For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS  
For Daily Alerts

यूटीआई होने पर पीएं मकई के रेशो की चाय, जानें इसे पीने के फायदे और नुकसान

|

मकई के दानों को भूनकर या उबालकर तो आपने कई दफा खाया होगा लेक‍िन कभी आपने मकई के रेशों की चाय पी है, जिसे कॉर्न सिल्‍क चाय भी कहते है। पारंपरिक चीनी चिकित्सा (टीसीएम) में यूरिन इंफेक्‍शन की चाय से निजात पाने के लिए कॉर्न सिल्क चाय एक सामान्य इलाज का तरीका है। इस अलग क‍िस्‍म की चाय पर हुए कई रिसर्च में ये बात सामने आई है क‍ि इसके सेवन से हृदय की समस्याएं और हाई ब्‍लड शुगर में आराम मिलता है।

न्‍यूट्रीशिन की जानकारी

न्‍यूट्रीशिन की जानकारी

कॉर्न सिल्क में मौजूद उच्‍च फाइबर डाइजेशन सिस्‍टम को मजबूत बनाता है। मकई रेशम की चाय में ऐसा कोई भी भारी भरकम मिनरल्‍स मौजूद नहीं होता है।

कॉर्न सिल्‍क टी में छह तरह के औंस शामिल होते हैं:

कॉर्न सिल्‍क टी में छह तरह के औंस शामिल होते हैं:

  • कैलोरी
  • ग्राम प्रोटीन
  • ग्राम वसा
  • ग्राम कार्बोहाइड्रेट
  • ग्राम फाइबर
  • ग्राम चीनी
  • कॉर्न सिल्‍क टी पीने के फायदे

    कॉर्न सिल्‍क टी पीने के फायदे

    माना जाता है कि ये चाय, पारंपरिक हर्बल दवा प्रमुख इलाजों में से है, कॉर्न सिल्क आपके स्वास्थ्य को कई तरह से मदद करता है।

    यूटीआई दूर करें

    जो लोग पारंपरिक मूल अमेरिकी और चीनी चिकित्सा का अभ्यास करते हैं, वो यूटीआई की समस्‍या से बचने के ल‍िए इस चाय का सेवन करते हैं।

    मूत्रवर्धक के रूप में करता है काम

    मूत्रवर्धक के रूप में करता है काम

    वैज्ञानिकों ने निर्धारित किया है कि कॉर्न सिल्‍क की चाय में हल्के मूत्रवर्धक गुण होते है। (मूत्र उत्पादन में वृद्धि) होने की संभावना है।

    ब्लड शुगर लेवल करे कंट्रोल

    ब्लड शुगर लेवल करे कंट्रोल

    मधुमेह के रोगी कॉर्न सिल्क से बनी चाय पीना बहुत फायदेमंद साबित हो सकता है क्योंकि, यह ब्लड शुगर लेवल को कंट्रोल करने में मदद करता है।

    कॉर्न सिल्‍क चाय पीने के हो सकते है ये खतरे:

    यदि आपको मकई के पराग या मकई के स्टार्च से एलर्जी है, तो कॉर्न सिल्‍क से आपको ये समस्‍या हो सकती है:

    रैशेज

    लाल त्वचा

    खुजली

English summary

Corn Silk Tea Health Benefits, Side Effects and Recipe in Hindi

Here we talking about the Corn Silk Tea Health Benefits, Side effects and How to make in hindi. Read on.
Story first published: Saturday, August 21, 2021, 16:17 [IST]