डिलीवरी के बाद इन तरीकों से कम करें शरीर में जमी चर्बी..

Posted By:
Subscribe to Boldsky

गर्भावस्था के दौरान महिला के शरीर में कई तरह के परिवर्तन होते हैं। बच्चे को जन्म देना इतना आसान नहीं है, इस दौरान शरीर की पाचन क्रिया कई तरह से प्रभावित होती है। गर्भावस्‍था के लक्षणों से लेकर डिलीवरी तक महिलाओं पर होने वाले प्रभाव हर महिला में अलग-अलग होते हैं। प्रेग्नेंसी के बाद कुछ महिलाएं में मोटापा आ जाता है। इसके पीछे कई कारण हैं।

प्रेग्नेंसी के बाद वजन कम करना महिलाओं के लिए थोड़ा मुश्किल होता है क्यों कि प्रेग्नेंसी के बाद शरीर को रिकवर होने में थोड़ा समय लगता है और दूसरा इस समय व्यायाम पर ज्यादा ध्यान नहीं दे पाती हैं। चूंकि इस समय वे बच्चे को दूध भी पिलाती हैं जिससे उन्हें भूख भी ज्यादा लगती है। इसलिए ज्यादा खाना और व्यायाम नहीं करना आदि ऐसे कारण जिनसे महिलाओं में वजन बढ़ जाता है। यदि प्रेगनेंसी के दौरान डायबिटिज हो जाएं तो भूख ज्‍यादा लगाने लगती और महिलाओं में मोटापे के साथ दूसरी समस्‍याएं भी होने लगती हैं।

beginners postpartum workout

इस समय में दौरान शरीर को सही शेप में बनाए रखना महिलाओं की मुख्य चिंता होती है क्यों कि इस समय पाचन और लाइफ़स्टाइल दोनों में इतने बदलाव हो जाते हैं कि अधिकतर महिलाएं प्रेग्नेंसी के बाद मोटी हो जाती है। जिस वजह से कई बार महिलाएं प्रेगनेंसी के बाद डिप्रेशन का शिकार भी हो जाती हैं। लेकिन आज हम प्रेगनेंसी के बाद महिलाओं के लिए कुछ आसान और काम के टिप्‍स लेकर आएं है जिससे वो घर बैठे काफी हद तक वजन कम कर सकती हैं।

बनाएं डेली प्‍लान

बनाएं डेली प्‍लान

डिलीवरी के बाद महिलाओं की जिम्‍मेदारी बढ़ जाती हैं, बेबी की केयर करने के अलावा घर के दूसरे काम। इसलिए बहुत जरुरी है कि महिलाएं पहले अपने लिए डेली रुटीन बनाएं, सुबह उठने से लेकर रात के सोने तक की सारी एक्टिविटिज को शेड्यूल करें। इसके अनुसार महिलाएं अपने लिए डाइट और एक्‍सरसाइज प्‍लान करें।

ब्रिस्‍क वॉकिंग

ब्रिस्‍क वॉकिंग

प्रेगनेंसी और डिलीवरी के बाद एकदम से भारी एक्‍सरसाइज न करें। सबसे पहले वॉक से शुरु करें। शुरु के एक से तीन हफ्तें एक्‍सरसाइज करें।

तेजी से चलना आपके लिये एक बहुत ही अच्‍छी एक्‍सरसाइज हो सकती है। यह सेफ भी है और यह आपकी थकी हुई मसल्‍स को वार्म अप कर सकता है। आप उतनी मजबूत नहीं हैं कि आप दौड़ सकें, इसलिये ब्रिस्‍क वॉकिंग करना अच्‍छा रहेगा।

 कैलोरी का ध्यान रखें

कैलोरी का ध्यान रखें

अक्सर देखा गया है कि गर्भावस्था के दौरान महिलाएं खाने की मात्रा लगभग दुगनी कर देती हैं। लोग कहते हैं कि इस समय उसे दो लोगों का पेट भरना है इसलिए ज्यादा खाना चाहिए, यह बात गलत है। उसे सिर्फ थोड़ी सी ज्यादा कैलोरी की आवश्यकता होती है। बेस्‍टफीडिंग कराने के लिए आपको बेहद पौष्टिक आहार लेना पड़ता है। एक अच्‍छी डाइट से भी आप वजन कम कर सकती है। इसलिए जो भी खाएं पौष्टिक खाएं और जंक फूड से बचे। मोनो और पॉलीसैचुरेटिड फैट शरीर के लिये अच्‍छे होते हैं। एवोकाडो, कनोला ऑयल, ऑलिव ऑयल, साल्‍मन और बीज आदि का वसा अच्‍छा माना जाता है।

