मोटापा कम करने के लिए आज ही घर ले आएं आंवला और हल्दी जैसी ये 6 चीजें

Posted By: Staff
Subscribe to Boldsky

मोटापा आज की सबसे गंभीर समस्या है। इससे टाइप 2 डायबिटीज, जोड़ों का कमजोर होना और इम्युनिटी सिस्टम का कमजोर होना आदि समस्याओं का खतरा होता है।

नियमित रूप से जिम जाने या डायटिंग के बाद भी अगर आपका मोटापा कम नहीं हो रहा है, तो आपको कुछ आयुर्वेदिक उपचार बता रहे हैं, जिन्हें आप ट्राई कर सकते हैं।

1) आंवला

1) आंवला

इसमें एंटीऑक्सीडेंट होते हैं, जो शरीर से विषाक्त पदार्थों को बाहर निकालने में मदद करते हैं. इससे मेटाबोलिज्म बढ़ाने और कैलोरी बर्न करने में मदद मिलती है। इसके अलावा आंवला विटामिन सी का विशाल भंडार है। विटामिन सी इम्युनिटी सिस्टम को मजबूत बनाने के लिए आवश्यक है। रोजान सुबह नाश्ते से पहले दो चम्मच आंवला को पानी के साथ लें।

2) त्रिफला

2) त्रिफला

यह अमलाकी, बिभातीकी और हरिताकी का मिश्रण होता है। यह पाचन को बेहतर करके शरीर के वजन को बनाए रखने और वजन घटाने के लिए बेहतर चीज है। यह आपकी पाचन क्रिया को दुरुस्त रखता है जिससे आपका पेट साफ रहता है। रोजाना 1/2 चम्मच त्रिफला गर्म पानी के साथ खाना बेहतर होता है।

3) हल्दी

3) हल्दी

यह विटामिन बी, सी, पोटेशियम, सोडियम, आयरन, ओमेगा -3 फैटी एसिड, ए-लिनेलेनिक एसिड, प्रोटीन, कार्बोहाइड्रेट और फाइबर्स का बेहतर स्रोत है। इसमें फिबेर्स होने से आपका पेट भरा रहता है और आप ज्यादा खाने से बच जाते हैं। इसके अलावा इससे आपका मेटाबोलिज्म बढ़ता है और आपको वजन कम करने में मदद मिलती है। आपको रोजाना दो से तीन चम्मच हल्की खानी चाहिए। हालांकि इसे खाली पेट लेने से बचना चाहिए।

4) अदरक

4) अदरक

इसे खाने से आपका मेटाबोलिज्म बढ़ता है। मेटाबोलिज्म बढ़ने से आपको ज्यादा कैलोरी बर्न करने में मदद मिलती है। इसके अलावा, यह पाचन को बेहतर बनाता है और उत्तेजित करता है, जो चयापचय में वृद्धि के लिए महत्वपूर्ण है। अदरक और नींबू वजन घटाने के लिए एक बेहतर मिश्रण हैं। नींबू में एंटीऑक्सिडेंट का विशाल भंडार होता है, जो शरीर से विषाक्त पदार्थों को निकालता है। एक कप गर्म पानी में थोड़ा अदरक और नींबू डालकर पिएं। वजन घटाने के लिए इसे रोज सुबह पिएं।

5) गोटू कोला

5) गोटू कोला

यह एक औषधीय पौधा है जो परंपरागत औषधीय विज्ञानों में बहुत आम है। आयुर्वेद में, इसका उपयोग मूत्र मार्ग में संक्रमण (यूटीआई), शिंगले, कुष्ठ रोग, हैजा, पेचिश, सिफलिस, सामान्य सर्दी आदि जैसी बीमारियों के लिए एक शक्तिशाली औषधि के रूप में किया जाता है. यह वजन कम होने के बाद लटकने वाली त्वचा के इलाज के लिए सबसे बेहतर चीज है।

6) गुग्गुल

6) गुग्गुल

इसे कमॉफोरा वोइटी भी कहा जाता है। यह एक फूल का पौधा है जो वजन कम करने के लिए प्रभावी है. गुगल स्वाभाविक रूप से दो महत्वपूर्ण थायरॉयड हार्मोन ट्रायियोडायथोरोनिन या टी 3 और थायरोक्सिन या टी 4 का उत्पादन करता है। इन हार्मोन का थर्मोजेनिक प्रभाव होता है और मेटाबोलिज्म बढ़ता है। वजन घटाने के लिए, 30-60 मिलीग्राम गुगल्स्टरस्टोन की खुराक को तीन बार दैनिक रूप से लिया जाना चाहिए।

English summary

How To Treat Obesity With Ayurveda

Obesity is one of the major causes for other serious health issues. Know about a few ayurvedic remedies to treat obesity, here on Boldsky.
Story first published: Saturday, June 24, 2017, 11:45 [IST]
Please Wait while comments are loading...