स्‍ट्रेच मार्क्‍स हो या झुर्रियां, हर स्किन प्रॉब्‍लम को हल करती है कैंडल हॉट वैक्‍स मसाज

Subscribe to Boldsky

अगर आप झुर्रियों और स्‍ट्रेक्‍च मार्क्‍स से परेशान है तो कैंडल हॉट वैक्‍स मसाज को ट्राय करें। प्राचीनकाल में रानी-महारानियां अपनी खूबसूरती बरकरार रखने के ल‍िए इस नुस्‍खें को अपनाती थी। जी हां जैसे की नाम से जाहिर हो रहा है कैंडल हॉट मसाज यानी मोमबती से पिछलकर आने वाली हॉट वैक्‍स से शरीर की मसाज की जाती थी। जो शरीर की कई समस्‍याओं को जड़ से ही मिटा देता है।

प्राचीन काल की ये मसाज तकनीक इन दिनों स्‍पा और सलून में ब्‍यूटी इन्‍हेच करने वाली टेक्निक में बहुत ज्‍यादा पॉप्‍युलर है। आइए जानते है इसके फायदों के बारे में।

कैंडल थेरेपी का तरीका

कैंडल थेरेपी का तरीका

इस थेरेपी में कैंडल यानी मोमबती को जलाकर पिघलाया जाता है। इसके बाद इससे न‍िकलने वाली वैक्‍स से बॉडी के विभिन्‍न ह‍िस्‍सों पर स्‍क्रब किया जाता है। स्‍क्रब के बाद हॉट टॉवल से बॉडी को रैप किया जाता है। इससे बॉडी से डेड स्किन को मॉइश्‍चराइज किया जाता है। फिर स्किन पर ब्राइटनिंग पैक लगाया जाता है। इसमें कैंडल के साथ जोजोबा ऑयल, कोकोआ बटर और विटामिन ई जैसे तेलों का मिश्रण होता है इसल‍िए ये मसाज शरीर के कई ब्‍यूटी से र‍िलेटेड समस्‍या को दूर करनेका बेहतरीन तरीका है।

त्‍वचा में लाए कसाव

त्‍वचा में लाए कसाव

कैंडल मसाज से एजलाइन छिपाने में मदद मिलती है। चेहरे पर पड़ने वाली झुर्रियों और ढीली स्किन की समस्‍या कम होती है और त्‍वचा में कसाव आता है। इसके अलावा ये मसाज थेरेपी वजन कम करने के बाद ढीली त्‍वचा में भी कसावट लाने का काम करती है।

 ब्‍लड सर्कुलेशन होता है प्रॉपर

ब्‍लड सर्कुलेशन होता है प्रॉपर

इसका सबसे बड़ा फायदा ये होता है कि इससे रक्‍त संचार सही ढंग से होता है, जिससे आपकी हेल्‍थ और ब्‍यूटी प्रॉब्‍लम दूर हो जाती है।

स्‍ट्रेच मार्क्‍स से मुक्ति

स्‍ट्रेच मार्क्‍स से मुक्ति

अगर प्रेगनेंसी के बाद आपके त्‍वचा पर स्‍ट्रेच मार्क्‍स रह गए है तो आप कैंडल वैक्‍स मसाज के जरिए इन स्‍ट्रेच मार्क्‍स का इलाज करवा सकते है।

मृत कोशिकाएं हटाएं और चमक बरकरार रखें

मृत कोशिकाएं हटाएं और चमक बरकरार रखें

कैंडल मसाज से न सिर्फ डेड स्किन को न‍िकाली जाती है, बल्कि ये चेहरे को नरिश भी करता है। इससे आपको चमकदार और बेदाग त्‍वचा भी मिलती है। इसके अलावा ये उम्र के साथ रुखी त्‍वचा की चमक को भी बढ़ाता है।

सायरोसिस, खुजली और जलन को दूर करें

सायरोसिस, खुजली और जलन को दूर करें

इस मसाज की तकनीक में मोमबती की मोम के अलावा कई और सामग्रियों का इस्‍तेमाल किया जाता है। जिससे आपकी स्किन रिलेटेड कई समस्‍याओं का हल होता है। जैसे सायरोसिस, खुजली और जलन को ये कम करता है।

Winter Skin Care Tips: चेहरे की चमक बनाए रखने के लिए सर्दियों में न लगाएं ये 5 चीजें | Boldsky
कैंडल मैनीक्‍योर और पेडीक्‍योर

कैंडल मैनीक्‍योर और पेडीक्‍योर

कैंडल मसाज थेरेपी से आप मेनीक्‍योर और पेडीक्‍योर भी ले सकते हैं। इसमें नाखूनों को फाइल, शेपिंग, क्‍यूटल पर क्रीम लगाने और सफाई शामिल होती है। इस ट्रीटमेंट में कैंडल की हॉट वैक्‍स को मैनीक्‍योर और पेडीक्‍योर में शामिल किया जाता है। जो सर्दियों में आपके हाथ पांव की त्‍वचा को नमी युक्‍त रखता है।

For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS
For Daily Alerts

    English summary

    Benefits of a Hot Wax Candle Massage

    Candle massage also is for amazing mothers, to reduce stretch marks followed by pregnancy. We offer all kind of massage techniques from traditional and ancient style to modern. One of these not very new methods is Candle massage
    Story first published: Saturday, December 15, 2018, 9:00 [IST]
    We use cookies to ensure that we give you the best experience on our website. This includes cookies from third party social media websites and ad networks. Such third party cookies may track your use on Boldsky sites for better rendering. Our partners use cookies to ensure we show you advertising that is relevant to you. If you continue without changing your settings, we'll assume that you are happy to receive all cookies on Boldsky website. However, you can change your cookie settings at any time. Learn more