मसल्स बनाने के लिए वर्कआउट के दौरान कितनी देर आराम करना चाहिए

Posted By: Lekhaka
Subscribe to Boldsky

जब आप वर्कआउट करना शुरू करते हैं, तो आप जितनी जल्दी हो सके अपने फिटनेस गोल्स तक पहुंचने के लिए अपनी सीमाओं से आगे बढ़ाना चाहते हैं।

आप हर सेट में रीपीटेशन की संख्या बढ़ाते हैं और सेट के बीच अपने ब्रेक में कटौती भी करते हैं ताकि आप ज्यादा एक्सरसाइज कर सकें।

हैवी वर्कआउट करने से पहले ज़रूर खाएं ये 5 चीजें

हालांकि, यह निश्चित रूप से सही तरीका नहीं है क्योंकि अध्ययन से पता चलता है कि सेट के बीच आराम से मांसपेशियों की शक्ति और ताकत बढ़ जाती है।

Pump Up Your Muscles: How Much Rest Works Best?

सेट्स के बीच आराम कितना सही है?

सेट के बीच आराम करने के लिए कोई तय समय नहीं है क्योंकि यह कई कारकों पर निर्भर करता है, विशेष रूप से आपके द्वारा किए जाने वाले व्यायाम और आपके लक्ष्य पर। 

इन 7 संकेतो से जानें कि कहीं आप जिम में ओवरट्रेनिंग तो नहीं कर रहे?

मसल्स की सहनशक्ति के लिए कितना जरूरी है आराम?

मसल्स की सहनशक्ति बढ़ाने के लिए आपको वर्कआउट के दौरान 20 से 60 सेकंड के बीच आराम करना चाहिए। प्रत्येक सेट के लिए 12-20 रिपीटेशन का उद्देश्य मांसपेशियों की सहनशक्ति बढ़ाने के लिए सबसे अच्छा है। पुश-अप, सिट-अप्स, प्लैंक जैसी एक्सरसाइज़ मांसपेशियों की सहनशक्ति बढ़ाने के लिए बेहतर हैं।

 Muscles

मांसपेशियों की ताकत के लिए आराम

मांसपेशियों की ताकत बढ़ाने के लिए आपके आराम का अंतराल 3 से 5 मिनट के बीच होना चाहिए। जब आप मांसपेशियों की ताकत पर ध्यान केंद्रित करते हैं, तो आपको कम रिपीटेशन करने चाहिए और इसके बजाय वजन बढ़ाना चाहिए। इसका मतलब यह है कि आपको 3-5 रिपीटेशन एक वजन पर ही करने चाहिए।

 Muscles1

मसल्स हाइपरट्रोफी के लिए आराम

मसल्स हाइपरट्रोफी मसल्स सेल्स साइज़ वृद्धि का वर्णन करने के लिए इस्तेमाल किया शब्द है। मसल्स सेल्स का साइज़ बढ़ना सीधे रूप से वेट लिफ्टिंग से जुड़ा है। कम अंतराल के साथ मध्यम-तीव्रता के सेट करने से मसल्स हाइपरट्रॉफी को बढ़ाता है क्योंकि वे दूसरे वर्कआउट्स की तुलना में हार्मोन के उच्च स्तर से जुड़े हैं। हर 6-12 सेट के बीच 30-60 सेकंड तक आराम करें।

Pre and Post Workout Diet | Gym Diet Plan | Timings | क्या खाएं, क्या ना खाएं | Boldsky
सेट्स के बीच आराम क्यों महत्वपूर्ण है

लगातार सेट्स करने से आपको एक्सरसाइज़ के उतने लाभ नहीं मिल पाते हैं। जब एक्सरसाइज़ आराम के अंतराल के साथ करते हैं, तो समय ही सब कुछ है।

यदि आप सेट के बीच बहुत लंबे समय तक आराम करते हैं, तो आपकी कसरत की तीव्रता कम हो जाएगी, लेकिन यदि आपका आराम का अंतराल बहुत छोटा है, तो आप जल्दी से बाहर आ जाएंगे। यदि आप वजन कम करने के लिए वर्कआउट कर रहे हैं, तो आपको सेटों के बीच 30-60 सेकंड के ब्रेक लेना चाहिए।

स्वास्थ्य विशेषज्ञों ने अक्सर अपने वर्कआउट्स को ट्रैक करने के लिए स्टॉपवॉच या टाइमर के प्रयोग करना चाहिए। इसके लिए आप अपने फोन पर एक अंतराल टाइमर ऐप डाउनलोड कर रहा है। ये ऐप्स आपको अपनी आवश्यकताओं के अनुसार एक्सरसाइज़ टाइमर को कस्टमाइज़ करने की इजाजत देते हैं। आप एक प्लेलिस्ट भी बना सकते हैं और टेम्पलेट्स के रूप में अपनी सेटिंग सेट कर सकते हैं।

English summary

Pump Up Your Muscles: How Much Rest Works Best?

Fitness experts often recommend the use of a stopwatch or timer to track your workouts, as well as your sets.
Please Wait while comments are loading...