दिमाग को तेज बनाये रखना है तो करें ये एरोबिक एक्सरसाइज

Posted By: Lekhaka
Subscribe to Boldsky

एरोबिक एक्सरसाइज विशेषतौर पर वे महिलाएं करती हैं जो अपना वजन घटाना चाहती हैं। लेकिन सिर्फ वजन कम करने के लिए ही एरोबिक नहीं किया जाता बल्कि इसका स्वास्थ्य को कई अन्य फायदे भी हैं। एक नई स्टडी में पाया गया है कि एरोबिक एक्सरसाइज यादाश्त को ठीक रखता है और उम्र बढ़ने के साथ दिमाग को भी स्वस्थ रखता है।

स्टडी के दौरान आस्ट्रेलिया के वेस्टर्न सिडनी यूनिवर्सिटी के शोधकर्ताओं ने दिमाग के हिप्पोकैम्पस पर एरोबिक एक्सरसाइज के प्रभाव का पता लगाया जो मेमोरी और दिमाग के कार्यों के लिए काफी महत्वपूर्ण माना जाता है। हम सभी जानते हैं कि उम्र बढ़ने के साथ हमारा दिमाग भी कमजोर होने लगता है, इसके साथ ही 40 वर्ष की आयु के बाद एक औसत मेमोरी प्रति दशक लगभग पांच प्रतिशत कम होती जाती है।

स्टडी के लिए शोधकर्ताओं ने 14 क्लिनिकल ट्रायल की समीक्षा की जिसमें एरोबिक एक्सरसाइज के पहले और बाद में 737 लोगों का ब्रेन स्कैन किया गया। सभी प्रतिभागी 24 से 76 वर्ष की आयु के थे जिसमें स्वस्थ वयस्कों, अल्जाइमर से पीड़ित लोग और मानसिक बीमारी जैसे डिप्रेशन और स्किजोफ्रेनिया का इलाज करा रहे लोगों को भी शामिल किया गया।

वेस्टर्न सिडनी यूनिवर्सिटी में नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ कंपलिमेंट्री मेडिसिन (एनआईसीएम) के जोसेफ फर्थ बताते हैं कि शोधकर्ताओं ने एरोबिक एक्सरसाइज के प्रभावों की जांच की जिसमें साइकिल चलाना, टहलना और ट्रेडमिल रनिंग शामिल था। इंटरवेंशन की लेंथ तीन से लेकर 24 महीने होती है जिसमें हर हफ्ते दो से पांच सेशन होते हैं।

स्टडी में यह निष्कर्ष निकला कि ऐरोबिक एक्सरसाइज का प्रभाव पूरे हिप्पोकैम्पस पर नहीं पड़ता है लेकिन मानव के हिप्पोकैंपस के बाएं ओर के आकार बढ़ जाता है। जब हम एक्सरसाइज करते हैं तो एक केमिकल उत्पन्न होता है जिसे ब्रेन डिराइव न्यूरोट्रोपिक फैक्टर (बीडीएनएफ) कहते हैं जो उम्र बढ़ने पर यादाश्त कम होने की समस्या को कम करता है।

आंकड़े बताते हैं कि वास्तव में हिप्पोकैंपस के आकार में वृद्धि की बजाय ब्रेन को मुख्य लाभ यह होता है कि एरोबिक एक्सरसाइज मस्तिष्क के आकार में गिरावट को कम कर देता है। यह स्टडी हाल ही में न्यूरोइमेज नामक जर्नल में प्रकाशित हुई थी।

हम यहां आपको एरोबिक एक्सरसाइज से होने वाले फायदों के बारे में भी बताने जा रहे हैं।

1-इम्यूनिटी बढ़ती है :

1-इम्यूनिटी बढ़ती है :

एरोबिक एक्सरसाइज इम्यूनिटी सिस्टम को बढ़ाता है। नियमित एरोबिक एक्सरसाइज करने से इम्यूनिटी सिस्टम में सुधार होता है और यह कई संक्रामक बीमारियों से दूर रखने में मदद करता है।

2-हृदय को ठीक रखता है :

2-हृदय को ठीक रखता है :

हृदय को स्वस्थ रखने के लिए नियमित एक्सरसाइज बहुत जरूरी है। एरोबिक्स में दौड़ना, टहलना, तैरना, साइकिल चलाना और इनडोर एक्सरसाइज शामिल है। ये एक्सरसाइज खून के प्रवाह को बनाए रखते हैं और हृदय संबंधी बीमारियों को दूर करने में मदद करते हैं।

3-मांसपेशियों का दर्द कम करता है :

3-मांसपेशियों का दर्द कम करता है :

जो लोग मांसपेशियों और पीठ दर्द से परेशान है उन्हें दर्द से छुटकारा दिलाने में एरोबिक काफी मददगार है। यह मांसपेशियों को पर्याप्त मात्रा में ऑक्सीजन प्रदान करता है और मांसपेशियों से मेटाबोलिक विषाक्त पदार्थ लैक्टिक एसिड को दूर करता है। जिससे मांसपेशियों का दर्द दूर हो जाता है।

4-वजन घटाता है:

4-वजन घटाता है:

वैसे तो किसी भी तरह की एक्सरसाइज करने से शरीर का फैट कम होता है लेकिन एरोबिक एक्सरसाइज रोजाना 15 मिनट तक करने से शरीर का वजन घटता है।

5-तनाव को कम करता है:

5-तनाव को कम करता है:

स्ट्रेस को कम करने के लिए एरोबिक सबसे अच्छा एक्सरसाइज है। अगर आप भी स्ट्रेस से परेशान हैं तो नियमित एरोबिक करें इससे आपको स्ट्रेस से मुक्ति मिल जाएगी।

English summary

Aerobic Exercises Are Good For Your Brain: Study

A new study has found that aerobic exercise can improve memory function and maintain brain health as we age.
Story first published: Thursday, November 16, 2017, 15:00 [IST]
Please Wait while comments are loading...