गर्भवती को ऑपरेशन टेबल पर छोड़, ऑपरेशन थियेटर में ही लड़ने लगे डॉक्टर, वायरल हुआ Video

Posted By:
Subscribe to Boldsky

राजस्थान के जोधपुर स्थित प्रसिद्ध उम्मेद अस्पताल का एक हैरान करने वाला वीडियो सामने आया है, इस वीडियो में अस्पताल के डॉक्टर ऑपरेशन टेबल पर बेसुध मरीज को छोड़ कर आपस में ही लड़ते दिख रहे हैं।

Bizarre Shocking ! Operation करने के दौरान कुछ ऐसे बहसबाज़ी करने लगे Doctors । वनइंडिया हिंदी

जी हां एक हॉस्पिटल के ऑपरेशन थिएटर (OT) में 2 डॉक्टर आपस में उलझ गए। इस दौरान प्रेग्नेंट लेडी की सिजेरियन डिलिवरी में देरी हुई। लिहाजा पैदा हुई नवजात बच्ची ने धड़कन (हार्ट बीट) धीमी होने की वजह से दम तोड़ दिया। मामला उम्मेद हॉस्पिटल का है। इस घटना का वीडियो वायरल हुआ है। हाईकोर्ट ने मामले पर संज्ञान लेते हुए हॉस्पिटल से रिपोर्ट तलब की है।

डॉक्‍टर्स भूल गए इंसानियत

डॉक्‍टर्स भूल गए इंसानियत

उम्मेद अस्पताल के ऑपरेशन थियेटर की टेबल पर लेटी गृभवती महिला के बच्चे की पेट में ही मौत हो गई थी, जिसके बाद उसका ऑपरेशन किया जाना था, हालांकि इस बीच थियेटर में गायनेकोलॉजिस्ट और एनेस्थेटिक किसी बात पर झगड़ने लगे। इस दौरान ऑपरेशन टेबल पर बेसुध लेटी महिला का पेट खुला था।

दम तोड़ दिया नवजात ने

दम तोड़ दिया नवजात ने

जानकार बताते हैं कि मृत शरीर के साथ गर्भवती का लंबे समय तक रहना बेहद खतरनाक होता है, लेकिन गायनी विभाग के डॉक्टर अशोक नेनीवाल और ऐनेस्थेटिक डॉ. एमएल टाक ही इस बात को भूल गए। इनकी तू-तू मैं-मैं की वजह से सही समय पर ईलाज नहीं मिलने की वजह से पैदा हुई नवजात बच्ची ने धड़कन (हार्ट बीट) धीमी होने की वजह से दम तोड़ दिया।

दोनो डॉक्‍टर्स के खिलाफ हुई कार्रवाई

दोनो डॉक्‍टर्स के खिलाफ हुई कार्रवाई

ऑपरेशन थिएटर में ही किसी स्टाफ मेंबर ने मोबाइल से घटना का वीडियो भी बना लिया। इस वीडियो के वायरल होते ही अफरातफरी मच गई। मामला सामने आया तो राज्य सरकार के आदेश पर डॉ. अशोक नैनीवाल को एपीओ कर दिया गया, जबकि डॉक्‍टर टाक पर एक्शन के लिए कार्मिक विभाग (personnel department) में फाइल भेजी गई है।

 मोबाइल फोन ले जाने पर पाबंदी

मोबाइल फोन ले जाने पर पाबंदी

इस वीडियो से डॉक्टरों की कार्यशैली के साथ ही ऑपरेशन थियेटर की सुरक्षा व्यवस्था को लेकर भी सवाल उठ रहे हैं, दरअसल जिस तरह से यह वीडियो बना, उससे साफ है कि ऑपरेशन थियेटर में भी खुलेआम मोबाइल ले जाया जा रहा है, जबकि मोबाइल इंफेक्शन और रेडीएशन का बड़ा सोर्स माना जाता है। चिकित्‍सा नियमों के अनुसार लेबर रुम या ऑपेरेशन थिएटर में रेडिएशन वाली इलेक्‍ट्रॉनिक उपकरण को ले जाना सख्‍त मना है।

हाईकोर्ट ने लिया संज्ञान

हाईकोर्ट ने लिया संज्ञान

इस घटना का वीडियो वायरल होने के बाद उम्‍मेद अस्‍पताल प्रशासन में खलबली मच गई है। हाईकोर्ट ने मामले पर संज्ञान लेते हुए हॉस्पिटल से रिपोर्ट तलब की है।

ये देखिए वीडियो में

पूरे मामले का वीडियो सामने आया है। वीडियो में साफ दिख रहा है कि बेड पर एक महिला पड़ी है और दो डॉक्टर आपस में झगड़ रहे हैं।

English summary

Doctors Decide To Fight While The Patient Was On The Operation Table!

The video purportedly showed the two doctors in Jodhpur Hospital shouting at each other and sparring over what appears to be an ego clash.
Please Wait while comments are loading...