For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS  
For Daily Alerts

Monsoon Tips: मानसून में घर को सीलन और फंगस से बचाने के ट‍िप्‍स, सेहत भी रहेगी फिट

|

मानसून आते ही आसपास का माहौल तो ठंडा तो हो जाता है साथ ही तपती गर्मी से न‍िजात भी मिल जाती है। लेकिन मानसून का मौसम सुकून के साथ बहुत सारी समस्‍याएं साथ लेकर आता है। मानसून आते ही घरों में सीलन, फंगस और तरह-तरह के इंफेक्शन लोगों के लिए परेशानी का सबब बन जाते हैं। ऐसे में खुद को सेहतमंद रखने के साथ अपने घर को भी संक्रमणमुक्त रखना बेहद जरूरी है। तो आइए जानते हैं आखिर कैसे बारिश के मौसम में अपने घर को सीलन और फंगस से रखें दूर।

क्यों होती है घरों में सीलन-

क्यों होती है घरों में सीलन-

बरसात के मौसम में कीटाणु और सूक्ष्मजीव की संख्या तेजी से बढ़ने लगती है। इसका मुख्य कारण थर्मल इंसुलेशन न होना, साफ-सफाई की कमी, घर में धूप-हवा का ठीक से न आना सीलन और नमी पैदा करता है। जिससे फंगस की समस्या भी देखने को मिलती है।

Monsoon Care Tips Home: घर की सीलन को कहें बाय-बाय । Easy Tips To Avoid Dampness । Boldsky
सेहत को नुकसान-

सेहत को नुकसान-

घर में सीलन होने की वजह से अल्टरनारिया, एस्परजिलस, पेनिसिलियम और क्लोडोस्पोलियम जैसी फंगल प्रजातियां पनपने लगती हैं। जिससे व्यक्ति को दमा, एलर्जी, डर्मिटाइटिस और राइनाइटिस के संक्रमण का खतरा बढ़ जाता है।

 सीलन और फंगस से घर को ऐसे रखें दूर-

सीलन और फंगस से घर को ऐसे रखें दूर-

-सीलन की समस्या मानसून में अक्सर ज्यादा देखने को मिलती है। ऐसे में बाथरूम, टॉयलेट, बंद पड़े कमरे में, जहां फंगस, सीलन और कीट आसानी से पनप सकते हैं कीटनाशक छिड़काव और फ्यूमिगेशन करवाकर कीट और मच्छर,मक्खियों से छुटकारा पा सकते हैं।

-किचन और बाथरूम जहां पानी का इस्तेमाल अधिक होता है और धूप नहीं पहुंच पाती, ऐसी जगह को सूखा रखने की कोशिश करें।

-हफ्ते में एक दिन किचन की किसी अच्छे कीटनाशक से सफाई करें।

-नमी , सीलन वाले कमरे में न सोएं।

-प्राकृतिक रूप से घर में धूप को आने दें। घर की खिड़कियों को कुछ देर के लिए जरूर खोलकर रखें।

-सीलन से पहले ही खराब हो चुकी दीवारों को ठीक करने के लिए दरारों में वॉटरप्रूफ चूना भरें। ऐसा करने से दोबारा उस जगह सीलन नहीं आएगी।

-लौंग का इस्तेमाल करके भी आप घर की सीलन से निजात पा सकते हैं। इसके लिए आप लौंग और दालचीनी को करीब आधा घंटा पानी में डालकर छोड़ दें। आधे घंटे बाद इस पानी को उबालकर इसे रूम फ्रेशनर की तरह प्रयोग करें।

English summary

How to be keep the house germ-free during monsoon

Fungus, mold or mildew growth on clothes is not only embarrassing but also hazardous for health. The next time you spot a white powdery mold on your clothes, here's what you need to do.
We use cookies to ensure that we give you the best experience on our website. This includes cookies from third party social media websites and ad networks. Such third party cookies may track your use on Boldsky sites for better rendering. Our partners use cookies to ensure we show you advertising that is relevant to you. If you continue without changing your settings, we'll assume that you are happy to receive all cookies on Boldsky website. However, you can change your cookie settings at any time. Learn more