मधुमेह के लक्षण

Posted By: Staff
Subscribe to Boldsky

मधुमेह एक सामान्य बीमारी है। जब खून में सूगर की मात्रा असामान्य रूप से बढ़ जाती है, तो हम इसके शिकार हो जाते हैं। यह बीमारी जिंदगी भर के लिए हो सकता है और साथ में कई दूसरी समस्याओं को भी जन्म दे सकता है।

मधुमेह से बचने का सबसे अच्छा तरीका यह है कि वक्त से पहले इसका पता लगाया जाए और जरूरी सावधानियां बरती जाए। आइए हम आपको बताते हैं मधुमेह के कुछ लक्षण के बारे में।

1. हमेशा पेशाब लगना

1. हमेशा पेशाब लगना

अगर आपको अक्सर पेशाब लगता है, तो हो सकता है आप मधुमेह की चपेट में हैं। खून में सूगर की मात्रा बढ़ने से इसकी ओस्मोलालिटी बढ़ जाती है, जिससे रक्तप्रवाह में तरल पदार्थ की मात्रा बढ़ जाती है। इससे किडनी पर ज्यादा दबाव बनता है, जिससे ज्यादा पेशाब का निर्माण होता है। यही वजह है कि मधुमेह के रोगी को अक्सर पेशाब की शिकायत रहती है।

2. ज्यादा प्यास लगना

2. ज्यादा प्यास लगना

मधुमेह के रोगी को हर समय प्यास लगने की शिकायत रहती है। चूंकि शरीर से ज्यादा मात्रा में पानी निकलता है, इसलिए इसे ज्यादा पानी की जरूरत होती है। ज्यादा प्यास लगने और ज्यादा पेशाब लगने को एक साथ मिलाकर मधुमेह की पहचान अच्छे से की जा सकती है।

3. धुंधला दिखाई देना

3. धुंधला दिखाई देना

मधुमेह के रोगी को देखने में भी परेशानी होती है। होता यह है कि शरीर में ग्लूकोज की ऊंची मात्रा खून और टिशू के साथ आंख के टिशू से भी तरल पदार्थ खींच लेता है। इससे आंख के देखने की क्षमता प्रभावित होती है। अगर मधुमेह का ईलाज न करवाया जाए तो आंख की रोशनी पूरी तरह से भी जा सकती है।

4. वजन कम होना

4. वजन कम होना

टाइप-1 मधुमेह का यह सबसे सामान्य लक्षण है। शरीर ऊर्जा के लिए फटी टिशू को तोड़ता है, जिससे कोशिकाओं को पर्याप्त ग्लूकोज नहीं मिलता है। नतीजतन वजन कम हो जाता है।

5. थकावट

5. थकावट

चूंकि शरीर सूगर का उपयोग ऊर्जा के लिए नहीं कर पाता है, इसलिए मधुमेह के रोगी को थकान और कमजोरी रहती है। कोशिकाएं इंसुलीन के बिना रक्तप्रवाह में मौजूद ग्लूकोज को अवशोषित नहीं कर पाती हैं, जिससे ऊर्जा का स्तर कम हो जाता है।

6. हाथों में संवेदनशून्यता

6. हाथों में संवेदनशून्यता

खून में सूगर की ज्यादा मात्रा नर्वस सिस्टम पर असर डालता है। अगर लंबे समय तक मधुमेह का पता न लगाया जाए तो हाथों सिहरन या संवेदनशून्यता की स्थिति बन जाती है।

7. खरोंच या कटना देरी से ठीक होना

7. खरोंच या कटना देरी से ठीक होना

यह सभी तरह के मधुमह का एक समान लक्षण है। खून में सूगर की ज्यादा मात्र से इम्यून सिस्टम ठीक से काम नहीं करता है। टिश्यू में पानी का अनियमित संतुलन से भी जख्म देरी से भरते हैं।

8. त्वचा में रूखापन

8. त्वचा में रूखापन

पेरीफेरल न्यूरोपेथी के कारण स्वेट ग्लांड का ठीक से काम नहीं करता है जिससे त्वाचा में रूखापन आता है और खुजलाहट होती है।

9. हमेशा भूख लगना

9. हमेशा भूख लगना

अगर आप ज्यादा व्यायाम नहीं कर रहे हैं और खान भी कम नहीं खा रहे है, बावजूद इसके अगर आप को भूख लगे तो समझ जाइए कि यह मधुमेह के लक्षण हैं।

10. मसूड़े का फूलना

10. मसूड़े का फूलना

मधुमेह शरीर को जर्म से लड़ने के मामले में कमजोर बना देता है। इनमें से ज्यादातर जर्म मुंह के जरिए शरीर में प्रवेश करते हैं। इससे मसूड़े के फूलने सहित कई तरह की समस्याएं पैदा हो जाती है। साथ ही जबड़े की हड्डी का क्षय होता है और कुछ समय बाद दांत भी झड़ने लगते हैं। इसकी भी संभावना रहती है कि मुंह में फोड़ा हो जाए। अगर मधुमेह होने से पहले किसी को दांतों की समस्या रहती है तो वह बाद में और भी बिगड़ जाती है।

English summary

Symptoms of Diabetes

The only way to treat diabetes is early detection and appropriate precautions. Read on to know more about the various symptoms of diabetes.
Story first published: Wednesday, September 18, 2013, 18:00 [IST]
Please Wait while comments are loading...