स्‍तनपान कराए

स्‍तनपान कराए

स्‍तनपान नवजात शिशुओं के लिए काफी फायदेमंद होता है और साथ ही प्रेग्‍नेंसी के दौरान महिलाओं में फैट और केलोस्‍ट्रॉल बढ़ जाता है। इसलिए महिलाओं को स्‍तनपान करवाते रहना चाहिए जिससे शरीर का मेटाबॉलिज्‍म पहले की तरह काम करता है और इससे फैट कम होता है।

गर्म पानी पीएं

गर्म पानी पीएं

अपनी डेली रुटीन में गर्म पानी को शामिल करें, गर्म पानी को पीने से विषाक्‍त पदार्थ शरीर से बाहर निकलते हैं। इससे हमारे शरीर का तापमान भी बढ़ता है और मेटाबॉलिज्‍म की रेट भी बढ़ती हैं। जिससे केलोरी ज्‍यादा से ज्‍यादा बर्न होती हैं। इसलिए रोजाना सादे पानी की जगह गर्म पानी पीने क‍ी आदत डालें।

योगा करें

योगा करें

प्राणायाम जैसे योगासन आपको जल्दी वजन कम करने में मदद करेंगें । योग क्लासेज में शामिल हों और सामान्य योग से शुरुआत करें। यह आपके शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य के लिए बहुत अच्छा है। सेतु आसान जैसे योग का सहारा ले इससे जल्‍दी फैट गायब हो जाता हैं।

स्‍पॉट जॉगिंग

स्‍पॉट जॉगिंग

वे महिलाएं जो बच्‍चे को बाहर छोड़ कर नहीं जा सकती हैं, वे घर में रह कर ही एक ही जगह पर खड़ी हो कर जॉगिंग कर सकती हैं। आप एक जगह पर खड़ी होकर दौड़ने वाली मुद्रा बनाकर वहीं स्‍पॉट रनिंग करती रहें, साथ ही साथ गिनती भी रहें कि आप कितनी देर से स्‍पॉट रनिंग कर रही हैं। या घर पर ट्रेडमिल है तो उस पर टाइमिंग फिक्‍स करके रनिंग कर सकती हैं।

रस्‍सीकूद

रस्‍सीकूद

प्रेगनेंसी के बाद बेड से उठने में दो से तीन महीनें का समय लग जाता हैं। एक बार जब आपके शरीर में थोड़ी जान आ जाए तब आप रस्‍सी कूद सकती हैं। इससे पैर की मांसपेशियों से वजन कम होगा। इससे आपके पावं फिर से टोंड होने लगेंगे।

ऐरोबिक्‍स

ऐरोबिक्‍स

डिलीवरी के बाद जिम में जाकर भारी भरकम कसरत और कॉर्डियों करने में काफी समय लग जाता हैं। इसलिए आप ऐरोबिक्‍स का सहारा ले सक‍ती हैं। इससे न सिर्फ वजन कम होगा बल्कि शरीर पर ज्‍यादा जोर नहीं पड़ेगा और आप स्‍ट्रेस फ्री भी महसूस करेंगी।

स्विमिंग

स्विमिंग

प्रेगनेंसी के बाद पूल में तैरने से आपको काफी रिलैक्‍स फील होगा। मोटापा घटाने के लिये आप तैराकी कर सकती हैं, इससे मांसपेशियों पर काफी असर पड़ेगा और इसे आप काफी हद तक एंजॉय भी करेंगी। लेकिन जिन महिलाओं की सिजेरियन डिलीवरी हुई हैं वो एक बार डॉक्‍टर से जरुर इस बारे में सलाह ले लें।

डॉक्‍टर से जरुर करें कसंल्‍ट

डॉक्‍टर से जरुर करें कसंल्‍ट

आप अगर प्रेगनेंसी के कुछ ही महीनों बाद जैसे 2 या 3 महीनों बाद एक्‍सरसाइज शुरु कर रही हैं तो एक बार डॉक्‍टर से इस बारे में जरुर कसंल्‍ट क‍र लें। क्‍यूंकि मोटापा जाना भी बॉडी टू बॉडी निर्भर करता हैं। इसके अलावा आपकी नॉर्मल डिलीवरी है या फिर सिजेरियन इस बात पर भी एक्‍सरसाइज और डाइट प्‍लान निर्भर करता हैं। इसलिए एक बार इस बारे में डॉक्‍टर से जरुर कंसल्‍ट करें।

English summary

ten best way to lose baby fat after delivery

Maintaining the shape is not an easy task when you are pregnant. Here we may discuss some easy and effective techniques to lose fat in your legs after pregnancy.
Story first published: Wednesday, March 21, 2018, 12:33 [IST]