For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS  
For Daily Alerts

शादी से पहले कराएं मेडिकल कुंडली का मिलान, जिदंगी भर रहेगा साथ

|

हिंदू धर्म में शादी से पहले कुंडली मिलान किया जाता है। ज्योतिष शास्त्र के अनुसार शादी से पहले कुंडली मिलान बेहद जरुरी होता है। कुंडली मिलान के बाद ही रिश्ता पक्का होता है। अच्छी कुंडली मिलान होने से माना जाता है कि रिश्ते ज्यादा टिकते है और शादी लंबी चलती है, आजकल के समय में गुणों की जगह मेडिकल कुंडली का मिलान जरुरी है। चलिए जानते हैं शादी से पहले मेडिकल कुंडली का मिलान क्यों जरुरी है।

क्या है मेडिकल कुंडली

क्या है मेडिकल कुंडली

मेडिकल कुंडली शादी से पहले करनी चाहिए। इस कुंडली में मेडिकल रिपोर्ट, बीमारी से जुड़ी सभी तरह की बातें शामिल होती है। कई बार शादी के दौरान लड़के वाले या फिर लड़की वाले किसी बीमारी के बारे में बात नहीं बताते है, लेकिन शादी के बाद राज बाहर आ जाता है जिससे नए दम्पत्ति का रिश्ता खराब हो जाता है, कई बार रिश्ता टूट भी जाता है क्योंकि राज बाहर आने से भरोसा टूट जाता है, इसलिए शादी से पहले मेडिकल कुंडली का मिलान जरुरी है।

क्या आपकी पत्नी का भी चढ़ा रहता है पारा? इन तरीकों से करें उन्हें डील

शादी से पहले क्यों जरुरी है मेडिकल जांच

शादी से पहले क्यों जरुरी है मेडिकल जांच

शादी से पहले मेडिकल जांच बहुत जरुरी है क्योंकि शादी के पहले ऐसी कोई बात छिपाकर आप किसी परिवार और व्यक्ति के फ्यूचर के साथ खिलवाड़ नहीं करना चाहिए। शादी से पहले मेडिकल जांच लड़का और लड़की दोनों के लिए जरुरी है। शादी से पहले कराएं ये जांच

- ब्लड संबंधी जांच

- प्रजनन क्षमता

- यौन संक्रमण की जांच

- जेनेटिक जांच

-किसी बीमारी और दवाओं के बारे में जानकारी देना

शादी एक लंबा रिश्ता होता है शादी के बाद नया परिवार मिलता है ऐसे में जितनी सच्चाई होगी रिश्ता उतना ही मजबूत होगा।

कोरोना के दौर में पड़ गई है शादी की डेट तो इन बातों को ध्यान में रखकर इस दिन को बनाएं स्पेशल

इन बातों का रखें ध्यान

इन बातों का रखें ध्यान

रिश्ता लंबा समय तक बना रहे ऐसे में शादी से पहले कुछ बाते स्पष्ट होनी चाहिए। रिश्ता होने से पहले मेडिकल स्थिती स्पष्ट होनी चाहिए जिससे आने वाले समय में किसी भी तरह की परेशानी ना हो। मेडिकल स्थिती के अलावा इन बातों की भी स्पष्टता भी जरुरी है।

- लड़की और लड़के को अपनी एजुकेशन के बारे में सच बताना चाहिए।

- लड़का और लड़की अपनी जॉब को लेकर भी स्पष्ट रहें।

- लड़का और लड़की को आर्थिक स्थिती स्पष्ट करनी चाहिए।

- शादी से पहले अपने पहनावे को लेकर भी स्पष्ट होना चाहिए। कई बार शादी के बाद पहनावे की वजह से घर में बहस होती है जिससे रिश्ते टूटते हैं।

मैट्रिमोनियल वेबसाइट ने की सारी हदें पार, वर्जिनिटी की गारंटी देने के लिए तैयार

शादी के लिए कुंडली में कितने गुण मिलने चाहिए?

कुंडली मिलान के दौरान 8 चीजों का मिलान होता है। 8 चीजें जैसे गण, नाड़ी, वर्ण, ग्रहमैत्री, वैश्य, योनी, भकूट और तारा इन्ही सब को मिलाकर कुछ 36 गुण बनते हैं। शादी के लिए 18 से कम गुण नहीं मिलने चाहिए। 22 से 24 गुण मिलना अच्छा माना जाता है। 36 गुण मिलना भी अच्छा नहीं माना जाता है। शादी के लिए 22 से 24 गुण मिलना बहुत ही अच्छा माना जाता है।

कुंडली मिलान क्या है?

कुंडली मिलान वर- वधु के जन्म कुंडली का मिलान है जिससे पता किया जा सकता है कि क्या विवाह सफल होगा या नहीं।

शादी के लिए कुंडली मिलान कैसे करें?

रिश्ता पक्का करने से पहले ज्योतिष की मदद से कुंडली मिलान किया जा सकता है। कुंडली मिलान के लिए लड़का- लड़की का नाम, उनकी जन्म तिथि, जन्म का समय और जन्म स्थान बताना होगा। इन सब जानकारी से कुंडली आसानी से बनाई जा सकती है जिससे कुंडली मिलान किया जाएगा।

English summary

Kundli Milan: Bride And Groom Match Medical Kundali For Marriage In Hindi

Kundli Milan: Bride And Groom Match Medical Kundali For Marriage In Hindi. Read On.
Story first published: Saturday, November 13, 2021, 16:02 [IST]