For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS  
For Daily Alerts

ज्येष्ठ अमावस्या के दिन इनमें से कोई एक गलती भी आप पर पड़ सकती है भारी, जानें किन कामों से मिलेगा लाभ

|

ज्येष्ठ महीने में आने वाली पंद्रहवीं तिथि ज्येष्ठ अमावस्या कहलाती है। हिंदू धर्म में इस दिन को काफी खास माना जाता है। ज्येष्ठ अमावस्या के द्दीन पवित्र नदी में स्नान, दान, पूजा-पाठ करने की विशेष महत्ता है। कई जातक इस दिन व्रत भी करते हैं। ऐसी मान्यता है कि इस दिन ऐसा करने से मनोकामनाएं पूर्ण होती हैं। जाने-अनजाने में हुए पापों और दोषों से मुक्ति मिलती है। साथ ही पुण्य की प्राप्ति होती है। इस लेख के माध्यम से जानते हैं कि ज्येष्ठ अमावस्या के दिन लाभ प्राप्ति के लिए क्या काम करें और किन कामों से बच कर रहें।

साल 2021 की ज्येष्ठ अमावस्या है खास

साल 2021 की ज्येष्ठ अमावस्या है खास

पंचांग के अनुसार साल 2021 में ज्येष्ठ महीने की कृष्ण पक्ष की अमावस्या तिथि 10 जून को पड़ रही है। धार्मिक दृष्टि से इस अमावस्या का विशेष महत्व है। इस दिन ज्येष्ठ अमावस्या के अलावा, शनि जयंती और वट सावित्री व्रत पूजा भी है। इतना ही नहीं, इसी तारीख को इस साल का पहला सूर्य ग्रहण भी लग रहा है।

ज्येष्ठ अमावस्या न करें ये काम

ज्येष्ठ अमावस्या न करें ये काम

इस दिन जातक को मांसाहार और शराब के सेवन से बचना चाहिए।

इस दिन किसी से उधार में पैसे न लें।

इस दिन किसी नई वस्तु की खरीदारी नहीं की जाती है।

ज्येष्ठ अमावस्या पर करें ये काम

ज्येष्ठ अमावस्या पर करें ये काम

ज्येष्ठ अमावस्या के दिन पीपल और बड़ पेड़ की पूजा करें।

पीपल पर सूत बांधें और कच्छा दूध चढ़ाएं।

इस दिन गाय, कुत्ता और कौआ को खाना खिलाएं।

इस दिन पितरों का तर्पण करना चाहिए।

काले तिल के दान से लाभ मिलता है।

English summary

Jyeshtha Amavasya 2021: Dos and Dont’s in Hindi

Here we are discussing about Jyeshtha Amavasya importance dos and donts in Hindi.