सूर्य ग्रहण 2017: भारत में नहीं होगा कोई असर पर सूतक जरुर लगेगा

Posted By:
Subscribe to Boldsky

21 अगस्त को साल का दूसरा बड़ा सूर्य ग्रहण होगा, इससे दो सप्ताह पहले 7 अगस्त को रक्षाबंधन वाले दिन खंडग्रास चंद्र ग्रहण था। चंद्र ग्रहण के दो सप्ताह बाद हमेशा सूर्य ग्रहण होता है। अमावस्या के दिन सूर्य ग्रहण होता है तो पूर्णिमा के दिन चंद्र ग्रहण होता है। दोनों ग्रहणों का असर सभी प्राणियों पर पड़ता है। 

सूर्यगग्रहण से जुड़ी मान्यताऐं | Myth related to Solar eclipse | Boldsky

भारत में इस दौरान रात रहेगी तो यहां पर कहीं भी सूर्य ग्रहण दिखाई नहीं देगा। बताया जाता है कि भारत में सूर्य ग्रहण दिखाई नहीं देगा तो इसका असर भी नहीं होगा, पर सूतक के आसार है। 

भारत में 9.15 पर शुरु होगा

भारत में 9.15 पर शुरु होगा

इस बार 21 अगस्त को सूर्य ग्रहण पड़ रहा है। भारतीय समय के मुताबिक यह ग्रहण रात में 9.15 मिनट से शुरु होगा और रात में 2.34 मिनट पर खत्म होगा। भारत में इस दौरान रात रहेगी तो यहां पर कहीं भी सूर्य ग्रहण दिखाई नहीं देगा। बताया जाता है कि भारत में सूर्य ग्रहण दिखाई नहीं देगा तो इसका असर भी नहीं होगा।

भारत में लगेगा सूतक

भारत में लगेगा सूतक

हालांकि, कई ज्योतिषियों का कहना है कि बेशक भारत में ग्रहण दिखाई ना दे, लेकिन इसका असर राशियों पर जरूर पड़ेगा और भारत में भी सूतक लगेगा। सूर्य ग्रहण का लाइव प्रसारण अमेरिका की अंतरिक्ष एजेंसी नासा करेगी। सूर्य ग्रहण का सूतक 12 घंटे पहले यानि 21 अगस्त को सुबह 11.15 बजे से लग जाएगा। बताया जा रहा है कि यह सूर्य ग्रहण साल 2017 का दूसरा बड़ा ग्रहण है।

 नहीं होगा ज्‍यादा असर

नहीं होगा ज्‍यादा असर

अमावस्या के दिन सूर्य ग्रहण होता है तो पूर्णिमा के दिन चंद्र ग्रहण होता है। दोनों ग्रहणों का असर सभी प्राणियों पर पड़ता है।

हालांकि, जहां-जहां ग्रहण दिखाई देता है, उन्हीं स्थानों पर ग्रहण का असर होता है।

English summary

Facts about the solar eclipse on August 21

Since the start time of the Solar eclipse until its end, it is best to do indulge in chanting of mantras, meditation, prayers and hawan. However, no idol worship should be done.
Story first published: Saturday, August 19, 2017, 13:30 [IST]
Please Wait while comments are loading...