For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS  
For Daily Alerts

डायबिटीज और मोटापा कम करती है आंवला की चाय

|

स्वाद में खट्टा आंवला विटामिन सी का बहुत अच्छा स्रोत है। लोग घनें बालों के ल‍िए आंवले का तेल का इस्‍तेमाल करते हैं। लेक‍िन आंवला का सेवन डायबिटीज रोगियों के लिए बहुत अच्छा माना जाता है। आयुर्वेद में भी आंवला को डायबिटीज प्रबंधन में मददगार माना गया है। ऐसे में आज हम आपको आंवला की चाय के बारे में बताएंगे। यह एक आयुर्वेदिक हर्बल टी है, जो डायबिटीज समेत कई फायदों से भरपूर है।

डायबिटीज रोगियों के लिए फायदेमंद है आंवला

डायबिटीज रोगियों के लिए फायदेमंद है आंवला

स्वाद में खट्टा और कसैला आंवला डायबिटीज रोगियों के लिए बहुत फायदे की चीज है। इसमें पाए जाने वाले तत्व डायबिटीज और ब्लड शुगर को बढ़ने से रोकते हैं। इतना ही नहीं आंवला में फाइबर की भी भरपूर मात्रा होती है, जो रक्तप्रवाह में शुगर को क्रमिक या धीरे-धीरे रिलीज करने में सक्षम करते हैं। वहीं आंवले में पाए जाने वाला क्रोमियम ब्लड प्रेशर से लेकर ब्लड शुगर को कंट्रोल रखने में प्रभावी है

आंखों के लिए फायदेमंद

आंखों के लिए फायदेमंद

आंवला की चाय मोतियाबिंद, कलर ब्लाइंडनेस, ड्राई आईज सिंड्रोम या कमजोर नजर वालों के भी गुणकारी है। इसके अलावा इससे मानसून में होने वाली एलर्जी की समस्या भी नहीं होती।

दिल को रखे स्वस्थ

दिल को रखे स्वस्थ

इससे ब्लड सर्कुलेशन व कोलेस्ट्रॉल लेवल सही रहता है, जिससे आप दिल की कई बीमारियों से बचे रहते हैं। साथ ही इससे खून का थक्का नहीं बनता, जिससे हार्ट अटैक का खतरा कम होता है।

सर्दी-खांसी से राहत

इस चाय का सेवन मानसून में होने वाली सर्दी-खांसी, जुकाम व गले में खराश से भी राहत देता है। साथ ही इसका सेवन वायरल फीवर में भी फायदेमंद है।

फंगल इंफेक्शन और बैक्टीरिया

फंगल इंफेक्शन और बैक्टीरिया

आंवला में फंगल इंफेक्शन और बैक्टीरिया से लड़ने की ताकत होती है। यह हमारे शरीर में मौजूद जहरीले पदार्थों यानी टॉक्सिन को बाहर निकालने में मददगार होता है।

आंवले की चाय

अगर आपको डायबिटीज की समस्या है तो आपको सेंधा नमक के साथ कच्चे आंवले का सेवन करना चाहिए। इसके अलावा आप आंवला जूस, आवला चूर्ण या आंवले की चाय का सेवन कर सकते हैं। आइए जानते हैं इस चाय को बनाने का तरीका...

आंवले की चाय बनाने की विधि

आंवले की चाय बनाने के लिए एक पैन में डेढ़ या दो कप पानी डालकर आंच पर चढ़ा दें। जब पानी में उबाल आने लगे तो इसमें 1 चम्मच आंवला पाउडर और थोड़ा सा क्रश किया हुआ अदरक डाल दें। इसके अलावा आप पुदीने की 2 से 3 ताजी पत्तियां भी डाल सकते हैं। इन सभी मिश्रण को 2 मिनट तक उबालने के बाद आंच से उतार लें। अब छलनी के माध्यम से इसे छानकर चाय की तरह सेवन करें।

English summary

Amla Tea For Weight Loss and Diabetes

Made by boiling amla powder and ginger in water, amla tea is an all-season tea, which can be prepared and stored for everyday consumption.