For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS  
For Daily Alerts

Kachri: छोटे तरबूज जैसे दिखती है ये सब्‍जी, जाने इस राजस्‍थानी सब्‍जी खाने के फायदे

|

हम सभी के आसपास कई सारे ऐसे फल और सब्जियां मसाले होते हैं जो स्वास्‍थ्‍य को बढ़ावा देने में मददगार होते हैं। लेक‍िन हम में से कई लोग है ऐसी सब्जियों और फलों के बारे में नहीं जानते है। इन्हीं सब्जियों में से एक ऐसी सब्‍जी के बारे में हम आपको बताने जा रहे है। आज हम आपको बताने वाले हैं सबसे ज्यादा राजस्थानी और गुजराती रहेंगे नाम इस्तेमाल की जाती है। आपको बता दें कि सब्जी का नाम कर दी है जिसे जंगली तरबूज के नाम से भी जाना जाता है या सब्जी स्वादिष्ट सब्जी होती है मसालों के रूप में इस्तेमाल की जाती है। कचरी को आप बनाकर खा सकते हैं और इसका लाभ उठा सकते हैं।

कचरी एंटी ऑक्सीडेंट गुणों से भरपूर होती है और इसमें

कचरी एंटी ऑक्सीडेंट गुणों से भरपूर होती है और इसमें

कचरे में कई सारे ऐसे पोषक तत्व मौजूद होते हैं जिससे आप को फायदा पहुंचता है और आपके शरीर से कई सारी बीमारियां दूर होती हैं। आपको बता दें कि आपको कब्ज अपच पेट संबंधी बीमारियों को दूर रखने के लिए भी फायदेमंद मानी जाती है। कचरी के सर्दी खांसी जुकाम से राहत दिलाती है इसकी चटनी बनाकर सेवन करने से शरीर को फायदा पहुंचता है।

एंटीऑक्‍सीडेंट्स और प्रोटीन से भरपूर

एंटीऑक्‍सीडेंट्स और प्रोटीन से भरपूर

कचरी एंटीऑक्‍सीडेंट्स गुणों और इसके बीज प्रोटीन सामग्री से समृद्ध हैं। वहीं कचरी विटामिन सी की भी मात्रा होती है, जिसकी वजह से यह आपको बीमारियों से दूर रखने और आपकी रोग प्रतिरक्षा को बढ़ाने में मददगार होती है। आप इसकी सब्‍जी या पाउडर बनाकर इस्‍तेमाल कर सकते हैं।

गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल समस्‍याओं को करें दूर

गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल समस्‍याओं को करें दूर

गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल ट्रैक्ट की समस्‍याओं को दूर करे

कचरी में ऐसे पोषक तत्‍व मौजूद होते हैं, जिससे कि यह आपके गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल ट्रैक्ट के संक्रमण और अन्‍य समस्‍याओं को दूर करने में मददगार है। यह आपको कब्‍ज, अपच और सभी पेट संबंधी बीमारियों को दूर रखने में मदद कर सकती है। इसकी सब्‍जी, फल या बीज कब्‍ज को दूर करने में सहायक हैं।

फोड़े फुंसी करें दूर

फोड़े फुंसी करें दूर

कचरी अटॉनिक शीतल एजेंट और उत्तेजक के रूप में काम करती है विशेष रूप से ही है। जठरांत्र संबंधी मुद्दों के लिए बेहद फायदेमंद होती है लेकिन इसके अलावा का पाउडर नियमित उपयोग फोड़े फुंसी जैसे मामलों के लिए अच्छा माना जाता है।

खांसी जुखाम में मददगार

खांसी जुखाम में मददगार

कचरी आपकी सर्दी-खांसी में राहत पाने में मददगार साबित हो सकती है। इसकी चटनी बनाकर सेवन या फिर सब्‍जी बनाकर सेवन कर सकते हैं।

भूख को बढ़ाने में मदद

कुछ लोगों को खाने की इच्‍छा कम करती है और वह जंक-फूड की ओर, तो जाते हैं लेकिन हेल्‍दी खाना खाने को नजरअंदाज कर देते हैं। ऐसे लोगों के लिए कचरी काफी फायदेमंद है। यह आपकी भूख बढ़ाने में मदद करती है। कचरी मारवाड़ी व्यंजनों में भी लोकप्रिय है, इसका अमचूर पाउडर के विकल्प के रूप में इस्‍तेमाल किया जा सकता है।

English summary

Health Benefits of Rajasthani sabzi Kachri

Also called wild melon, kachri is used extensively in rural Rajasthani cuisine.
Story first published: Wednesday, June 9, 2021, 15:54 [IST]