OMG! करेला तो हेल्‍दी था ही अब इसकी पत्‍तियां भी कर सकती हैं इतनी बीमारियों को छू मतंर

Subscribe to Boldsky

भारत में हर तरह की साग और सब्जी उगाई जाती है, और उनका पूरी तरह से इस्तेमाल किया जाता है। फिर चाहे वह पेड़ से मिला फल हो या फिर उसकी पातियाँ। इसी तरह एक सब्जी है करेला जो खाने कड़वा होता है लेकिन यह हमारे शरीर के लिए उतना ही हैल्‍दी भी होता है। करेला एक औषधि के रूप में उपयोग किया जाता है। करेले की तासीर खुश्क होती है। करेला भूख और पाचनशक्ति को भी बढ़ाता है। करेला खाएं रोग को दूर भगाएं

Top 10 Health Benefits of Karela Leaves – Super Potent

तो सोचिये अगर करेले में इतने गुण हैं तो इसकी पत्तियां कितनी फायदेमंद होंगी। आज हम आपको इसकी पत्तियों के लाभ के बारे में बातएंगे। इसके पत्तो में विटामिन ए पाया जाता है और हाइपोग्लाइसेमिक के गुण होते हैं जिससे ब्लड शुगर लेवल नियंत्रण में रहता है। तो आइये जानते हैं इसके अन्य फायदों के बारे में।

1. ब्लड शुगर लेवल को नियंत्रण में रखना

डायबिटीज के लिए करेले की पत्तियां रामबाण इलाज है। इसकी पत्तियां खाने से शुगर का स्तर नियंत्रित रहता है। क्योंकि इसमें विसिन और पॉलीपेप्टाइड पी जैसे गुण पाये जाते हैं जो ब्लड शुगर लेवल को नियंत्रण में रखता है।

2. इसमें एंटी माइक्रोबियल गुण होते हैं

ऐसी बहुत सारी छोटी छोटी बीमारियां हैं जो मूलतः बैक्टीरिया, फंगल या वायरस से होती हैं। करेले के पत्तिओं में एंटी-माइक्रोबियल गुण होते हैं जो किसी भी तरह के त्वचा और पेट सम्बन्धी बीमारी नहीं होने देती हैं।

3. प्रतिरक्षा प्रणाली को मजबूत करे

करेले की पत्तियों में विटामिन ए, विटामिन सी और विटामिन बी कॉम्प्लेक्स अच्छी मात्रा में पाया जाता है। जिससे प्रतिरक्षा प्रणाली को मजबूत होती है। विटामिन ए और विटामिन सी अच्छे एंटी ऑक्सीडेंट्स हैं जबकि विटामिन बी आपके शरीर के चयापचय ठीक रखता है।

4. एचआईवी का इलाज

करेले की पत्तिओं में प्रतिरक्षा प्रणाली को स्वस्थ और निरोगी रखने के गुण होते हैं। इसीलिए यह एचआईवी के वायरस को खत्म करने में सहायक है। क्योंकि एचआईवी का वायरस शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता को खत्म करदेता है। जिससे व्यक्ति की मृत्यु हो जाती है।

5. कैंसर का उपचार करे

रोजाना करेले की पत्तियां खाने से किसी भी तरह के कैंसर को ठीक किया जा सकता है। कैंसर से कोशिकाएं नष्ट हो जाती हैं। करेले की पत्तियाँ में मौजूद एंटी- कैंसर कम्पोनेंट्स कैंसर पैदा करने वाली कोशिकाओं में ग्लूकोस का पाचन रोक देते हैं जिससे इन कोशिकाओं की शक्ति ख़त्म हो जाती है और कैंसर की संभावना भी।

6. मलेरिया से बचाये

करेले की पत्तियों के सेवन से मलेरिया का उपचार करने में मदद मिलती है। क्योंकि जितने भी कड़वे पत्तों वाले साग होते हैं वे मलेरिया जैसे रोगों से बचते हैं। इसमें एंटी इन्फ्लैमटॉरी और अस्ट्रिन्जन्ट के गुण होते हैं जिससे मलेरिया के बुखार को कम किया जा सकता है।

7. दाद का इलाज करे

करेले के पत्ते का रस और गुलाब जल मिलाकर लगाने से दाद तुरन्त ठीक हो जाता है। क्योंकि इसमें शक्तिशाली एंटी-इन्फ्लमेशन गुण होते हैं जो दाद का संक्रमण बढ़ने नहीं देता है।

8. उच्च रक्तचाप को रोके

उच्च रक्तचाप में करेले की पत्तियों को रोज़ खाने से रक्तचाप सामान्य रहता है। इनमे पोटैशियम और कैल्शियम पाया जाता है। पोटैशियम और कैल्शियम की मात्रा बढ़ाकर रक्तचाप कम किया जा सकता है। ये मिनरल्स उच्च रक्तचाप के जिम्मेदार सोडियम का स्तर बढ़ने से किडनी को होने वाले नुक्सान से बचाव करते हैं।

9. प्राकृतिक गर्भनिरोधक

पीरियड के पांचवें दिन करेले के पत्तों का रस पीने से गर्भ नहीं ठहरता है। क्योंकि इसमें एक तरह का प्रोटीन होता है जिससे पुरुष और महिलाओं में गर्भनिरोधक के रूप में काम करता है।

10. विषाक्त पदार्थों को शरीर से बाहर करे

खून में गंदगी होने से सबसे ज्यादा वायरस हमारे शरीर को बीमारी फैलते हैं। जिसमे सर दर्द, कमजोरी, थकान, एलेर्जी की समस्या आम है। करेले की पत्तिओं का रस पीने से खून साफ़ होता है। इसके सेवन से शरीर स्वस्थ होने के साथ-साथ, त्वचा के मुहांसे, दाग-धब्बे की समस्या भी ख़त्म हो जाती है।

11. हो सकता है ब्‍लड शुगर डाउन

करेले की पत्‍तियां मधुमेह कंट्रोल करने में लाभकारी होती हैं लेकिन इसे मधुमेह की दवाई के साथ नहीं लिया जाना चाहिये क्‍योंकि इससे ब्‍लड शुगर काफी गिर सकता है।

12. एलर्जी भी हो सकती है

इससे कई लोंगो को एलर्जी भी हो सकती है, इसलिये इसे थोड़ी सावधानी से लेना चाहिये।

13. गर्भवती महिलाएं ना लें

इसे प्रेगनेंट महिलाओं को लेने से मना किया जाता है क्‍योंकि इससे मिसकैरेज हो सकता है।

For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS
For Daily Alerts

    English summary

    Top 10 Health Benefits of Karela Leaves

    Health benefits of karela leaves which have been well known as effective home remedy. You may eat immature Karela Leaves raw (as juice) or can cook it as vegetable. The juice is taken as medicine for treating many clinical conditions including diabetes.
    Story first published: Thursday, December 21, 2017, 15:00 [IST]
    We use cookies to ensure that we give you the best experience on our website. This includes cookies from third party social media websites and ad networks. Such third party cookies may track your use on Boldsky sites for better rendering. Our partners use cookies to ensure we show you advertising that is relevant to you. If you continue without changing your settings, we'll assume that you are happy to receive all cookies on Boldsky website. However, you can change your cookie settings at any time. Learn more