For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS  
For Daily Alerts

झड़ते बालों की वजह से बढ़ रहा है गंजापन तो ये तिब्बती आयुर्वेदिक नुस्खा दे सकता है राहत

|

बालों से जुड़ी समस्या में बालों का टूटना और झड़ना शायद सबसे आम है जिससे दुनियाभर के लोग परेशान हैं। वैसे तो एक दिन में 100 बालों का टूटना सामान्य माना जाता है लेकिन जब इनकी गति बढ़ जाती है तब चिंतित होना लाजमी है। बदलती लाइफस्टाइल और खानपान में लापरवाही इसके मुख्य कारण हैं। इसके अलावा मिनरल्स की कमी, हेयर प्रोडक्ट्स में मौजूद केमिकल्स, दवाएं, प्रदूषण और स्ट्रेस के कारण भी बाल झड़ने की प्रॉब्लम होती है। पुरुषों में बाल झड़ने की वजह उनका हेलमेट पहनना भी होता है।

बढ़ती उम्र में इस तरह की समस्याएं आती थी लेकिन अब कम उम्र के लड़के और लड़कियों में बाल झड़ने और गंजेपन की समस्या देखने को मिल रही है। अगर आप भी टूटते बाल और उसकी वजह से बढ़ते गंजेपन की समस्या से जूझ रहे हैं तो तिब्बत का ये आसान सा आर्युवेदिक इलाज आपको राहत दे सकता है। तिब्बत के लोगों के स्वस्थ और सेहतमंद बालों का शायद यही राज है।

झड़ते बालों के लिए वरदान है ये तिब्‍बती नुस्‍खा

झड़ते बालों के लिए वरदान है ये तिब्‍बती नुस्‍खा

बालों से जुड़ी समस्या के समाधान में तिब्बत का ये नुस्खा बेहद लाभदायक है। इस आयुर्वेदिक उपाय में कई तरह की जड़ी-बूटियों का मिश्रण होता है। इस नुस्खे के लिए शिकाकाई, अमरबेल, रतनजोत (अगर उपलब्ध हो), आंवला और रीठा का इस्तेमाल होता है। इन सबको सरसों के तेल के साथ इस्तेमाल में लाया जाता है। इस उपाय से कम उम्र में ही सफेद होते बाल और बालों के झड़ने आदि की समस्या का समाधान होता है।

Most Read: 1 या 2 घंटे, कितनी देर तक बालों में लगाकर रखना चाहिए ऑयलMost Read: 1 या 2 घंटे, कितनी देर तक बालों में लगाकर रखना चाहिए ऑयल

तिब्बती नुस्खा तैयार करने की विधि

तिब्बती नुस्खा तैयार करने की विधि

शिकाकाई, अमरबेल, आंवला और रीठा 25-25 ग्राम की बराबर मात्रा में ले लें। ये सभी चीजें आपको बाजार में आसानी से मिल जाएंगी। इन सब चीजों की खरीदारी के दौरान उनके उपयोग की आखिरी तारीख जांच लें। इन सभी चीजों को धोकर सूखा लें। अब इन्हें बारीक पीस लें। इन सबको पीसने के लिए मिक्सी के बजाय सील बट्टे का इस्तेमाल करना बेहतर रहेगा। इनका पाउडर बना लेने के बाद आप सारी चीजों को सरसों के शुद्ध तेल में मिलाकर रख दें। आप देखेंगे कि इस तेल का रंग कुछ ही दिन में लाल हो गया है और सारी औषधि नीचे बैठ गई है। आप ऊपर आ चुके तेल को सिर की मालिश के लिए प्रयोग में लाएं।

इस नुस्खे का कैसे करना है प्रयोग

इस नुस्खे का कैसे करना है प्रयोग

इस आयुर्वेदिक तेल का इस्तेमाल आप हर तीसरे दिन पर कर सकते हैं।

इस तेल से सिर की मालिश करने के बाद बालों को अच्छे से ढक लें।

स्कैल्प के मसाज से ब्लड सर्कुलेशन बेहतर होता है और बालों को पोषण मिलता है।

आप रात में इस तेल से सिर का मसाज करें और अगले दिन ऑर्गेनिक या माइल्ड शैम्‍पू से धो लें।

Most Read: एलोवेरा का ऐसे करेंगे इस्तेमाल तो जल्दी बढ़ेंगे बालMost Read: एलोवेरा का ऐसे करेंगे इस्तेमाल तो जल्दी बढ़ेंगे बाल

English summary

Tibetan Remedy for Hair Loss And Premature Graying

Tibet's natural simple Ayurvedic treatment can be beneficial for people suffering from hair fall or balding at an early age. Tibetans have been using this particular recipe to make their hair thick and dark.