स्‍वीमिंग से होने वाली त्‍वचा सम्‍बंधी समस्‍याएं

By: Aditi Pathak
Subscribe to Boldsky

दुनिया में कई ऐसे लोग है जिन्‍हे स्‍वीमिंग करना अच्‍छा लगता होगा और इससे उनकी बॉडी को राहत मिलती है। स्‍वीमिंग करने से शरीर को कई लाभ मिलते है, लेकिन आपको स्‍वीमिंग करने के बाद त्‍वचा सम्‍बंधी आने वाली समस्‍याओं के बारे में भी पता होना चाहिये।

स्‍वीमिंग पूल में पानी की स्‍वच्‍छता को ध्‍यान में रखना हुए क्‍लोरिन मिलाया जाता है। जो बॉडी के लिए काफी हानिकारक होता है। अगर आपकी स्किन सेंसटिव है तो आपको रैशेज जैसी कई समस्‍याएं पैदा हो सकती है। पूल में भरा पानी स्‍वीमिंग के दौरान हमारी त्‍वचा के द्वारा ऑब्‍जर्व कर लिया जाता है जो स्‍कीन हेल्‍थ पर असर डालता है। इसलिए, स्‍वीमिंग करने के बाद त्‍वचा का विशेष ध्‍यान रखना चाहिये।

Skin Problems From Swimming

स्‍वीमिंग से त्‍वचा सम्‍बंधी होने वाली समस्‍याएं निम्‍म प्रकार हैं :

स्‍कीन में डिहाईड्रेशन होना : लगातार स्‍वीमिंग करने से आपकी त्‍वचा नाज़ुक बन जाती है और उसमें कई प्रकार की समस्‍याएं उत्‍पन्‍न होने लगती है। त्‍वचा में डिहाईड्रेशन होने की समस्‍या का मुख्‍य कारण त्‍वचा में सही पीएच बैलेंस न होना होता है जिससे त्‍वचा ड्राई और फ्लैकी हो जाती है।

त्‍वचा में रैशेज : स्‍वीमिंग ज्‍यादा करने से त्‍वचा में रैशेज पड़ जाते है क्‍योंकि त्‍वचा में खुजली पैदा होने लगती है और उस जगह खुजली करने से लाल चकत्‍ते पड़ जाते है। स्‍कीन में पीएच बैलेंस की वैल्‍यू सही न होने पर ऐसा होने लगता है। इन रैशेज में दर्द भी काफी होता है।

उम्र बढ़ने के लक्षण दिखना : अगर आप यंग है और नहीं चाहते कि आपकी उम्र, वास्‍वतिक उम्र से ज्‍यादा लगे तो स्‍वीमिंग के बाद अपना ध्‍यान जरूर रखें। रोज स्‍वीमिंग करने से त्‍वचा में बहुत ज्‍यादा ड्राईनेस हो जाती है और सिकुड़न पैदा हो जाती है, इससे उम्र ज्‍यादा लगती है, त्‍वचा में डलनेस आती है, फाइन लाइन्‍स पड़ जाती है।

सन डैमेज का बढ़ना : नियमित रूप से स्‍वीमिंग करने से सन बर्न की समस्‍या बढ़ जाती है। जब आप स्‍वीमिंग करते है तो बॉडी की स्‍कीन की प्रतिरक्षा क्षमता कम हो जाती है जिससे पराबैंगनी किरणों का त्‍वचा पर प्रभाव ज्‍यादा पड़ता है और सनबर्न की समस्‍या बढ़ती है।

हॉट शॉवर पर कंट्रोल करें : स्‍वीमिंग करने के बाद, हॉट शॉवर लेना नुकसान पहुंचाता है। हॉट वॉटर और स्‍टीम आपकी बॉडी में क्‍लोरीन को ऑब्‍जर्व करने देता है।

टॉक्सिन बढ़ना : जब भी स्‍वीमिंग की जाती है तो उसके पानी पड़ी हुई क्‍लोरीन के कारण बॉडी में टॉक्सिन बढ़ जाता है जिससे त्‍वचा को कई प्रकार की समस्‍याएं होती है। इससे त्‍वचा में रूखापन आता है और वह फटने लगती है।

English summary

Skin Problems From Swimming

There are many people who likes swimming but there are many skin problem from swimming. Browse through the list of skin issues pertaining to swimming to reduce skin damage and enhance skin health.
Story first published: Saturday, January 25, 2014, 9:03 [IST]
Please Wait while comments are loading...