सर्दियों में क्‍यूं खाना चाहिये गुड़, कारण जान लेंगे तो रोज़ मांगेंगे केवल गुड़

Posted By:
Subscribe to Boldsky
Jaggery, गुड़ | Health benefit of Gur in winter | सर्दियों में गुड़ खाने के फायदे | Boldsky

क्‍या कभी सोंचा है कि कुछ लोंगो को सर्दियों में लंच के बाद गुड़ खाना क्‍यों पसंद होता है? तो चलिये हम बता देते हैं... क्‍योंकि इसमें ढेर सारे पौष्‍टिक गुण छुपे हुए हैं। गुड़ एक प्राकृतिक मिठाई है जो स्‍वाद में तो मस्‍त लगता ही है साथ में सेहत का भी खजाना है। अगर आप अपने बच्‍चों को मीठे की जगह पर आइसक्रीम आदि देते हैं, तो आप आज से ही उन्‍हें गुण खिलाना शुरू कर दें।

गन्‍ने के रस से तैयार यह गुड़ ढेर सारे विटामिन और मिनरल्‍स से भरा पड़ा है। खासतौर पर इसमें आयरन की मात्रा काफी होती है, जो एनीमिया की बीमारी को हल कर के खून में हीमोग्‍लोबिन बढ़ा देता है। अगर आपको मीठा खाने का काफी शौक है तो चीनी की जगह पर गुड़ एक उत्‍तम जवाब है।

ten reasons you must eat 'gur' during winter season

यही नहीं आयुर्वेद की मानें तो गुड़ में ऐसे तत्‍व भी मौजूद है जो शरीर के एसिड को खत्‍म करते हैं। इससे हमारे शरीर में रोग नहीं पैदा होता।

भोजन के बाद हर किसी को कम से कम 20 ग्राम गुड़ का सेवन तो जरुर करना चाहिये। जिन लोंगो का पाचन ठीक नहीं रहता, उन्‍हें गुड़ खाने से लाभ मिल सकता है। अगर आप अभी तक गुड़ के स्वास्थ्यवर्धक गुणों से अनजान थे, तो अब यहां जानिये गुड़ को सर्दियों में खाने से क्‍या क्‍या लाभ मिलते हैं।

1. सर्दी, जुकाम और कफ से बचाए

1. सर्दी, जुकाम और कफ से बचाए

सर्दी के दिनों में या सर्दी होने पर गुड़ का प्रयोग आपके लिए अमृत के समान होगा। इसकी तासीर गर्म होने के कारण यह सर्दी, जुकाम और खास तौर से कफ से आपको राहत देने में मदद करेगा। इसके लिए दूध या चाय में गुड़ का प्रयोग किया जा सकता है, और आप इसका काढ़ा भी बनाकर ले सकते हैं।

2. रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाए

2. रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाए

गुड़ में जिंक, सेलेनियम और एंटीऑक्‍सीडेंट पाए जाते हैं जो कि शक्‍कर में ना के बराबर होते हैं। यह सब चीज़ें शरीर की इम्‍यूनिटी बढाती हैं और कई इंफेक्‍शन और बीमारियों से बचाती है।

3. खून की कमी दूर करे

3. खून की कमी दूर करे

‍जिन लोंगो को एनीमिया है यानी खून की कमी है, उन्‍हें गुड़ रोज खाने के बाद खाना चाहिये। इससे लाल रक्‍त कोशिकाओं का निमाण तेजी से बढ़ेगा। ही वजह है कि प्रेग्‍नेंट महिलाओं को डॉक्‍टर गुड़ खाने की सलाह देते हैं।

4. पाचन सुधारे

4. पाचन सुधारे

भारी खाने के बाद गुड़ जरुर खाएं क्‍योंकि इससे खाना पचाने वाला एंजाइम एक्‍टिव हो जाता है जो कि खाना पचाने में मदद करता है। इससे कब्‍ज, बदहजमी आदि ठीक हो जाता है। यही नहीं यह वेट लॉस करने में भी मदद करता है क्‍योंकि यह शरीर का मेटाबॉलिज्‍म बढाता है।

5. फेफड़ों के लिये वर्दान है गुड़

5. फेफड़ों के लिये वर्दान है गुड़

यह फेफड़ों में एलर्जी होने से बचाता है, जिससे गले की इरिटेशन खतम होती है और छींक तथा कफ की समस्‍या नहीं होती। गुड़ अस्‍थमा और अन्‍य सांस की समस्‍याओं से भी छुटकारा दिलाता है।

6. जोड़ों और मासपेशियों के दर्द से छुटकारा दिलाए

6. जोड़ों और मासपेशियों के दर्द से छुटकारा दिलाए

अगर आप रोज एक पीस गुड़ का खाएंगे तो आपको जोड़ों के दर्द और मासपेशियों की अकड़न से काफी राहत मिल सकती है। यह जोंड़ो की सूजन को कम करता है। अगर रोजाना गुड़ का एक छोटा पीस अदरक के साथ मिला कर खाया जाए तो जोड़ों में मजबूती आएगी और दर्द दूर होगा।

7. ठंड में गर्माहट दे

7. ठंड में गर्माहट दे

इसको खाने से शरीर में गर्माहट पैदा होती है। खाना खाने के बाद इसका एक छोटा सा टुकड़ा खाएं और सर्दी से खुद को बचाएं।

8. खूबसूरती बढ़ाए

8. खूबसूरती बढ़ाए

इसे खाने से त्‍वचा मुलायम और स्‍वस्‍थ बनती है। बाल भी अच्‍छे हो जाते हैं। यदि आपको कील-मुंहासों की समस्‍या है तो वह भी ठीक हो जाती है।

9. शरीर बनेगा मजबूत और एक्टिव

9. शरीर बनेगा मजबूत और एक्टिव

गुड़ शरीर को मजबूत और एक्टिव बनाए रखता है। शरीरिक कमजोरी दूर करने के लिए दूध के साथ गुड़ का सेवन करने से ताकत आती है और शरीर ऊर्जावान बना रहता है। अगर आपको दूध नहीं पसंद है तो एक कप पानी में पांच ग्राम गुड़, थोड़ा सा नींबू का रस और काला नमक मिलाकर सेवन करने से आपको थकान महसूस नहीं होगी।

 10. पीरियड्स के दर्द से आराम

10. पीरियड्स के दर्द से आराम

पीरियड्स में दर्द होता है तो महिलाओं को इसका सेवन जरुर करना चाहिये। पीरियड शुरु होने के 1 हफ्ते पहले 1 चम्‍मच गुड़ का सेवन रोजाना करें।

English summary

ten reasons you must eat 'gur' during winter season

Here is why consuming jaggery during winter months can keep you remain healthy and warm!
Story first published: Monday, December 11, 2017, 1:00 [IST]