such third party cookies may track your use on Boldsky sites for better rendering. Our partners use cookies to ensure we show you advertising that is relevant to you. If you continue without changing your settings, we'll assume that you are happy to receive all cookies on Boldsky website. However, you can change your cookie settings at any time. Learn more