सुबह उठकर चलने पर एड़ियों में होता है तेज दर्द, तो आप हैं इस गंभीर रोग के शिकार

Posted By: Staff
Subscribe to Boldsky

प्लांटर फेशिया ऊतकों का वह समूह होता है जो आपकी एड़ियों की हड्डी को पैर के अंगूठे से जोड़ता है। कई बार इसके डैमेज हो जाने के कारण मरीज को चलने फिरने में तकलीफ होने लगती है। इस समस्या को प्लांटर फेशिआइटिस (Plantar fasciitis) कहते हैं।

एक रिसर्च के अनुसार एड़ियों और पैरों में दर्द की समस्या से पीड़ित मरीजों में लगभग 50% मरीज प्लांटर फेशिआइटिस से पीड़ित रहते हैं। ज्यादा वजन बढ़ जाने या फिर गलत ढंग से ज्यादा चलने के कारण यह समस्या होती है।

आमतौर पर गर्भवती महिलायें और एथलीट इस समस्या से ज्यादा पीड़ित रहते हैं। इसका पूरी तरह इलाज होना थोडा मुश्किल है लेकिन फिर भी कुछ एक्सरसाइज करके आप इसके दर्द को काफी हद तक कम कर सकते हैं।

इस आर्टिकल में हम आपको ऐसी ही तीन एक्सरसाइज के बारे में बता रहे हैं।

 1 –

1 –

एक तौलिये को मोड़कर अपने तलवों के नीचे रख लें। अब एड़ियों को ऊपर की तरफ उठायें और फुट को स्ट्रेच करें। इस पोजीशन में 15-30 सेकंड तक बने रहें और फिर दूसरे पैर से इस पूरी प्रक्रिया को दोहरायें।

2-

2-

एक पैर को दूसरे पैर के ऊपर रख लें और फिर अंगूठे पर दवाब बनाते हुए एड़ी को ऊपर की तरफ खींचें। इस पोजीशन में कम से कम 15 सेकंड तक बने रहें और फिर इस पूरी प्रक्रिया को दूसरे पैर से दोहरायें।

3-

3-

पैर के तलवे के नीचे एक पानी की बोतल रख लें। अब इसे तलवों की मदद से एक मिनट तक रोल करें और फिर यही प्रक्रिया दूसरे पैर से दोहरायें।

 इन तीन एक्सरसाइज के अलावा हम आपको प्लांटर फेशिआइटिस से बचने के कुछ और आसान टिप्स बता रहे हैं।

इन तीन एक्सरसाइज के अलावा हम आपको प्लांटर फेशिआइटिस से बचने के कुछ और आसान टिप्स बता रहे हैं।

वार्म अप: किसी भी एक्सरसाइज को करने से पहले वार्म एक्सरसाइज ज़रूर करें। इससे मांसपेशियों में खिंचाव और इंजरी की संभावना कम हो जाती है।

नियमित एक्सरसाइज:

नियमित एक्सरसाइज:

प्लांटर फेशिआइटिस की समस्या से बचने के लिए रोजाना एक्सरसाइज करना बहुत ज़रूरी है। नियमित व्यायाम से आपके जोड़ों और मांसपेशियों में खिंचाव होता है और वे लचीले हो जाते हैं जिससे किसी तरह की इंजरी होने की संभावना घट जाती है।

 शरीर का वजन :

शरीर का वजन :

शरीर के वजन को हमेशा कंट्रोल में रखें। वजन ज्यादा बढ़ जाने के कारण ही पैरों पर दवाब बढ़ जाता है जिससे उनमें दर्द होने लगता है और पैरों की मांसपेशियां कमजोर पड़ने लगती हैं।

अच्छी क्वालिटी के जूते चप्पल पहनें:

अच्छी क्वालिटी के जूते चप्पल पहनें:

पैरों के उचित स्वास्थ्य के लिए सही फुटवियर का चुनाव करना सबसे ज़रूरी है। कभी भी अपने उपयुक्त साइज़ से छोटे या बड़े साइज़ के जूते चप्पल न पहनें। इससे पैरों में दर्द बढ़ जाता है। इसके अलावा लड़कियां हाई हील वाली चप्पलें ना पहनें क्योंकि इससे एड़ियों पर अतिरक्त दवाब पड़ने लगता है।

 पैरों को आराम दें:

पैरों को आराम दें:

दिन भर ऑफिस और घर की भागदौड़ में आपके पैर पूरी तरह थक जाते हैं। इसलिए कभी भी ज्यादा चलने के बाद थोडा रेस्ट ज़रूर करें जिससे पैरों को आराम मिले।

English summary

Does your heel hurt in the morning? Here is what you need to know!

Plantar fasciitis is associated with weight gain and repetitive motion, which is why it usually affects pregnant women or athletes.
Story first published: Wednesday, June 14, 2017, 18:45 [IST]
Please Wait while comments are loading...